Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजजामुन तोड़ने की बात पर जयप्रकाश की पीट-पीट कर हत्या: सांप्रदायिक तनाव के बीच...

जामुन तोड़ने की बात पर जयप्रकाश की पीट-पीट कर हत्या: सांप्रदायिक तनाव के बीच देवरिया से 7 गिरफ्तार

जयप्रकाश कुशवाहा ने जामुन के पेड़ के नीचे अपनी भैसों को बाँध रखा था। कुछ बच्चे जामुन को तोड़ने के लिए पेड़ पर पत्थर मार रहे थे। इस दौरान पत्थर बार-बार भैसों को लग रहा था। इसको देखते हुए कुशवाहा ने बच्चों को पत्थर फेंकने से मना किया। बच्चों को जामुन तोड़ने से मना करने पर दूसरे पक्ष के लोगों ने मारपीट चालू कर दी, जिससे...

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के सलेमपुर थाना क्षेत्र के इटहुआ चंदौली गाँव में जामुन तोड़ने को लेकर जयप्रकाश कुशवाहा (55 वर्षीय) नाम के एक शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। इस घटना में कुछ महिलाएँ सहित अन्य लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं। यह घटना शनिवार (27 जून, 2020) की शाम को घटित हुई है। पुलिस ने इस मामले में दूसरे पक्ष के 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

क्या था मामला

चंदौली गाँव के रहने वाले जयप्रकाश कुशवाहा ने गाँव के बाहर जामुन के पेड़ के नीचे अपनी भैसों को बाँध रखा था। वहीं शाम को पड़ोस में रहने वाले कुछ बच्चे जामुन को तोड़ने के लिए पेड़ पर पत्थर मार रहे थे। इस दौरान पत्थर बार-बार भैसों को लग रहा था। इसको देखते हुए कुशवाहा ने बच्चों को पत्थर फेंकने से मना किया। बच्चों को जामुन तोड़ने से मना करने पर दूसरे पक्ष के लोगों ने कुशवाहा के साथ मारपीट चालू कर दी।

वहीं कुशवाहा के परिजन जब उन्हें बचाने आए तो उन लोगों ने उनके साथ भी मारपीट की। इस कारण कुशवाहा के साथ उनके घर के 4-5 लोगों को भी गंभीर चोटें आईं। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुँची। सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सलेमपुर ले जाया गया। गंभीर रूप से घायल 55 वर्षीय जयप्रकाश कुशवाहा को चिकित्सकों ने जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। अस्पताल ले जाते वक़्त रास्ते में ही उनकी मौत हो गई।

वहीं पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर लिया है। देवरिया पुलिस अधीक्षक ने ट्वीट कर जानकारी दी, “इस घटना में दूसरे पक्ष के सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिसकी जाँच अनुसार कार्रवाई करवाई जा रही है।”

बता दें कि जयप्रकाश कुशवाहा की हत्या से गाँव में तनाव का माहौल बन गया है। स्थिति को सामान्य करने के लिए एसपी ने आधा दर्जन थानों की फोर्स और दो प्लाटून पीएसी को गाँव में तैनात कर दिया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

’23 साल में आप रोमांटिक होते हैं’: क्रांतिकारी उधम सिंह को फिल्म में शराब पीते दिखाया, डायरेक्टर ने दी सफाई – वो लंदन में...

ऊधम सिंह को फिल्म शराब पीते दिखाने पर शूजीत सरकार ने कहा कि वो उस दौरान लंदन में थे और उनके लिए ये सब नॉर्मल रहा होगा।

रुद्राक्ष पहनने और चंदन लगाने की सज़ा: सरकार पोषित स्कूल में ईसाई शिक्षक ने छात्रों को पीटा, माता-पिता ने CM स्टालिन से लगाई गुहार

शिक्षक जॉयसन ने पवित्र चंदन (विभूति) और रुद्राक्ष पहनने पर लड़कों को यह कहते हुए फटकार लगाई कि केवल उपद्रवी और मिसफिट लोग ही इसे पहनते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe