Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजUP: भदोही में 14 साल की दलित बच्ची की सिर कुचलकर हत्या, बिना कपड़ों...

UP: भदोही में 14 साल की दलित बच्ची की सिर कुचलकर हत्या, बिना कपड़ों के शव खेत में मिला

बताया जा रहा है कि 14 वर्षीय दलित नाबालिग दोपहर के वक़्त शौच के लिए खेत की तरफ गई थी। काफी देर तक वह नहीं लौटी तो परिजनों ने खेत की तरफ जाकर उसे खोजा। वहाँ उसकी खून से सनी लाश पड़ी थी। उसका सिर कुचल दिया गया था।

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में एक दलित नाबालिग किशोरी का शव खेत से बरामद किया गया है। 14 साल की किशोरी की सिर कुचलकर हत्या की गई है। परिजनों ने बलात्कार की आशंका भी जताई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना भदोही के गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र की है। 14 वर्षीय दलित नाबालिग दोपहर के वक़्त शौच के लिए खेत की तरफ गई थी। काफी देर तक वह नहीं लौटी तो परिजनों ने खेत की तरफ जाकर उसे खोजा। वहाँ उसकी खून से सनी लाश पड़ी थी। उसका सिर कुचल दिया गया था।

नाबालिग लड़की को तुरंत पास के अस्पताल ले जाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसका सर किसी बड़े पत्थर की कुचला गया था। उसके शरीर पर कपड़े भी नहीं थे।

घटना की जानकारी प्राप्त होते ही पुलिस मौके पर पहुँच गई। शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजनों ने आशंका जताई है कि उनकी बेटी को रेप के बाद मारा गया है। पुलिस ने वारदात स्थल की जाँच पड़ताल की साथ ही फोरेंसिक एक्सपर्ट और क्राइम ब्रांच की टीम को भी मौके पर जाँच के लिए बुलाया गया।

भदोही पुलिस ने इस मामले में ट्विटर पर जानकारी देते हुए बताया कि 14 वर्ष की किशोरी की हत्या अज्ञात व्यक्तियों द्वारा ईंट-पत्थर से मारकर हत्या कर दी गई है। थाना गोपीगंज पुलिस द्वारा घटना के सम्बन्ध में हत्या का अभियोग पंजीकृत किया गया है।

वहीं मामले में पुलिस अधीक्षक ने बताया उसके साथ दुष्कर्म हुआ है या नहीं, ये पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा। फिलहाल मौके पर जिले के आला अधिकारी के साथ भारी पुलिस बल तैनात है। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक अपराधियों की खोजबीन की जा रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe