Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाजCM योगी को मिली तीसरी बार जान से मारने की धमकी: डायल 112 के...

CM योगी को मिली तीसरी बार जान से मारने की धमकी: डायल 112 के वाट्सएप पर आगरा से भेजा गया मैसेज

धमकी भरे मैसेज के बाद हड़कंप मच गया है। जिस नंबर से यह मैसेज भेज गया है उसे ट्रेस किया जा रहा है। हालाँकि, शुरुआती जाँच में धमकी देने वाला शख्स आगरा का बताया गया है। पुलिस आरोपित के धर-पकड़ में जुट गई है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को तीसरी बार जान से मारने की धमकी दी गई है। यह धमकी शुक्रवार (11 दिसंबर, 2020) पुलिस सेवा डॉयल 112 के व्हाट्सअप पर मिली है। इस धमकी भरे संदेश में आपत्तिजनक भाषा और गलियों का प्रयोग भी किया गया है। धमकी देने वाला शख्स आगरा का है। जिसकी जानकारी आगरा पुलिस को भी दे दी गई है।

जानकारी के मुताबिक, धमकी भरा संदेश मिलते ही यूपी-112 के प्रभारी मदन पाल सिंह ने अपने अधिकारियों को इस बारे में जानकारी दी। मदन पाल सिंह ने एफटीएफ को भी तहरीर दी है। जिसके बाद सुशांत गोल्फ सिटी थाने पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर किया गया।

धमकी भरे मैसेज के बाद हड़कंप मच गया है। जिस नंबर से यह मैसेज भेज गया है उसे ट्रेस किया जा रहा है। हालाँकि, शुरुआती जाँच में धमकी देने वाला शख्स आगरा का बताया गया है। पुलिस आरोपित के धर-पकड़ में जुट गई है। यूपी-112 का यह (94585 03171) व्हाट्सएप नम्बर है, जिस पर धमकी दी गई थी। बता दें कि इससे पहले भी सीएम योगी को डायल-112 के कंट्रोल रूम पर तीन बार धमकी दी जा चुकी है।

गौरतलब है कि इससे पहले सीएम योगी को 22 नवंबर 2020 की शाम को पुलिस के डायल 112 के व्हाट्सएप नंबर पर धमकी दी गई थी। साइबर सेल को फोन नंबर की जाँच में लोकेशन आगरा की मिली। इसके बाद सुशांत गोल्फ सिटी थाना प्रभारी सचिन सिंह के साथ टीम ने ग्राम अकोला थाना मांगरोल आगरा से आरोपित नाबालिग को गिरफ्तार किया था।

बता दें कि इसके पहले सात जुलाई को डायल 112 के वाट्सएप नंबर पर मुख्यमंत्री को जान से मारने की धमकी भरा मैसेज मिला। मैसेज मिलते ही पुलिस महकमा अलर्ट हो गया। छानबीन में पता चला कि धमकी भरा मैसेज कानपुर देहात से भेजा गया है। मामले में 12वीं के छात्र को पकड़ा गया। छात्र को जुवेनाइल कोर्ट के समक्ष पेश किया गया।

वहीं 21 मई, 2020 की शाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। यह धमकी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश- 112 के व्हाटसएप नम्बर पर दी गई थी, जिसमें कहा गया था कि उन पर बम से हमला किया जाएगा। मामले में पुलिस ने कामरान नाम के शख्स को गिरफ्तार किया। उसने पुलिस की पूछताछ में अपना जुर्म कबूल किया था। आरोपित कामरान ने कहा था कि उसने एक करोड़ रुपए मिलने के वायदे के बदले में सीएम योगी को बम से उड़ाने की धमकी दी थी।

इसके अलावा कोरोना वायरस के मद्देनजर नमाज और अजान पर निर्देशों से गुस्साए तनवीर खान नाम के एक व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को गोली मारने की बात कही थी। तनवीर खान ने अपने फेसबुक एकाउंट से पोस्ट किया था, “दिलदार नगर और पूरे कामसरोवर (कामसर) में अजान नहीं हो रही है। योगी को गोली मार दो…।” पोस्ट वायरल होते ही तनवीर खान ने अपना एकाउंट डिएक्टिवेट कर लिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘धर्मांतरण कोई समस्या नहीं, अपने घर में सम्मान न मिले तो दूसरे के घर जाएँगे ही’: मिशनरी साजिश पर बिहार के पूर्व CM

गया में पिछले कई वर्षों से सिलसिलेवार तरीके से ईसाई धर्मांतरण की साजिश का खुलासा हुआ है। पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम माँझी ने इन घटनाओं का समर्थन किया।

‘हमने मोदी को जिताया की रट लगाते हो, खुद 2 बार लड़े तो क्यों नहीं जीत गए?’ महिला पत्रकार ने उतार दी राकेश टिकैत...

'इंडिया 1 न्यूज़' की गरिमा सिंह ने राकेश टिकैत के इस बयान को लेकर भी सवाल पूछा जिसमें वो बार-बार कहते हैं कि इस सरकार को 'हमने जिताया'।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,931FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe