Sunday, July 25, 2021
Homeदेश-समाजभोपाल: RSS ने नगर निगम के कोरोना कर्मवीरों को 200 PPE किट और सुरक्षा...

भोपाल: RSS ने नगर निगम के कोरोना कर्मवीरों को 200 PPE किट और सुरक्षा उपकरण बाँटे, उन पर बरसाए फूल

देश कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहा है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ इस दौरान अपनी जिम्मेदारी पूरी तरह से निभा रहा है। संघ देश के उन सुदूर इलाक़ों में ज्यादा ध्यान दे रहा है, जहाँ तक सरकार भी आसानी से नहीं पहुँच पाती। म्यांमार, बांग्लादेश सीमा और पाकिस्तान सीमा पर भी लोगों को मदद पहुँचाई जा रही है।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के गुफा मंदिर में आयोजित एक कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने रविवार (मई 3, 2020) को नगर निगम के स्वास्थ्य कर्मचारी, सफाई दरोगा और सहायक स्वास्थ्य अधिकारियों को PPE किट और अन्य सुरक्षा का सामान बाँटा।

कोरोना योद्धाओं की मदद के लिए समाज का हर तबका आगे आ रहा है। ऐसे में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) कैसे पीछे रह सकता है। RSS की ओर से रविवार को भोपाल नगर निगम के कोरोना कर्मवीरों को सुरक्षा उपकरण बाँटे गए। इसमें 200 PPE किट, मेडिकेटेड ग्लब्स, मास्क और सैनिटाइजर शामिल हैं।

सभी कोरोना कर्मवीरों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाइन में खड़ा किया गया और उन्हें पीपीई किट, मास्क और सैनिटाइजर दिया गया। इस दौरान संघ के स्वयंसेवकों ने नगर निगम के कोरोना कर्मवीरों पर फूलों की बारिश कर उनका हौसला बढ़ाया और सम्मान किया। इस मौके पर मध्य भारत के सह संघचालक अशोक पांडेय और भोपाल विभाग के संघचालक डॉ. राजेश सेठी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। 

उल्लेखनीय है कि देश कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहा है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ इस दौरान अपनी जिम्मेदारी पूरी तरह से निभा रहा है। संघ देश के उन सुदूर इलाक़ों में ज्यादा ध्यान दे रहा है, जहाँ तक सरकार भी आसानी से नहीं पहुँच पाती। म्यांमार, बांग्लादेश सीमा और पाकिस्तान सीमा पर भी लोगों को मदद पहुँचाई जा रही है।

‘दैनिक जागरण’ में प्रकाशित एक ख़बर के अनुसार, पूरे देश में संघ के तीन लाख से अधिक कार्यकर्ता 3.10 करोड़ लोगों को भोजन कराने के साथ-साथ 38 लाख से अधिक परिवारों में कच्चा राशन पहुँचाने का काम कर चुके हैं। सबसे बड़ी बात तो ये कि पीड़ितों की धर्म, जाति व संप्रदाय देखे बिना संघ उनकी सेवा में लगा है। 26 लाख से भी अधिक लोगों को मास्क बाँटे गए हैं। 60 हज़ार लोगों को आयुर्वेदिक काढ़ा पिलाया गया है।

वैश्विक महामारी की आपदा के बीच संघ के स्वयंसेवक सड़कों पर ज़रूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। यहाँ तक कि मुस्लिमों और ईसाइयों को भी संघ से ख़ूब मदद मिल रही है। मुंबई कोरोना से सबसे ज्यादा ग्रस्त महानगर है। यहाँ जितने मामले अकेले हैं, उतने किसी अन्य राज्य में भी नहीं हैं। ऐसे में संघ ने लॉकडाउन के पहले ही दिन 30 कम्युनिटी किचेन बना कर जनसेवा का कार्य शुरू कर दिया था। रोज 1 लाख पैकेट से भी ज्यादा भोजन बाँटा जा रहा है। ग्रोसरी के भी 28000 से अधिक पैकेट रोज बाँटे जा रहे हैं।

वहीं RSS के सेवा भारती संगठन ने पश्चिम दिल्ली की एक चर्च में 250 भूखे लोगों को राशन उपलब्ध करवाया। इसके अलावा प्रयागराज के एक मुस्लिम परिवार ने भी आपदा के समय RSS से मदद माँगी। इंदौर में फँसी छात्रा तक सारी सामग्रियाँ और मदद संघ ने तुरंत पहुँचाई, जिसके बाद मुस्लिम परिवार ने संघ को धन्यवाद दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल वीडियो का FactChek

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि लाठी-डंडा लिए भीड़ एक शख्स को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रही है।

दैनिक भास्कर के ₹2,200 करोड़ के फर्जी लेनदेन की जाँच कर रहा है IT विभाग: 700 करोड़ की आय पर टैक्स चोरी का खुलासा

मीडिया समूह की तलाशी में छह वर्षों में ₹700 करोड़ की आय पर अवैतनिक कर, शेयर बाजार के नियमों का उल्लंघन और लिस्टेड कंपनियों से लाभ की हेराफेरी के आयकर विभाग को सबूत मिले हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,066FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe