Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजNCB की गिरफ्त में दाऊद इब्राहिम का भाई इकबाल कासकर, ड्रग्स मामले में कार्रवाई

NCB की गिरफ्त में दाऊद इब्राहिम का भाई इकबाल कासकर, ड्रग्स मामले में कार्रवाई

इससे पहले इकबाल को ठाणे में कारोबारियों और बिल्डरों से फिरौती वसूली के मामले में 2017 में गिरफ्तार किया गया था। उस पर मकोका के तहत आरोप लगाए गए थे।

भगोड़े डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने बुधवार (23 जून 2021) को हिरासत में लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हाल ही में एनसीबी ने चरस के दो कंसाइनमेंट पकड़े थे। ये ड्रग्स पंजाब के लोग कश्मीर से मुंबई बाइक से लाया करते थे। इस मामले में करीब 25 किलोग्राम चरस पकड़ी गई थी।

इस मामले की जाँच के दौरान एनसीबी (NCB) को तस्करी मामले के तार अंडरवर्ल्ड से जुड़े हुए मिले। इसके बाद ड्रग तस्करी और माफिया कनेक्शन की जाँच शुरू की गई। अब मुंबई नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने इकबाल कासकर को कस्टडी में ले लिया है। उससे पूछताछ चल रही है।

बताया जा रहा है कि मामले की जाँच के दौरान एनसीबी को टेरर फंडिंग और ड्रग्स की सप्लाई के लिए अंडरवर्ल्ड कनेक्शन से जुड़े अहम सुराग हाथ लगे थे। इसके आधार पर एनसीबी ने मुंबई में कई जगहों पर छापेमारी भी की थी। गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ के बाद इकबाल कासकर को हिरासत में लिया गया।

इससे पहले इकबाल को ठाणे में कारोबारियों और बिल्डरों से फिरौती वसूली के मामले में 2017 में गिरफ्तार किया गया था। उस पर मकोका के तहत आरोप लगाए गए थे। उसे 2003 में संयुक्त अरब अमीरात से प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया था।

बता दें कि पिछले साल अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जॉंच शुरू होने के बाद बॉलीवुड में ड्रग्स सिंडिकेट की घुसपैठ भी सामने आई थी। इस मामले में एनसीबी कई सितारों से पूछताछ कर चुकी है। कई गिरफ्तारियॉं भी कर चुकी है। कुछ समय पहले दाऊद इब्राहिम के सहयोगी, गैंगस्टर एवं नशीले पदार्थ के विक्रेता परवेज खान उर्फ चिंकू पठान से कथित संपर्क के आरोप में ड्रग विक्रेता हैरिस खान को गिरफ्तार किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -