Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजअब मध्य प्रदेश के गुना में मुनव्वर राना पर FIR, महर्षि वाल्मीकि से की...

अब मध्य प्रदेश के गुना में मुनव्वर राना पर FIR, महर्षि वाल्मीकि से की थी तालिबान की तुलना

राना के बयान को वाल्मीकि समाज ने हिन्दुओं की आस्था के साथ किया गया खिलवाड़ बताया था। इसके बाद लखनऊ के हजरतगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी।

महर्षि वाल्मीकि से तालिबान की तुलना करने के मामले में शायर मुनव्वर राना की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। मध्य प्रदेश के गुना में सोमवार (23 अगस्त 2021) को उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि भाजपा अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के राज्य सचिव सुनील मालवीय समेत वाल्मीकि समाज के कई लोगों ने शिकायत की थी।

मालवीय का आरोप है कि विवादित शायर ने महर्षि वाल्मीकि पर टिप्पणी कर न केवल उनका अपमान किया है, बल्कि वाल्मीकि समुदाय और हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का काम किया है। गुना के पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा ने बताया कि राना के खिलाफ कोतवाली थाने में मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि राना ने बीते 19 अगस्त को न्यूज नेशन से बात करते हुए महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबान से कर दी थी। विवादित शायर ने तालिबानियों को ‘अफगानी’ कहने की वकालत करते हुए कहा कि कल को वो बादशाह होंगे तो हमारा दूतावास वहाँ खुलेगा और वहाँ हमारे लोग व्यापार करेंगे। उन्होंने ‘तालिबान’ को एक ‘अच्छा लफ्ज’ बताते हुए कहा कि इसका मतलब होता है ‘छात्र’, अर्थात पढ़ने वाला।

इसके साथ ही राना ने कहा था, “वाल्मीकि रामायण लिख देता है तो वो देवता हो जाता है, उससे पहले वो डाकू होता है। इंसान का कैरेक्टर बदलता रहता है। वाल्मीकि का जो इतिहास था, उसे तो हमें निकालना पड़ेगा न। हमें तो अफगानी अच्छे लगते हैं। वाल्मीकि को आप भगवान कह रहे हैं, लेकिन आपके मजहब में तो किसी को भी भगवान कह दिया जाता है। वो लेखक थे। उनका काम था रामायण लिखना, जो उन्होंने किया।”

राना के इस बयान को वाल्मीकि समाज ने हिन्दुओं की आस्था के साथ किया गया खिलवाड़ बताया था। इसके बाद राना के खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई गई। शिकायत के आधार पर पुलिस ने राना के खिलाफ SC/ST एक्ट और धारा 153A, 295A और 501(1)(B) के अंतर्गत केस दर्ज किया था। अब मध्य प्रदेश के गुना में दर्ज किए गए केस को भी लखनऊ के हजरतगंज ट्रांसफर किया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मौलाना कलीम सिद्दीकी को यूपी ATS ने मेरठ से किया गिरफ्तार, अवैध धर्मांतरण के लिए की हवाला के जरिए फंडिंग

यूपी पुलिस ने बताया कि मौलाना जामिया इमाम वलीउल्लाह ट्रस्ट चलाता है, जो कई मदरसों को फंड करता है। इसके लिए उसे विदेशों से भारी फंडिंग मिलती है।

60 साल में भारत में 5 गुना हुए मुस्लिम, आज भी बच्चे पैदा करने की रफ्तार सबसे तेज: अमेरिकी थिंक टैंक ने भी किया...

अध्ययन के अनुसार 1951 से 2011 के बीच भारत की आबादी तिगुनी हुई। लेकिन इसी दौरान मुस्लिमों की आबादी 5 गुना हो गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,707FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe