Thursday, April 15, 2021
Home देश-समाज सिखों ने मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल सरकार सौंपने की पेशकश की, कहा- यहाँ करिए कोरोना संक्रमितों...

सिखों ने मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल सरकार सौंपने की पेशकश की, कहा- यहाँ करिए कोरोना संक्रमितों का उपचार

“महामारी के मद्देनजर दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी लोगों की मदद करने की हर मुमकिन कोशिश कर रही है। चाहे लोगों को खाना पहुँचाना हो या डॉक्टरी मदद। हम उन्हें हर तरह की सुविधा पहुँचाते रहे हैं। हमने गुरु हरकिशन अस्पताल सरकार को देने की पेशकश की है।"

कोरोना वायरस से जारी जंग के बीच दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने एक महत्वपूर्ण फैसला किया। उसने सरकार को गुरु हरिकिशन सुपर स्पेशलिटी अस्पताल सौंपने की पेशकश की है। सरकार से कहा है कि उसकी छह मंजिला अस्पताल की इमारत का सरकार जब तक चाहे कोविड-19 पीड़ितों और संदिग्धों के इलाज के इस्तेमाल कर सकती है।

यह अस्पताल गुरुद्वारा बाला साहिब में है। डीएसजीएमसी के प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने एक ​वीडियो ट्वीट कर कहा है कि कोरोना से निपटने के लिए दिल्ली सरकार को गुरु हरकिशन हॉस्पिटल का इस्तेमाल कर सकती है। इस अस्पताल में 50 बेड हैं। हॉस्पिटल की पूरी इमारत में 500 बेड की व्यवस्था है।

सिरसा ने कहा है, “महामारी के मद्देनजर दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी लोगों की मदद करने की हर मुमकिन कोशिश कर रही है। चाहे लोगों को खाना पहुँचाना हो या डॉक्टरी मदद। हम उन्हें हर तरह की सुविधा पहुँचाते रहे हैं। हमने गुरु हरकिशन अस्पताल सरकार को देने की पेशकश की है। दिल्ली सरकार कोरोना के उपचार के लिए बैंक्वेट हॉल और होटल का इस्तेमाल करना चाहती है। इसके लिए वहॉं जो संसाधन लगाए जाएँगे उनका बाद में कोई इस्तेमाल नहीं रहेगा। लेकिन यही संसाधन अस्पताल में लगाए गए तो उनका स्थायी इस्तेमाल हो सकता है। सरकार को सोच कर संसाधन लगाने चाहिए ताकि बाद में दिल्ली में इलाज के लिए एक बड़ा अस्पताल तैयार हो सके। गुरु हरिकिशन अस्पताल का सरकार जब तक चाहे इस्तेमाल कर सकती है।”

गौरतलब है कि गुरु हरकिशन अस्पताल का संचालन गुरुद्वारा बाला साहिब द्वारा किया जाता है। 500 बेड वाली जो इमारत देने की पेशकश DSGMC ने की है वह 11 एकड़ में फैला है। इसके फर्निंशिंग का कुछ काम अभी बाकी है।

सिरसा की ओर से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लिखे पत्र में कहा गया है कि अगर सरकार चाहे, तो वह उस जगह पर जाए और उसके इस्तेमाल की संभावना को देखे। होटल और बैंक्वेट हॉल में पैसा खर्च कर संसाधन जुटाने की बजाए इसका सही जगह उपयोग होना चाहिए। इससे संसाधन और उसमें किया गया निवेश बर्बाद नहीं होगा और बाद में भी दिल्ली के लोगों के काम आएगा। दिल्ली सरकार को लिखे गए पत्र में कमेटी ने इस महामारी के समय को मानवता के लिए मुश्किल समय बताया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अब या तो गुस्ताख रहेंगे या हम, क्योंकि ये गर्दन नबी की अजमत के लिए है’: तहरीक फरोग-ए-इस्लाम की लिस्ट, नरसिंहानंद को बताया ‘वहशी’

मौलवियों ने कहा कि 'जेल भरो आंदोलन' के दौरान लाठी-गोलियाँ चलेंगी, लेकिन हिंदुस्तान की जेलें भर जाएंगी, क्योंकि सवाल नबी की अजमत का है।

चीन के लिए बैटिंग या 4200 करोड़ रुपए पर ध्यान: CM ठाकरे क्यों चाहते हैं कोरोना घोषित हो प्राकृतिक आपदा?

COVID19 यदि प्राकृतिक आपदा घोषित हो जाए तो स्टेट डिज़ैस्टर रिलीफ़ फंड में इकट्ठा हुए क़रीब 4200 करोड़ रुपए को खर्च करने का रास्ता खुल जाएगा।

कोरोना पर कुंभ और दूसरे राज्यों को कोसा, खुद रोड शो कर जुटाई भीड़: संजय राउत भी निकले ‘नॉटी’

संजय राउत ने महाराष्ट्र में कोरोना के भयावह हालात के लिए दूसरे राज्यों को कोसा था। कुंभ पर निशाना साधा था। अब वे खुद रोड शो कर भीड़ जुटाते पकड़े गए हैं।

‘वीडियो और तस्वीरों ने कोर्ट की अंतरात्मा को हिला दिया है…’: दिल्ली दंगों में पिस्टल लहराने वाले शाहरुख को जमानत नहीं

दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली दंगों के आरोपित शाहरुख पठान को जमानत देने से इनकार कर दिया है।

ESPN की क्रांति, धार्मिक-जातिगत पहचान खत्म: दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के मैच की कॉमेंट्री में रिकॉर्ड

ESPN के द्वारा ‘बैट्समैन’ के स्थान पर ‘बैटर’ और ‘मैन ऑफ द मैच’ के स्थान पर ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ जैसे शब्दों का उपयोग होगा।

‘बेड दीजिए, नहीं तो इंजेक्शन देकर उन्हें मार डालिए’: महाराष्ट्र में कोरोना+ पिता को लेकर 3 दिन से भटक रहा बेटा

किशोर 13 अप्रैल की दोपहर से ही अपने कोरोना पॉजिटिव पिता का इलाज कराने के लिए भटक रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

छबड़ा में मुस्लिम भीड़ के सामने पुलिस भी थी बेबस: अब चारों ओर तबाही का मंजर, बिजली-पानी भी ठप

हिन्दुओं की दुकानों को निशाना बनाया गया। आँसू गैस के गोले दागे जाने पर हिंसक भीड़ ने पुलिस को ही दौड़ा-दौड़ा कर पीटा।

‘कल के कायर आज के मुस्लिम’: यति नरसिंहानंद को गाली देती भीड़ को हिन्दुओं ने ऐसे दिया जवाब

यमुनानगर में माइक लेकर भड़काऊ बयानबाजी करती भीड़ को पीछे हटना पड़ा। जानिए हिन्दू कार्यकर्ताओं ने कैसे किया प्रतिकार?

बेटी के साथ रेप का बदला? पीड़ित पिता ने एक ही परिवार के 6 लोगों की लाश बिछा दी, 6 महीने के बच्चे को...

मृतकों के परिवार के जिस व्यक्ति पर रेप का आरोप है वह फरार है। पुलिस ने हत्या के आरोपित को हिरासत में ले लिया है।

थूको और उसी को चाटो… बिहार में दलित के साथ सवर्ण का अत्याचार: NDTV पत्रकार और साक्षी जोशी ने ऐसे फैलाई फेक न्यूज

सोशल मीडिया पर इस वीडियो के बारे में कहा जा रहा है कि बिहार में नीतीश कुमार के राज में एक दलित के साथ सवर्ण अत्याचार कर रहे।

जानी-मानी सिंगर की नाबालिग बेटी का 8 सालों तक यौन उत्पीड़न, 4 आरोपितों में से एक पादरी

हैदराबाद की एक नामी प्लेबैक सिंगर ने अपनी बेटी के यौन उत्पीड़न को लेकर चेन्नई में शिकायत दर्ज कराई है। चार आरोपितों में एक पादरी है।

पहले कमल के साथ चाकूबाजी, अगले दिन मुस्लिम इलाके में एक और हिंदू पर हमला: छबड़ा में गुर्जर थे निशाने पर

राजस्थान के छबड़ा में हिंसा क्यों? कमल के साथ फरीद, आबिद और समीर की चाकूबाजी के अगले दिन क्या हुआ? बैंसला ने ऑपइंडिया को सब कुछ बताया।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,216FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe