Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजCAB के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों के बीच गुवाहाटी, शिलॉन्ग में कर्फ्यू में दी गई...

CAB के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों के बीच गुवाहाटी, शिलॉन्ग में कर्फ्यू में दी गई ढील

हिंसक प्रदर्शन को नियंत्रित करने के लिए असम की राजधानी गुवाहाटी और अन्य स्थानों पर सेना और असम राइफल्स की आठ टुकड़ियाँ तैनात की गई हैं। कर्नल पी खोंगसाई ने बताया कि बिगड़ती कानून व्यवस्था को नियंत्रण में लाने के लिए गुवाहाटी, मोरीगाँव, सोनितपुर और डिब्रूगढ़ जिलों के नागरिक प्रशासन ने सेना और असम राइफल्स की माँग की है।

नागरिकता संशोधन बिल पास होने के बाद से ही उत्तर पूर्वी राज्यों में तनाव की स्थिति है। असम, मेघालय और त्रिपुरा के हालात काफी तनावपूर्ण हैं। असम में 22 दिसंबर तक स्कूल और कॉलेजों को बंद किया गया है। सेना और पुलिस की तैनाती के बावजूद लोग कर्फ्यू का उल्लंघन कर रहे हैं। इन प्रदेशों के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। इस बीच असम के गुवाहाटी में आज सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे के बीच कर्फ्यू में ढील दी गई है। हालाँकि सुरक्षा के मद्देनजर इंटरनेट सेवाएँ अभी भी बंद है। उधर कोहिमा में नगा स्टूडेंट्स फेडरेशन (NSF) ने आज 6 घंटे के लिए बंद का आह्वान किया है।

जानकारी के मुताबिक हिंसक प्रदर्शन को नियंत्रित करने के लिए असम की राजधानी गुवाहाटी और अन्य स्थानों पर सेना और असम राइफल्स की आठ टुकड़ियाँ तैनात की गई हैं। रक्षा जनसंपर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल पी खोंगसाई ने बताया कि बिगड़ती कानून व्यवस्था को नियंत्रण में लाने के लिए गुवाहाटी के अलावा मोरीगाँव, सोनितपुर और डिब्रूगढ़ जिलों के नागरिक प्रशासन ने सेना और असम राइफल्स की माँग की है। इस विधेयक के खिलाफ प्रदर्शनकारियों के हिंसा पर उतर जाने के बाद बुधवार को सेना बुलाई गई थी।

असम में नागरिकता संशोधन बिल पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मंजूरी के बाद अब कानून का रूप ले चुका है। इस बिल के विरोध की आवाज सबसे पहले असम से ही सुनाई दी थी। पिछले कुछ दिनों से असम में इस विरोध प्रदर्शन के दौरान कई जगहों पर आगजनी की घटनाएँ हुई हैं।

बता दें कि असम के हालातों को देखते हुए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे की गुवाहाटी में पीएम मोदी के साथ होने वाली मीटिंग को भी रद कर दिया गया है। विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार बताया कि जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे की प्रस्तावित भारत यात्रा के संदर्भ में दोनों पक्षों ने आम सहमति से फिलहाल यात्रा को टालने का निर्णय लिया है। गृह मंत्री अमित शाह का शिलॉन्ग दौरा भी रद्द कर दिया गया है। उन्हें रविवार को यहाँ एक कार्यक्रम में शामिल होना था।

वहीं नागरिकता अधिनियम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर मेघालय के शिलांग में भी लगाए गए कर्फ्यू में सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक ढील दी गई है। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe