Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजकुदरत का कहर: हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में फटा बादल, बाढ़ के हालात में...

कुदरत का कहर: हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में फटा बादल, बाढ़ के हालात में सड़कें और कई कारें क्षतिग्रस्त

सोशल मीडिया पर हिमाचल के चंबा का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें आप खुद कुदरत को कहर ढाते हुए देख सकते हैं। इसके अलावा कई तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें कार पत्थरों में धँसी हुई नजर आ रही है। पानी का बहाव काफी तेज है।

एक ओर देश में कोरोना की दूसरी लहर बेकाबू हो गई है। हर रोज कोरोना वायरस की चपेट में आकर लोग मर रहे हैं। दूसरी तर​फ हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में फिर से कुदरत का कहर देखने को मिला है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के मेहला ब्लॉक में मंगलवार (4 मई, 2021) को बादल फटा है। वहाँ मूसलाधार बारिश हो रही है। बारिश और बादल फटने से बाढ़ की स्थिति हो गई है। सड़कों के साथ कई कारें भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं। वहीं, उत्तराखंड के उत्तरकाशी के चिन्यालीसौड़ इलाके में सोमवार (3 मई, 2021) को बादल फटने से दहशत मच गई।

सोशल मीडिया पर हिमाचल के चंबा का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें आप खुद कुदरत को कहर ढाते हुए देख सकते हैं। इसके अलावा कई तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें कार पत्थरों में धँसी हुई नजर आ रही है। पानी का बहाव काफी तेज है।

कार पत्थरों में धंसी हुई

चंबा जिले में बादल फटने से सड़कों और वाहनों के काफी नुकसान पहुँचा है। शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक, लगभग 8 PWD सड़कें पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं। इसके अलावा चंबा में 3 DTR और 3 जल आपूर्ति योजनाएँ भी बड़े स्तर पर प्रभावित हुईं है।

बताया जा रहा है कि कृषि और बागवानी को भी काफी नुकसान पहुँचा है। वहीं अतिरिक्त उप आयुक्त, मुकेश रेपसवाल का कहना है कि जानमाल के नुकसान की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है। जिले में स्थिति नियंत्रण में है।

उन्होंने आगे बताया कि सोमवार देर रात हुई बारिश की वजह से 3 पंचायतों में काफी नुकसान पहुँचा है। एक जगह बादल फटा जहाँ पर एक घर को काफी नुकसान हुआ है। प्रशासन की टीमें प्रभावितों के पास पहुँच रही हैं। साथ ही पंचायत प्रतिनिधियों के साथ मिलकर, जहाँ-जहाँ लोग प्रभावित हुए हैं, उनको फौरन राहत पहुँचाई जा रही है। इस पूरे मामले पर प्रशासन अपनी नजर बनाए हुए है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe