Wednesday, July 28, 2021
Homeदेश-समाजराशन बाँटने के नाम पर कॉन्ग्रेसी MLA के स्कॉर्पियो से शराब की तस्करी: कार्यकर्ता...

राशन बाँटने के नाम पर कॉन्ग्रेसी MLA के स्कॉर्पियो से शराब की तस्करी: कार्यकर्ता गिरफ्तार, विधायक पर FIR

विधायक ने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि कार्यकर्ता कोरोना वायरस की संकट की घड़ी में ग्रामीण इलाकों में राशन बाँटने के लिए गए थे। वे खुद चकित हैं कि आखिर उनकी गाड़ी में शराब कैसे आई। उन्होंने कहा कि उनकी बात अभी कार्यकर्ताओं से नहीं हुई है। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि यह उनके खिलाफ साजिश हो सकती है।

कॉन्ग्रेस के विधायक संजय कुमार तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी की निजी गाड़ी से शराब की सात बोतलें बरामद की गईं। बुधवार (13.5.20) की शाम बिहार में बक्सर सदर पुलिस ने शराब अधिनियम की धारा के तहत विधायक की गाड़ी को जब्त कर उस पर सवार चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

यह पूरा मामला बिहार के बक्सर जिला अंतर्गत सिमरी थाना क्षेत्र के नगपुरा का है। यहाँ पुलिस द्वारा चलाए जा रहे वाहन जाँच के दौरान बक्सर सदर से कॉन्ग्रेस के विधायक संजय कुमार तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी की गाड़ी से शराब की बोतलें बरामद हुईं। मामला हाई-प्रोफाइल होने के कारण अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी केके सिंह थाना में जाँच के लिए पहुँचे और गिरफ्तार लोगों से पूछताछ की।

गिरफ्तार लोगों की पहचान चुरामनपुर निवासी चालक सुशील कुमार प्रसाद, बड़कागांव मानसिंह पट्टी निवासी अनिल मिश्रा, दलसागर निवासी विक्की तिवारी और नितेश तिवारी के रूप में की गई है। विक्की पहले भी शराब तस्करी के मामले में आरोपित है।

नदी के रास्ते से शराब की सप्लाई

सिमरी थानाध्यक्ष से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस को नदी के रास्ते शराब की तस्करी की सूचना मिली थी। इस आधार पर पुलिस द्वारा वहाँ से आने-जाने वाले वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। इसी दौरान पुलिस को स्कॉर्पियो आती दिखी। तलाशी के दौरान गाड़ी से महँगी शराब की सात बोतलें बरामद हुईं। पुलिस ने शराब समेत गाड़ी जब्त करने के साथ वाहन पर सवार चालक समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

कॉन्ग्रेस विधायक ने दी सफ़ाई

इस मामले पर विधायक ने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि कार्यकर्ता कोरोना वायरस की संकट की घड़ी में ग्रामीण इलाकों में राशन बाँटने के लिए गए थे। वे खुद चकित हैं कि आखिर उनकी गाड़ी में शराब कैसे आई। उन्होंने कहा कि उनकी बात अभी कार्यकर्ताओं से नहीं हुई है। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि यह उनके खिलाफ साजिश हो सकती है। उन्होंने बिहार सरकार से इसकी न्यायिक जाँच करवाने का अनुरोध किया।

विधायक के वाहन से शराब का पकड़ा जाना राजनीतिक हलकों समेत अब इलाके में चर्चा का विषय बन गया है। फिलहाल गाड़ी विधायक के नाम पर होने की वजह से उन पर एफआईआर दर्ज किया गया है। वहीं डीएसपी केके सिंह ने बताया कि गिरफ्तार लोगों से पूछताछ की जा रही है कि वे किसके लिए शराब ले जा रहे थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,573FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe