Friday, July 1, 2022
Homeदेश-समाजकोरोना फैलाने आए थे 3, हरवे-हथियार संग सड़क पर 2000: अलीगढ़ में थूक लगा...

कोरोना फैलाने आए थे 3, हरवे-हथियार संग सड़क पर 2000: अलीगढ़ में थूक लगा नोट फेंक गए बाइक सवार

राँची से सटे भोरंगाडीह गाँव में शनिवार देर शाम अफवाह उड़ी कि कुछ लोग कोरोना फैलाने की नीयत से घूम रहे हैं। सूचना मिलते ही आसपास के गॉंवों के करीब 2000 लोग पारंपरिक हरवे-हथियार लेकर सड़क पर उतर गए। ग्रामीणों ने तीन अज्ञात लोगों को कोरोना फैलाने का आरोप लगाते हुए पकड़ लिया।

कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ने के साथ अफवाहें भी खूब फैल रही है। इन अफवाहों को लेकर पुलिस को काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। पुलिस लोगों से लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने में जुटी है, लेकिन कुछ लोगों द्वारा फैलाए गए अफवाह की वजह से ये सारी चीजें धरी की धरी रह जाती है। ऐसा ही मामला सामने आया है झारखंड के भोरंगाडीह गाँव से।

राँची से सटे भोरंगाडीह गाँव में शनिवार (अप्रैल 11, 2020) देर शाम अफवाह उड़ी कि कुछ लोग कोरोना फैलाने की नीयत से घूम रहे हैं। सूचना मिलते ही आसपास के गॉंवों के करीब 2000 लोग पारंपरिक हरवे-हथियार लेकर सड़क पर उतर गए। ग्रामीणों ने तीन अज्ञात लोगों को कोरोना फैलाने का आरोप लगाते हुए पकड़ लिया। 

दैनिक जागरण के रॉंची संस्करण में प्रकाशित खबर

इसके बाद मौके पर पहुँची पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने के लिए उन तीनों को अपने साथ ले गई। हालाँकि इस दौरान पुलिस को ग्रामीणों के विरोध का भी सामना करना पड़ा। सबसे ज्यादा चिंताजनक बात ये रही कि भीड़ और हंगामे के बीच किसी ने सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान नहीं रखा।

वहीं उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में तहसील इगलास के बिझेरा गॉंव में थूक लगे नोट फेंके जाने का मामला सामने आया है। जहाँ ग्रामीणों का कहना है कि रविवार (अप्रैल 12, 2020) को दो बाइक सवार आए। उन्होंने अपना मुँह ढक रखा था। पहले तो उन्होंने सौ-सौ के पाँच नोटों पर थूक लगाया और फिर उसे वहाँ पर फेंक कर भाग गए। बाइक सवार को ये हरकतें करते हुए वहाँ खेत में काम कर रही एक महिला ने देख लिया। महिला ने जब इस बारे में ग्रामीणों को बताया तो हड़कंप मच गया। ग्रामीणों का कहना है कि युवकों ने संक्रमण फैलाने के मकसद से नोट पर थूक लगाकर फेंका। सूचना मिलने पर मौके पर पहुँची पुलिस ने आरोपित के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत कराया। पुलिस ने नोटों को अपने कब्जे में ले लिया है।

ऐसी ही एक घटना झारखंड के नामकुम से सामने आई है। वहाँ शनिवार को सड़क पर 500 के चार नोट गिरे मिले। इसके बाद इलाके में अफरा-तफरी मच गई। सूचना पाकर पहुँची पुलिस नोट को लेकर चली गई। लोगों ने आशंका जताई कि किसी ने नोट पर थूक कर कोरोना संक्रमण फैलाने के इरादे से फेंक दिया होगा। हालाँकि फिलहाल पुलिस की जाँच में ऐसा कुछ निकल कर सामने नहीं आया है। पुलिस का कहना है कि शुरुआती जाँच में ये गलती से नोट गिरने जैसा लग रहा है। मगर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। जाँच की जा रही है। अगर किसी ने जान-बूझकर ऐसा किया होगा, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसी को ईद तक तो किसी को 17 जुलाई तक मारने की धमकी, पटाखों का जश्न तो कहीं सिर तन से जुदा के स्टेटस:...

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल के कत्ल के बाद कहीं पर फोड़े गए पटाखे तो कहीं पर हिन्दू संगठन के कार्यकर्ता को मिली कत्ल की धमकी।

कन्हैया, उमेश, किशन… हत्या का एक जैसा पैटर्न, लिंक की पड़ताल कर रही NIA: रिपोर्ट में बताया- PFI कनेक्शन की भी हो रही जाँच

उदयपुर में कन्हैया लाल को काटा गया। अमरावती में उमेश कोल्हे तो अहमदाबाद में किशन भरवाड की हत्या की गई। बताया जा रहा है कि एनआईए इनके बीच लिंक की पड़ताल कर रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,558FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe