Monday, April 22, 2024
Homeदेश-समाजनारियल की आड़ में हो रहा था नशे का कारोबार, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल...

नारियल की आड़ में हो रहा था नशे का कारोबार, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल का ASI शोएब पिस्टल सहित गिरफ्तार: मेवाती गैंग से जुड़े तार

ट्रक से गांजा की 44 बोरियाँ बरामद हुई हैं। इनका कुल वजन 1369.75 किलोग्राम है। यह गांजा नारियल के बीच छिपा कर लाया जा रहा था। पुलिस के मुताबिक, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत लगभग सवा 2 करोड़ रुपए आँकी गई है। दिल्ली पुलिस के ASI शोएब के पास से पिस्टल भी बरामद हुई है।

हरियाणा की पलवल पुलिस ने नशे की तस्करी के रैकेट में शामिल दिल्ली पुलिस से स्पेशल सेल में तैनात असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI) शोएब को गिरफ्तार किया है। शोएब अपनी कार से तस्करी में प्रयोग होने वाली ट्रकों को स्कॉर्ट करता था। उसका रैकेट मेवात के तस्करों से जुड़ा पाया गया। शोएब के पास से एक पिस्टल भी बरामद हुई है। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी की जानकारी 1 मार्च को दी है।

पलवल पुलिस द्वारा जारी प्रेसनोट के मुताबिक, 1 मार्च को पुलिस सनपुर चौक होडल पर चेकिंग कर रही थी। इस दौरान मुखबिर ने सूचना दी कि RJ-20-GB-8399 नंबर की ट्रक में ड्रग्स के 2 तस्कर गुजरने वाले हैं। इनके नाम मोहम्मद और आसिफ बताए गए। इसी के साथ HR-96-3618 नंबर की एक कार में भी 4 तस्करों की सूचना मिली। इस कार में शोएब, आस मोहम्मद, लखपत और तौफीक के होने की जानकारी दी गई। ट्रक में गांजा होना बताया गया, जो उड़ीसा से पलवल के रास्ते फ़िरोज़पुर झिरका आना था।

मुखबिर की सूचना पर पुलिस अलर्ट थी। शोएब और 3 अन्य लोगों के साथ कार गांजा लदे ट्रक को पायलट कर रही थी। आख़िरकार ट्रक और कार को रोक लिया गया। मौके पर गजटेड अधिकारी बुलाए गए। उनकी मौजूदगी में ट्रक की तलाशी हुई। ट्रक से गांजा की 44 बोरियाँ बरामद हुईं। इनका कुल वजन 1369.75 किलोग्राम है। यह गांजा नारियल के बीच छिपा कर लाया जा रहा था। पुलिस के मुताबिक, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत लगभग सवा 2 करोड़ रुपए आँकी गई है। दिल्ली पुलिस के ASI शोएब के पास से पिस्टल भी बरामद हुई है।

पुलिस ने सभी 6 आरोपितों के खिलाफ NDPS एक्ट व अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस को इनके नशे के रैकेट के बाकी साथियों की भी तलाश है। इसके लिए पुलिस इन सभी का रिमांड लेने का प्रयास करेगी। SP पलवल राजेश दुग्गल के मुताबिक, गिरफ्तार आरोपितों में मोहम्मद पुत्र अब्दुला मेव है, जो राजस्थान के खेडली नानु का निवासी है। आसिफ पुत्र बसीर भी मेव है, जो बाबुपुर तहसील हथीन जिला पलवल का निवासी है। अन्य आरोपितों में शोएब पुत्र गोरे खाँ और आस मोहम्मद पुत्र असगर सुल्तानपुर जिला नूँह मेवात के रहने वाले हैं। वहीं, लखपत पुत्र ईदरिश दोहा और तौफिक पुत्र नसरू भुडकी नंगली जिला नूँह मेवात का रहने वाले हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण माँग रही हैं माधवी लता’: News24 ने चलाई खबर, BJP प्रत्याशी ने खोली पोल तो डिलीट कर माँगी माफ़ी

"अरब, सैयद और शिया मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलता है। हम तो सभी मुस्लिमों के लिए रिजर्वेशन माँग रहे हैं।" - माधवी लता का बयान फर्जी, News24 ने डिलीट की फेक खबर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe