Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजपहले बिजनेसमैन संग बिताई रात, फिर रेप केस की धमकी देकर ₹80 लाख वसूले:...

पहले बिजनेसमैन संग बिताई रात, फिर रेप केस की धमकी देकर ₹80 लाख वसूले: दिल्ली की यूट्यूबर नामरा कादिर पर FIR दर्ज, तलाश जारी

आरोपित कपल के खिलाफ पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 388, 328, 406, 506, 34 के तहत सेक्टर 50 स्थित पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपितों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है।

एक बिजनेसमैन को हनी ट्रैप में फँसाकर 80 लाख रुपए वसूलने के आरोप में दिल्ली के यूट्यूबर कपल (Youtuber) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। आरोप है कि दोनों ने बिजनेसमैन को झूठे रेप केस में फँसाने की धमकी दी और उसे ब्लैकमेल करते हुए वसूली की।

हरियाणा के गुरुग्राम के बादशाहपुर निवासी बिजनेसमैन विज्ञापन एजेंसी चलाता है। उसने बताया कि कुछ समय पहले दिल्ली के शालीमार बाग की रहने वाली नामरा कादिर नाम की महिला के संपर्क में आया था। इसके बाद काम पर चर्चा को लेकर वह गुरुग्राम के सोहना स्थित एक होटल में कुछ महीने पहले महिला से मिला था।

बिजनेसमैन का कहना है कि नामरा कादिर के साथ एक और व्यक्ति साथ आया था, जिसका नाम विराट उर्फ मनीष बेनीवाल था। बिजनेसमैन ने अपनी शिकायत में कहा है कि उसने कादिर को 2.50 लाख रुपए बिजनेस शुरू करने के लिए दिए थे। जब उस पैसे के आउटपुट के बारे में पूछा तो नामरा कादिर ने उसके सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया और वे दोनों दोस्त बन गए।

उसके बाद दोनों काफी करीब आ गए। कुछ दिनों बाद बिजनेसमैन और नामरा कादिर ने एक साथ रात गुजारी। उस दौरान नामरा कादिर के दोस्त मनीष बेनीवाल ने वीडियो बना लिया। बाद में दोनों मिलकर बिजनेसमैन को ब्लैकमेल करने लगे और उसे रेप केस में फँसाने की धमकी दी।

बिजनेसमैन का आरोप है कि वीडियो के आधार पर ब्लैकमेल कर नामरा कादिर और उसके दोस्त ने उससे 80 लाख रुपए वसूल लिए। हालाँकि, उनकी माँगे बढ़ती ही गई। उनकी माँगों से तंग आकर बिजनेसमैन ने गुरुग्राम पुलिस में इसकी शिकायत की।

शिकायत के आधार पर पुलिस ने दोनों आरोपितों को 10 अक्टूबर को नोटिस भेजा। हालाँकि, थाने में आने के बजाए दोनों ने गुरुग्राम कोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका दाखिल कर दी। हालाँकि, कोर्ट ने मामले को देखते हुए उस याचिका को 18 नवंबर 2022 को खारिज कर दिया।

आरोपित कपल के खिलाफ पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 388, 328, 406, 506, 34 के तहत सेक्टर 50 स्थित पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपितों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -