Sunday, September 19, 2021
Homeदेश-समाजसिद्धू के नाम ऑडियो, कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता की आत्महत्या: कहा - 'पार्टी को 30 साल...

सिद्धू के नाम ऑडियो, कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता की आत्महत्या: कहा – ‘पार्टी को 30 साल दिए, शादी भी नहीं… कोई फायदा नहीं’

हैप्पी बाजपा की सुसाइड की खबर सुनकर सिद्धू उनके परिजनों से मिलने गए। पंजाब प्रदेश कॉन्ग्रेस कमेटी की तरफ से पीड़ित परिवार को दस लाख रुपए दिए जाने का ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि वह परिवार के साथ चट्टान की तरह खड़े रहेंगे।

पंजाब के लुधियाना जिले के दाखा विधानसभा के जंगपुर गाँव में गुरुवार (जुलाई 29, 2021) को कॉन्ग्रेस महासचिव हैप्पी बाजवा/दिलजीत सिंह ने जहर खाकर सुसाइड कर ली। सुसाइड से पहले उन्होंने कॉन्ग्रेस नेता नवजोत सिंह सिंद्धू को अपना 10 मिनट का ऑडियो संदेश भेजा।

बाजवा ने इसमें बताया कि कैसे वह पिछले 30 साल से कॉन्ग्रेस पार्टी के साथ जुड़े हैं लेकिन उन्हें और उनके घरवालों को कभी इसका लाभ नहीं मिला जबकि पार्टी के लिए काम करने पर उनके ख़िलाफ़ केस होते रहे। ऑडियो के मुताबिक किसी प्लॉट संबंधी एक मामले में उन्हें फँसाने की तैयारी चल रही थी, इसी से आहत होकर उन्होंने आत्महत्या का फैसला किया।

बाजवा ने अपनी ऑडियो में सिद्धू से अनुरोध किया है कि उनके जाने के बाद सिद्धू उनके परिवार को संभाल लें। अपनी मौत के लिए उन्होंने तीन लोगों को जिम्मेदार कहा है। इनमें से दो को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है, जिनकी पहचान प्रीतम सिंह और महिंदर सिंह के तौर पर हुई है। वहीं एक आरोपित बलजिंदर सिंह फरार है।

बाजवा के परिजनों से मिले सिद्धू, CM ने जताया दुख

सुसाइड से पहले जारी की गई बाजवा की ऑडियो से प्रदेश में हड़कंप है। कॉन्ग्रेस नेताओं का कहना है कि बाजवा ने पार्टी को दोषी नहीं कहा जबकि ऑडियो कुछ और ही बयान कर रही है। वहीं सिद्धू भी घटना की सूचना पाते ही कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता के घर पहुँचे।

पीड़ित परिवार के साथ शोक व्यक्त करते हुए सिद्धू ने कहा कि वह हमेशा इस परिवार के साथ चट्टान की तरह खड़े रहेंगे। पंजाब प्रदेश कॉन्ग्रेस कमेटी की तरफ से पीड़ित परिवार को दस लाख रुपए दिए जाएँगे। इस मामले में जितने भी आरोपित हैं, किसी को नहीं छोड़ा जाएगा।

मुख्‍यमंत्री कैप्‍टेन अमरिंदर सिंह ने भी ट्वीट कर हैप्‍पी के आत्‍महत्‍या करने पर दुख जताया। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लिखा, “लुधियाना जिले से हमारे पार्टी कार्यकर्ता की आत्महत्या की दुखद खबर। हैप्पी बाजवा ने सुसाइड कर ली। पंजाब पुलिस के डीजीपी को तत्काल जाँच के निर्देश दिए हैं और आरोपितों को गिरफ्तार करने को कहा है। जो कोई भी दोषी होगा उसे छोड़ा नहीं जाएगा।”

ऑडियो में बाजवा ने क्या कहा

बता दें कि हैप्पी बाजवा कॉन्ग्रेस के स्पोर्टस एंड कल्चरल सेल देहाती के जिला चेयरमैन थे। उन्होंने आत्महत्या करने से पहले पंजाब कॉन्ग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह के लिए जो ऑडियो रिकॉर्ड की, उसमें उन्होंने कहा कि वह तीस साल तक कॉन्ग्रेस पार्टी से जुड़े रहे, लेकिन अभी तक अपने परिवार को दाल आटा योजना का लाभ तक नहीं दिला सके। इसके अलावा कॉन्ग्रेस के लिए काम करते हुए उन पर कई मामले दर्ज हुए, 4 साल के शासन में उन्हें कोई फायदा नहीं हुआ है।

बाजवा ने बताया कि वह हरियाणा, हिमाचल, गुजरात सहित कई प्रदेशों में कॉन्ग्रेस के लिए प्रचार कर चुके हैं। पार्टी प्रचार के लिए घर से 6 महीने तक बाहर रहना पड़ता था। इसलिए उन्होंने शादी भी नहीं की। इस दौरान उनके खिलाफ विरोधी दलों ने कई झूठे मामले दर्ज करवाए और अब एक प्लाट, जो उन्होंने कुछ समय पहले लिया था, उसको लेकर चल रहे विवाद में उन पर फिर से मामला दर्ज करने की तैयारी है। इसलिए इन सबसे तंग आकर वह आत्महत्या कर रहे हैं। वह बताते हैं कि इन सबके लिए गाँव निवासी प्रीतम सिंह, उसका भतीजा बलजिंदर सिंह और पंच महिंदर सिंह जिम्मेदार है।

उल्लेखनीय है कि बाजवा की आत्महत्या के बाद दाखा प्रभारी इंस्पेक्टर जगजीत सिंह ने बताया कि उन्होंने शव को बरामद कर लिया है, उसे अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। एक ऑडियो की जानकारी उनके पास भी पहुँची है, फिलहाल मामले की जाँच की जा रही है। आरोपितों के खिलाफ उचित कार्रवाई होगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe