Saturday, January 22, 2022
Homeदेश-समाजमोहम्मद फिरोज 2 महीने से कर रहा था 16 साल की बेटी का रेप,...

मोहम्मद फिरोज 2 महीने से कर रहा था 16 साल की बेटी का रेप, हुई गर्भवती: पीड़िता की माँ करती थी वहीं मजदूरी

रात के वक्त अचानक पीड़िता की माँ की नींद टूटी, वो अपनी बेटी के पास गई। बिस्तर पर मोहम्मद फिरोज भी मौजूद था और उसकी बेटी के साथ बलात्कार कर रहा था। बेटी ने बताया कि 2 महीने से...

16 साल की नाबालिग लड़की को डरा धमका कर उससे महीनों तक बलात्कार करने का मामला सामने आया है। इस वारदात को अंजाम देने वाले व्यक्ति का नाम मोहम्मद फ़िरोज़ है और पेशे से ठेकेदार है।

पंजाब पुलिस आरोपित पर आईपीसी की धारा 376 और पॉक्सो एक्ट की धारा 6 के तहत मामला दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं नाबालिग पीड़िता का मेडिकल कराने पर पता चला कि वह गर्भवती हो चुकी है। 

दरअसल रात के वक्त अचानक पीड़िता की माँ की नींद टूटी और वो अपनी बेटी के पास गई। बिस्तर पर ठेकेदार फ़िरोज़ भी मौजूद था और उसकी बेटी के साथ बलात्कार कर रहा था। पीड़िता की माँ को देखते ही ठेकेदार वहाँ से फ़रार हो गया।

इस घटना के बाद माँ ने अपनी बेटी से पूछा तो उसने बताया कि ठेकेदार पिछले दो महीने से धमकी देकर उसके साथ बलात्कार कर रहा है। आरोपित ठेकेदार फ़िरोज़ ईडीएन सिटी खरड़, पंजाब का रहने वाला है और मूल रूप से बिहार स्थित माधेपुर के फोरफना का निवासी है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक़ नाबालिग पीड़िता की माँ ने शिकायत में बताया था कि उसका पति 15 साल पहले उसे छोड़ कर चला गया था। तब से वह अपने पूरे परिवार का गुज़ारा मजदूरी के सहारे ही करती है। उसके दो बच्चे हैं, एक लड़का और एक लड़की।

वह जिस ठेकेदार मोहम्मद फ़िरोज़ के पास काम करती थी, उसी ठेकेदार ने उसकी 16 साल की बेटी से बलात्कार किया। घटना वाली 20 फरवरी की रात लगभग 1 बजे उसकी नींद खुली। तब ठेकेदार मोहम्मद फ़िरोज़ उसकी बेटी के साथ बलात्कार कर रहा था लेकिन उसे देख कर तुरंत फ़रार हो गया। 

आरोपित लगभग दो महीने से लगातार नाबालिग का बलात्कार कर रहा था। आरोपित ने पीड़िता की माँ को धमकी भी दी कि अगर उसने इस बारे में किसी को भी बताया तो वह उसे जान से मार देगा। पीड़िता की माँ ने सिविल अस्पताल खरड़ में मेडिकल कराया तो पता चला कि उसकी बेटी दो महीने की गर्भवती है।

पंजाब पुलिस आरोपित ठेकेदार मोहम्मद फ़िरोज़ को गिरफ्तार कर चुकी है, मंगलवार (23 फरवरी 2021) को उसे अदालत में पेश किया जाएगा।   

   

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डिजिटल इंडिया से आई मौन क्रांति, संसाधन-मशीनरी और अधिकारी वही… मिला बेहतर रिजल्ट: जिलाधिकारियों से मीटिंग में बोले पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि डिजिटल इंडिया से देश में एक मौन क्रांति आई है। इसमें कोई भी जिला पीछे न रहे, इसके लिए लिस्ट बनी है।

केस ढोते-ढोते पिता भी चल बसे, माँ रहती हैं बीमार : दिल्ली दंगों में पहली सज़ा दिनेश यादव को, गरीब परिवार ने कहा –...

दिल्ली हिन्दू विरोधी दंगों में दिनेश यादव की गिरफ्तारी के बाद उनके पिता की मौत हो गई थी। पुलिस पर लगा रिश्वत न देने पर फँसाने का आरोप।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,757FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe