Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाज35 लाख मजदूरों के खाते में 1-1 हजार रुपए: सीएम योगी का एलान, कोरोना...

35 लाख मजदूरों के खाते में 1-1 हजार रुपए: सीएम योगी का एलान, कोरोना वायरस से लड़ने के लिए UP तैयार

"15 लाख दिहाड़ी मजदूरों और कंस्ट्रक्शन क्षेत्र के 20.37 लाख श्रमिकों को अपनी रोजाना की जरूरतें पूरी करने के लिए 1000 रुपए दिए जाएँगे।"

कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। राज्यों ने इससे बचाव के लिए व्यापक स्तर पर प्रबंध किए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार भी इस दिशा में कई बड़े कदम उठा रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार (मार्च 21, 2020) को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि अब तक 23 लोग वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं, जिसमें 9 लोग ठीक हो चुके हैं।

सीएम योगी ने कहा कि हम सभी को प्रधानमंत्री द्वारा बुलाए गए ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करना चाहिए। राज्य की सभी मेट्रो रेल, राज्य और सिटी बस सेवाएँ कल रविवार को बंद रहेंगी। सीएम योगी ने आश्वस्त किया कि हमारे पास आवश्यक वस्तुओं और दवाओं का पर्याप्त स्टॉक है। अनावश्यक रूप से सामान खरीदने के लिए दुकानों पर न जाएँ और जमाखोरी से बचें। व्यापारी भी लागत से अधिक दामों पर सामान न बेचें।

आगे सीएम ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है, सरकार हर प्रकार से लोगों की मदद कर रही है। राज्य के मजदूरों को भत्ते के रूप में एक हजार रुपए दिए जाएँगे। उन्होंने कहा, “15 लाख दिहाड़ी मजदूरों और कंस्ट्रक्शन क्षेत्र के 20.37 लाख श्रमिकों को अपनी रोजाना की जरूरतें पूरी करने के लिए 1000 रुपए दिए जाएँगे।”

सीएम योगी ने कहा कि पूरे देश में कोरोना वायरस सेकंड स्टेज पर है और अगर हम इसे यहीं रोकने में कामयाब होते है तो ये पूरी दुनिया के लिए एक मैसेज होगा। उन्होंने कहा कि इसके संक्रमण को रोकने के लिए हमारी तैयारी युद्धस्तर पर चल रही है। सभी जिलों के अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए है और पर्याप्त चिकित्साकर्मी तैनात किए गए हैं। कोरोना से घबराने की जरूरत नही है, लड़ने की जरूरत है, बचाव ही सबसे बेहतर उपाय है।

बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए राज्य के सभी मॉल, स्कूल, कॉलेज 2 अप्रैल तक बंद करने का आदेश दिया था। यूपी सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी गैरजरूरी दफ्तर और सेवाएँ भी 2 अप्रैल तक बंद की गई हैं। योगी सरकार द्वारा जारी आदेश में यह साफ कहा गया है कि किसी तरह के धार्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन 2 अप्रैल तक नहीं किया जाएगा।

सरकार की तरफ से जारी इस आदेश में शादी जैसे समारोह की इजाजत दी गई है, लेकिन साथ ही यह साफ कर दिया गया है कि शादी में एक समय पर सिर्फ 10 लोग ही मौजूद हो सकते हैं। अस्पतालों में भी सिर्फ इमरजेंसी वार्ड ही खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि लोगों को भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचना चाहिए, बेहद जरूरी काम पर ही घरों से बाहर निकलें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe