Friday, July 30, 2021
Homeदेश-समाजशिव मंदिर जाती महिला से छेड़छाड़, विरोध करने पर मारा: सद्दाम, रियाज, शाहिल, कैफ...

शिव मंदिर जाती महिला से छेड़छाड़, विरोध करने पर मारा: सद्दाम, रियाज, शाहिल, कैफ समेत 8 पर FIR

"मैं सोमवार को शिव मंदिर में पूजा करने जा रही थी। दूसरे समुदाय के युवकों का समूह पीपल पेड़ के नीचे बैठा हुआ था। मुझे देखकर फब्तियाँ कसते हुए गालियाँ देने लगा। विरोध करने पर लाठी-डंडों से मारपीट की।"

झारखंड में धनबाद के जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के जियलगोरा में कुछ दिन पहले एक हिंदू महिला से छेड़खानी का मामला सामने आया। वहाँ सोमवार (जुलाई 20, 2020) के दिन शिव मंदिर जाती हुई महिला पर दूसरे समुदाय के कुछ लड़कों ने फब्तियाँ कसनी शुरू की और महिला के विरोध करने पर उसकी पिटाई भी की।

इस घटना में महिला बुरी तरह घायल हो गई। मामला दो समुदाय से जुड़ा होने के कारण इलाके में तनाव फैल गया। परिजनों व स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना जोड़ापोखर पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर लोगों को शांत कराने का पूरा प्रयास किया। घटना की शाम डीएसपी एके सिन्हा ने भी पहुँचकर थाना प्रभारी से घटना के बारे में जानकारी ली। बाद में पूरे क्षेत्र में पुलिस की तैनाती कर दी गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस केस में अभी तक जिन आरोपित युवकों के नाम शिकायत लिखी गई है, उनकी पहचान सद्दाम अंसारी, रियाज, नसरुद्दीन, मिटू अंसारी, शहादत, शाहिल, कैफ, शहबत व मोइनुद्दीन के पुत्र के रूप में हुई है। रिपोर्ट्स में इनमें से कुल 4 लोगों को हिरासत में बताया जा रहा है।

हालाँकि ऑपइंडिया ने इस संबंध में जब जोड़ापोखर थाना क्षेत्र में बात की तो पुलिस ने बताया कि मामले में 8 लोगों पर केस दर्ज हुआ है। जिसके बाद अभी केवल शहादत अंसारी नाम का आरोपित हिरासत में लिया गया है और बाकियों के लिए छापेमारी चल रही है। आज शहादत अंसारी को जेल भेजा जाएगा।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट की मानें तो घटना के बाद थाना प्रभारी सत्यम कुमार ने मौके पर पहुँचकर जख्मी महिला को इलाज के लिए चासनाला अस्पताल भेज दिया था। लेकिन इसके बाद दोनों तरफ से ईंट-पत्थर चलने लगे। कई लोग लाठी, डंडे लेकर घर से निकल गए। अनेक लोग चोटिल हुए। इस घटना के बाद यहाँ के दो समुदाय के लोगों में तनाव व्याप्त है।

इस मामले में दूसरे पक्ष यानी सद्दाम की माँ अनु परवीन ने थाना में ऑनलाइन मामला दर्ज करवाया है। उनका आरोप है कि उनका बेटा शिव मंदिर के पास अपने दोस्तों के साथ पबजी खेल रहा था। तभी कुछ युवक उनके खिलाफ फब्तियाँ कसने लगे।

इस दौरान उनके पुत्र ने उन युवकों का विरोध किया तो उन्हें चाकू दिखाकर मारपीट करते हुए पेट्रोल छिड़ककर जला देने की धमकी दी गई। धमकी देने वाले युवकों में राजकुमार साव, राजू साव, अमरजीत साव, सुनील साव आदि युवक शामिल थे। हालाँकि ऑपइंडिया ने जब इस काउंटर केस के बारे में पुलिस से पूछा तो उन्होंने ऐसे किसी भी केस के दर्ज होने से मना कर दिया।

उल्लेखनीय है कि इस मामले में पीड़ित महिला गीता देवी ने भी अपना बयान दर्ज कराया है। लेकिन उनका बयान और सद्दाम की माँ की शिकायत (जिसे मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है) में बहुत अंतर है।

पीड़ित महिला ने अपने बयान में कहा है कि वो सोमवार की शाम शिव मंदिर में पूजा करने जा रही थीं। तभी दूसरे समुदाय के युवकों का समूह पीपल पेड़ के नीचे बैठा हुआ था। जो उन्हें देखकर फब्तियाँ कसते हुए गालियाँ देने लगे। विरोध करने पर उनके साथ लाठी-डंडे के साथ मारपीट की। इससे उनके सिर और कमर में गंभीर चोट आई है।

बता दें कि फिलहाल पीड़ित महिला का इलाज पीएमसीएच में चल रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

विजय माल्या के किंगफिशर एयरलाइंस ने IDBI को डूबोए थे जितने पैसे, पाई-पाई ब्याज के साथ वसूल: मुनाफे में 318% का उछाल

कभी जिस IDBI को भगोड़े कारोबारी विजय माल्या ने डूबो दिया उस बैंक ने इस तिमाही में भारी मुनाफा कमाया है। वजह किंगफिशर एयरलाइंस से सारी वसूली बैंक ने कर ली है।

‘मनमोहन सिंह ने की थी मनमर्जी, मुसलमान स्पेशल क्लास नहीं’: सुप्रीम कोर्ट में सच्चर कमेटी की सिफारिशों को चुनौती

सुप्रीम कोर्ट में सच्चर कमेटी की सिफारिशों को लागू करने को चुनौती दी गई है। याचिका 'सनातन वैदिक धर्म' नामक संगठन के छह अनुयायियों ने दायर की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,994FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe