Sunday, November 27, 2022
Homeदेश-समाजनिजामुद्दीन तबलीगी मरकज मामले में दिल्ली पुलिस की बड़ी कार्रवाई, मौलाना साद सहित कई...

निजामुद्दीन तबलीगी मरकज मामले में दिल्ली पुलिस की बड़ी कार्रवाई, मौलाना साद सहित कई अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज

इस मामले में दिल्ली पुलिस को एलजी की तरफ से दिशा निर्देश मिलने के बाद मौलाना साद सहित कई अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। इन सभी लोगों पर नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है। इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 269, 270, 271 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

दिल्ली के निजामुद्दीन में कानून को ताक पर रख आयोजित किए गए मजहबी सम्मलेन और फिर उसके बाद आयोजकों द्वारा की गई लापरवाही को लेकर दिल्ली पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। दिल्ली पुलिस ने तबलीगी जमात के मौलाना साद सहित कई अन्य के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। दरअसल, दिल्ली पुलिस ने यह कार्रवाई उपराज्यपाल के आदेश पर की है। इससे पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल को पत्र लिख आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की माँग की थी।

वहीं निजामुद्दीन मरकज मामले में दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले में दिल्ली पुलिस को एलजी की तरफ से दिशा निर्देश मिलने के बाद मौलाना साद सहित कई के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। इन सभी लोगों पर नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है। इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 269, 270, 271 के तहत मामला दर्ज किया गया है। अब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच आगे इस मामले की जाँच करेगी।

आपको बता दें कि दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन स्थित मरकज में मलेशिया, इंडोनेशिया, सऊदी अरब और किर्गिस्तान समेत कई देशों के करीब 2500 से अधिक लोगों ने 1 से 15 मार्च तक तबलीग-ए-जमात में हिस्सा लिया था। जिनका पता लगने के बाद से पूरे इलाके की कड़ी निगरानी की जा रही है और हर संदिग्ध को अस्पताल में एहतियात के तौर पर भर्ती किया जा रहा है। इनमें से 24 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है, इतना ही नहीं इसमें शामिल होने वाले तेलंगाना के 6 जमातियों की अभी तक मौत भी हो चुकी है। वहीं जम्मू कश्मीर में हुई 65 वर्षीय मृतक ने भी इस मजहबी सम्मेलन में हिस्सा लिया था।

बताया जा रहा है कि दिल्ली स्थित कार्यक्रम में शामिल होने वाले विदेशी जमातियों का ग्रुप दिल्ली आने से पहले 27 फरवरी से 1 मार्च के बीच मलेशिया गया था, जहाँ ये लोग एक धार्मिक जलसे में शामिल हुए थे। वहीं आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना के अभी तक 97 केस सामने चुके हैं, जिनमें से 24 मामले निज़ामुद्दीन मरकज़, 41 मामले विदेश की यात्रा करने वालों के और 22 विदेशी यात्रियों के परिवार के सदस्य हैं, जबकि 10 मामले ऐसे हैं, जिनका अभी तक पता नहीं चल सका है। वहीं पूरे देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 32, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 1300 के पार हो गई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमें PCR टेस्ट नहीं, आजादी चाहिए’ : चीन की सड़कों पर देर रात लगे वामपंथी सरकार के खिलाफ नारे, राष्ट्रपति शी जिनपिंग से कुर्सी...

चीन की वामपंथी सरकार की नीतियों से भड़के स्थानीय लोगों ने सड़कों पर आकर गुस्सा जाहिर किया और 'शी जिनपिंग कुर्सी छोड़ो' जैसे नारे लगाए।

पहले बिजनेसमैन संग बिताई रात, फिर रेप केस की धमकी देकर ₹80 लाख वसूले: दिल्ली की यूट्यूबर नामरा कादिर पर FIR दर्ज, तलाश जारी

दिल्ली के शालीमार की रहने वाली नामरा कादिर ने अपने सहयोगी के साथ मिलकर गुरुग्राम के बिजनेसमैन को हनीट्रैप में फँसाया और 80 लाख रुपए वसूले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,629FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe