Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाजसमय पर होंगे लोकसभा चुनाव, तारीख़ों की घोषणा जल्द : चुनाव आयोग

समय पर होंगे लोकसभा चुनाव, तारीख़ों की घोषणा जल्द : चुनाव आयोग

चुनाव आयोग ने भरोसा दिलाया कि आम चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से सम्पन्न किये जाएँगे इसके लिए आचार संहिता का कड़ाई से पालन होगा। देश में किसी भी तरह कि शिक़ायत पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी।

भारत-पाकिस्तान सीमा पर बढ़ते तनाव के चलते अटकलें लगाई जा रहीं थी कि आगामी लोकसभा चुनाव में कहीं किसी तरह का व्यवधान न उत्पन्न हो जाए। इन अटकलों पर विराम लगाते हुए चुनाव आयोग ने कहा है कि लोकसभा चुनाव अपने समय पर ही सम्पन्न होंगे और इसके लिए सभी तैयारियाँ पूरी की जा चुकी हैं।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर संवाददाओं को यह जानकारी दी कि देश में लोकसभा चुनाव अपने समय पर ही होंगे। आयोग जल्द ही लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर देगा। इसके अलावा उन्होंने चुनाव की तारीख़ आगे बढ़ाने की संभावनाओं का खंडन किया और बताया कि उन्होंने पिछले तीन दिनों तक ज़िलों और मंडल के शीर्ष प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। बता दें कि इस बैठक में प्रदेश के प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार भी शामिल हुए।

मुख्य चुनाव आयुक्त के नेतृत्व में निर्वाचन आयोग ने उत्तर प्रदेश में चुनावी तैयारियों का जायज़ा भी लिया। साथ ही अन्य राज्यों में चुनावी तैयारियों का जायज़ा लेने का ऐलान भी किया। चुनाव आयुक्त ने बताया कि चुनाव आयोग के साथ हुई बैठक में राजनीतिक दलों ने जातीय, साम्प्रदायिक भाषणों पर रोक लगाने, चुनाव के दौरान शत प्रतिशत केन्द्रीय बलों की तैनाती करने, वोटर लिस्ट में हुई गड़बड़ियों में सुधार करने समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई।

इस पर चुनाव आयोग ने भरोसा दिलाया कि आम चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से सम्पन्न किये जाएँगे, इसके लिए आचार संहिता का कड़ाई से पालन होगा। देश में किसी भी तरह कि शिक़ायत पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। शिक़ायत के लिए लोकसभा चुनाव के दौरान समूचे देश में ‘सी-विजिल’ मोबाइल एप्लीकेशन जारी किया जाएगा, इस पर कोई भी नागरिक चुनाव से संबंधित शिक़ायत दर्ज कर सकेगा।  

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) पर उठने वाले सवालों के जवाब में चुनाव आयोग ने कहा कि EVM मशीन को बेवजह ही फुटबॉल बना दिया गया है। चुनाव आयुक्त ने कहा कि यदि चुनाव के परिणाम मन मुताबिक न हो तो पूरी मशीन के अस्तित्व पर सवाल खड़े कर दिए जाते हैं जो कि ग़लत है। उन्होंने इस बात को स्पष्ट किया कि आगामी लोकसभा चुनाव EVM मशीन के माध्यम से ही सम्पन्न होंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नंगी तस्वीरें माँगता, ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती’: हिंदूफोबिक कॉमेडियन संजय राजौरा की करतूत महिला ने दुनिया को बताई

पीड़िता ने बताया कि वो इन सब चीजों को नजरअंदाज कर रही थी क्योंकि वह कॉमेडियन को उसके काम के लिए सराहती थी।

गुजरात में ‘लैंड जिहाद’ ऐसे: हिंदू को पाटर्नर बनाओ, अशांत क्षेत्र में डील करो, फिर पाटर्नर को बाहर करो

गुजरात में अशांत क्षेत्र अधिनियम के दायरे में आने वाले इलाकों में संपत्ति की खरीद और निर्माण की अनुमति लेने के लिए कई मामलों में गड़बड़ी सामने आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,920FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe