Tuesday, May 17, 2022
Homeदेश-समाजदिल्ली में खेल-खेल का झगड़ा पत्थरबाजी में बदला: वेलकम में दलितों पर मुस्लिम भीड़...

दिल्ली में खेल-खेल का झगड़ा पत्थरबाजी में बदला: वेलकम में दलितों पर मुस्लिम भीड़ के हमले का आरोप, दंगे की धाराओं में FIR

टाइम्स नाउ के मुताबिक पार्क में आपस में कहासुनी होने के बाद भीड़ ने मोहल्ले पर हमला बोल दिया। स्थानीय लोगों ने उन हमलावरों को पहले नहीं देखा था और उनके बाहरी होने का शक जताया जा रहा है।

दिल्ली के वेलकम में बुधवार (4 मई 2022) रात दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए। दोनों समुदाय के बीच पत्थरबाजी की खबर है। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। 37 अन्य हिरासत में लिए गए हैं। दंगे की धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस उपद्रवियों की पहचान का प्रयास कर रही है।

बताया जा रहा है कि झील पार्क में खेल के दौरान लड़कों में झगड़ा हो गया। बाद में मामला सलट गया। लेकिन आरोप है कि इसके कुछ देर बाद X और Y ब्लॉक में रहने वाले दलितों पर मुस्लिम भीड़ ने कथित तौर पर हमला कर दिया है। बताया जाता है कि दोनों पक्षों में करीब 1 घंटे तक पत्थरबाजी होती रही। मामले की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुँची और हालात पर काबू पाया।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के DCP संजय कुमार के मुताबिक, “4 मई को पुलिस को वेलकम के फोटो चौक इलाके में झगड़े की सूचना मिली थी। सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुँच गई। प्राथमिक जाँच में पाया गया है कि विवाद लड़कों के बीच पार्क में खेलने के दौरान हुए झगड़े के कारण हुआ। कुछ आरोपितों को चिन्हित कर के हिरासत में लिया गया है। इस केस में धारा 108 crpc के तहत केस दर्ज किया गया है। आगे की जाँच व कार्रवाई जारी है।”

DCP के मुताबिक, “मौके पर जमा कई लोगों में समझाने और बीच-बचाव करने में कई लोग शामिल थे। साथ ही भारी पुलिस बल भी वहाँ पहुँच गया था। इसी वजह से लोगों को यह लगा कि कोई बड़ा विवाद हो रहा है। कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। बाकियों की तलाश की जा रही है।” पुलिस का कहना है कि पथराव 8 से 10 मिनट तक हुआ। फिलहाल हालात सामान्य है।

Z न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक शकील नाम के व्यक्ति ने बताया कि किसी ने गाँधी को गाली दी तो किसी ने मोदी को गाली दी। इस बात से विवाद शुरू हुआ था। इस विवाद में कुछ लोगों को हल्की चोटें आई हैं। रिक्शा चलाने वाले कैश्मुद्दीन की बीवी शबनम का कहना है कि उसके शौहर को पुलिस पकड़ कर ले गई है। वहीं मोहम्मद हबीब की बहू ने भी अपने ससुर के पकड़े जाने की बात कही है। एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी का कहना है कि झगड़ा 2 अलग-अलग समुदायों के बीच हुआ था।

टाइम्स नाउ के मुताबिक पार्क में आपस में कहासुनी होने के बाद भीड़ ने मोहल्ले पर हमला बोल दिया। स्थानीय लोगों ने उन हमलावरों को पहले नहीं देखा था और उनके बाहरी होने का शक जताया जा रहा है। भीड़ ने लगभग एक घंटे तक पत्थरबाजी की। इस दौरान गली में खड़े वाहनों को भारी नुकसान पहुँचा है। फेंके गए पत्थर पार्क और गलियों में बिखरे हुए हैं। मौके पर अभी भी भारी पुलिस बल तैनात है। लोगों की आवाजाही पर रोक नहीं है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कानपुर वाला गुटखा खाकर करेंगे विज्ञापन, कमाएँगे पैसे… मीडिया को बोलेंगे कि बॉलीवुड अफोर्ड नहीं कर सकता: महेश बाबू को इसलिए पड़ रही गाली

महेश बाबू पिछले साल पान मसाला के विज्ञापन का हिस्सा बने थे। नेटिजन्स ने अब उन पर हमला बोलते हुए उसी ऐड को फिर से वायरल करना शुरू कर दिया है।

ज्ञानवापी की वो जगह, जहाँ नहीं हो सका सर्वे: 72*30*15 फीट है मलबा और 15 फीट की दीवार का घेरा, हिंदू पक्ष ने कहा-...

ज्ञानवापी विवादित ढाँचे से शिवलिंग मिलने के बाद हिंदू पक्ष में जहाँ खुशी की लहर है। वहीं मुस्लिम पक्ष का कहना है कि सांप्रदायिक उन्माद रचने की साजिश कहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,313FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe