Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़: गैंगरेप पीड़िता ने लगा ली फाँसी, पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR; पीड़ित...

छत्तीसगढ़: गैंगरेप पीड़िता ने लगा ली फाँसी, पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR; पीड़ित पिता ने भी की सुसाइड की कोशिश

घटना छत्तीसगढ़ के कोंडागाँव जिले की है। गैंगरेप की घटना 19 जुलाई को हुई थी। उसके अगले दिन पीड़िता ने आत्महत्या कर ली थी। अब इस मामले में पीड़ित पिता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है।

छत्तीसगढ़ में इस साल जुलाई में एक नाबालिग गैंगरेप पीड़िता ने आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में शिकायत दर्ज करने में पुलिस की आनकानी से परेशान होकर पीड़िता के पिता ने भी 7 अक्टूबर 2020 को अपनी जान लेने की कोशिश की। मामले के तूल पकड़ने के बाद अब 17 वर्षीय पीड़िता का शव निकाला गया है।

घटना छत्तीसगढ़ के कोंडागाँव जिले की है। गैंगरेप की घटना 19 जुलाई को हुई थी। उसके अगले दिन पीड़िता ने आत्महत्या कर ली थी। अब इस मामले में पीड़ित पिता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है।


कोंडागाँव जिले के पुलिस अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि हमें स्थानीय मीडिया में आई खबरों से सूचना मिली है कि धनोरा थाना क्षेत्र में 19 जुलाई को सात लोगों ने नाबालिग किशोरी को एक शादी समारोह से अगवा कर उसके साथ कथित रूप से गैंगरेप किया था। इसके बाद पीड़िता ने सुसाइड कर ली। पहले बताया जा रहा था पाँच लोगों ने दुष्कर्म किया, लेकिन अब परिवार की तरफ से दी गई जानकारी में कहा गया है कि 7 लोगों ने दुष्कर्म किया था।

बस्तर रेंजर के आईजी ने बताया कि पीड़िता की ओटॉप्सी रिपोर्ट का इंतजार है। नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स के चेयरपर्सन यशवंत जैन ने कोंडागाँव एसपी को पत्र लिखकर 10 दिनों के भीतर इस मामले में जाँच की विस्तृत रिपोर्ट माँगी है। अधिकारियों ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि इससे पहले पुलिस को घटना की जानकारी नहीं थी।

पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज ने बताया कि शव को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। तीन आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामले की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, कोंडागाँव के नेतृत्व में पाँच सदस्यीय विशेष अनुसंधान टीम का गठन किया गया है।

बताया जा रहा है कि शादी समारोह से दो युवक लड़की को अगवा कर जंगल की तरफ ले गए थे। वहाँ पहले से 5 युवक मौजूद थे। बारी-बारी से 7 युवकोंं ने उसका बलात्कार किया। रेप के बाद पीड़िता को अपने साथ हुए इस घटना की जानकारी किसी को नहीं देने की चेतावनी दी। अगले दिन पीड़िता ने फाँसी लगा ली। इसके बाद उसकी सहेली ने इस घटना की जानकारी उसके परिजनों को दी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

चौटाला से मिल नीतीश पहुँचे पटना, कुशवाहा ने बता दिया ‘पीएम मैटेरियल’, बीजेपी बोली- अगले 10 साल तक वैकेंसी नहीं

कुशवाहा के बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा नेता सम्राट चौधरी ने कहा कि अगले दस साल तक प्रधानमंत्री पद के लिए कोई वैकेंसी नहीं हैं

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,651FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe