Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली शराब घोटाला: दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी दारू बेचने वाली कंपनी के चक्कर...

दिल्ली शराब घोटाला: दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी दारू बेचने वाली कंपनी के चक्कर में भीतर गए AAP के नेता, कोर्ट में दिया गया सबूत

ईडी ने कहा कि संजय सिंह दिल्ली में हुए शराब घोटाले के प्रमुख सूत्रधार हैं। उन्होंने इसमें बड़े पैमाने पर पैसे की हेरफेर की। इसके अलावा, इस मामले के अन्य आरोपितों जैसे कि दिनेश अरोड़ा और अमित अरोड़ा से नजदीकी रूप से जुड़े हैं। इसके अलावा, संजय सिंह के सहयोगी/स्टाफ विवेक त्यागी, अजीत त्यागी और सर्वेश मिश्रा भी दिनेश अरोड़ा से जुड़े हुए हैं।

दिल्ली के शराब घोटाले में आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बाद अब AAP सांसद संजय सिंह को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गिरफ्तार किया है। इसके बाद कोर्ट ने उन्हें 5 दिन की रिमांड पर भेज दिया है। इस मामले में संजय सिंह के करीबी सर्वेश मिश्रा और विवेक त्यागी को ED ने पूछताछ के लिए बुलाया है। वहीं, मिश्रा ED ऑफिस पहुँच गया है।

ED ने बुधवार (4 अक्टूबर 2023) को गिरफ्तार करने के बाद गुरुवार को कोर्ट में पेश किया था। तब ईडी ने संजय सिंह की कस्टडी माँगते वक्त इन दोनों सहयोगियों का जिक्र किया था। ईडी ने कोर्ट से कहा था कि इन दोनों सहयोगियों को और दिनेश अरोड़ा के सामने बैठाकर संजय सिंह से पूछताछ की जाएगी।

ईडी का कहना है कि संजय सिंह के कहने पर सर्वेश मिश्रा को एक करोड़ रुपए मिले थे। दरअसल, इस पूरे मामले में दिनेश अरोड़ा की गवाही के बाद संजय सिंह के घर पर छापेमारी हुई थी। इस दौरान उनसे लगभग 10 घंटे तक पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था।

दिनेश अरोड़ा का कहना है कि उसने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर मुलाकात की थी। इस दौरान संजय सिंह भी मौजूद थे। अब दिनेश अरोड़ा हाल ही में इस केस में सरकारी गवाह बने हैं। ऑपइंडिया के पास ईडी द्वारा कोर्ट में दाखिल की गई चार्जशीट मौजूद है। इसमें ईडी ने कहा है कि संजय सिंह को 2 करोड़ रुपए दिए गए।

चार्जशीट की कॉपी के अनुसार, इस मामले में 4 करोड़ रुपए दिए जाने थे। शराब कारोबारी विजय नायर के कहने पर मार्च-अप्रैल 2022 में हरिंदर सिंह ने 2 करोेड़ रुपए अभिषेक बोनापल्ली की डिफेंस कॉलोनी स्थित ऑफिस से लिए और इसमें से एक करोड़ रुपए संजय सिंह के आदमी सर्वेश मिश्रा को दे दिए।

ईडी ने कहा कि संजय सिंह के घर पर एक-एक करोड़ रुपए की डिलीवरी दो बार दी गई। जाँच में यह बात भी सामने आई कि अगस्त से अक्टूबर 2021 में गोवा इलेक्शन के दौरान विजय नायर के कहने पर दिनेश अरोड़ा से समीर महेंद्रू से 3 करोड़ रुपए लिए। दरअसल, विजय नायर ने AAP सरकार में अपने संबंधों के बल पर समीर महेंद्रू कोे शराब कंपनी pernod ricard का लाइसेंस दिलवाया था।

इन्हीं में से 1 करोड़ का एक इंस्टॉलमेंट दिनेश अरोड़ा के स्टाफ ने दिल्ली के ओखला स्थित ‘इंडो स्पिरिट्स’ से लिया। इसके बाद इस एक करोड़ रुपए को संजय सिंह के नॉर्थ एवेन्यू स्थित आवास पर उनके आदमी सर्वेश मिश्रा को दी गई। सर्वेश मिश्रा को 1 करोड़ देने के बाद दिनेश अरोड़ा ने संजय सिंह को कॉल किया। इस संजय सिंह ने कहा कि उन्हें विजय नायर पर इसके बारे में पहले ही बता दिया है।

ईडी ने कहा कि संजय सिंह दिल्ली में हुए शराब घोटाले के प्रमुख सूत्रधार हैं। उन्होंने इसमें बड़े पैमाने पर पैसे की हेरफेर की। इसके अलावा, इस मामले के अन्य आरोपितों जैसे कि दिनेश अरोड़ा और अमित अरोड़ा से नजदीकी रूप से जुड़े हैं। इसके अलावा, संजय सिंह के सहयोगी/स्टाफ विवेक त्यागी, अजीत त्यागी और सर्वेश मिश्रा भी दिनेश अरोड़ा से जुड़े हुए हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -