Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजमुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा ने राम मंदिर के लिए दिया ₹11 लाख...

मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा ने राम मंदिर के लिए दिया ₹11 लाख का दान, कहा- ‘अतीत के लिए मैं जिम्मेदार नहीं’

“राम भारत के चरित्र, संस्कार और सभी की आस्था का केंद्र हैं। यह सिर्फ राम का मंदिर ही नहीं बल्कि राष्ट्र का मंदिर है। मुझे ऐसा लगता है कि भारत के हर नागरिक को श्रीराम मंदिर के लिए दान करना चाहिए इसलिए मैंने भी दान किया है। मैं आशा करता करती हूँ अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर निर्मित होगा।”

अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के सहयोग के लिए राजनीति से तमाम चेहरे आगे आए हैं। समाजवादी पार्टी के संरक्षक और बतौर मुख्यमंत्री कारसेवकों पर गोली चलवाने के आरोपित मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव ने राम मंदिर निर्माण के लिए 11 लाख रुपए का आर्थिक सहयोग किया है। इसके बाद उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया भी दी, अपर्णा यादव ने कहा कि उन्होंने ये काम अपनी स्वेच्छा से किया है। वह अपने परिवार की जिम्मेदारी नहीं ले सकती हैं, अतीत कभी भी आने वाले कल के बराबर नहीं हो सकता है। 

इसके बाद अपर्णा यादव ने यह भी कहा, “राम भारत के चरित्र, संस्कार और सभी की आस्था का केंद्र हैं। यह सिर्फ राम का मंदिर ही नहीं बल्कि राष्ट्र का मंदिर है। मुझे ऐसा लगता है कि भारत के हर नागरिक को श्रीराम मंदिर के लिए दान करना चाहिए इसलिए मैंने भी दान किया है। मैं आशा करता करती हूँ अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर निर्मित होगा।” अपर्णा यादव ने स्पष्ट किया कि वह अतीत के लिए जिम्मेदार नहीं हैं, ये दान उनकी जिम्मेदारी थी। यानी ये आर्थिक सहयोग उनके परिवार की तरफ से नहीं है। 

यहाँ अतीत से अपर्णा यादव का तात्पर्य सम्भवतः बाबरी मस्जिद विध्वंस के दौरान मुलायम सिंह यादव का कारसेवकों पर गोली चलवाने का आदेश था। उन्होंने कहा, “अतीत कभी भविष्य के बराबर नहीं हो सकता है इसलिए समझा जाना चाहिए कि मैंने अपनी जिम्मेदारी निभाई है। मैं अपने परिवार की जिम्मेदारी नहीं ले सकती हूँ।” अपर्णा यादव के विचार अक्सर उनकी पार्टी लाइन से हट कर ही होते हैं। उन्होंने कई बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यों की प्रशंसा की है। इसके अलावा उन्होंने कई बार उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सार्वजनिक रूप से आलोचना भी की है। 

अपर्णा यादव सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं। उन्होंने समाजवादी पार्टी के ही टिकट पर 2017 के दौरान लखनऊ कैंट विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में उन्हें भाजपा नेता रीता बहुगुणा जोशी ने उन्हें हरा दिया था। वहीं दूसरी तरफ अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए देशव्यापी धन संग्रह अभियान चल रहा है। देश भर से तमाम लोग आर्थिक सहयोग करने के लिए आगे आ रहे हैं। अब तक लगभग 1500 करोड़ से अधिक की धनराशी इकट्ठा हो चुकी है। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,125FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe