Tuesday, May 17, 2022
Homeदेश-समाजलॉकडाउन में असुरक्षित सेक्स से 85000 को हुआ HIV, 10000 संक्रमित सिर्फ महाराष्ट्र में:...

लॉकडाउन में असुरक्षित सेक्स से 85000 को हुआ HIV, 10000 संक्रमित सिर्फ महाराष्ट्र में: RTI से खुलासा

कोविड लॉकडाउन के दौरान असुरक्षित सेक्स करने के दौरान देश भर में 85 हज़ार से ज़्यादा लोग एचआईवी (HIV) से संक्रमित हुए। इनमें सबसे ज्यादा महाराष्ट्र के लोग हैं। इसके बाद आँध्रप्रदेश का नंबर आता है।

देश में साल 2020-21 में कोरोना (Corona virus) की महामारी के चलते लॉकडाउन लग गया था। जब पूरा देश अपने घरों में बंद था, उस दौरान देश भर में 85 हज़ार से ज़्यादा लोग एचआईवी (HIV) से संक्रमित हुए। एक आरटीआई के मुताबिक, ये लोग असुरक्षित सेक्स की वजह से इस गंभीर बीमारी की चपेट में आए।

RTI के जरिए सामने आई जानकारी से पता लगा है कि इसमें सबसे ज़्यादा लोग महाराष्ट्र के हैं। वहाँ कुल 10,498 लोग संक्रमित हुए हैं। इसके अलावा, आंध्र प्रदेश में 9521 और कर्नाटक में 8947 संक्रमित पाए गए। बड़ी जनसंख्या वाले राज्यों में से पश्चिम बंगाल में सबसे कम 2,757 और मध्य प्रदेश में 3037 लोग एचआईवी पॉजिटिव (HIV Positive) पाए गए।

एक साल में 85 हजार HIV पॉजिटिव

मध्य प्रदेश के नीमच के रहने वाले RTI कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ की याचिका पर जवाब देते हुए राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (NACO) ने बताया कि 2020-21 के दौरान असुरक्षित सेक्स की वजह से कुल 85,268 लोग HIV से संक्रमित हुए। NACO ने अपने जवाब में बताया कि संगठन ने यह जानकारी खुद एचआईवी पॉजिटिव लोगों की ओर से दिए गए जवाबों के आधार पर जुटाई है।

NACO के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि यह संख्या बढ़ भी सकती है यदि लॉकडाउन के दौरान संक्रमित हुए लोग खुद टेस्टिंग सेंटर पर जाकर इसकी रिपोर्टिंग करें। इसके अलावा, लॉकडाउन अवधि के दौरान 36 राज्यों में ‘माँ से बच्चे’ में संक्रमण के 300 मामले भी सामने आए हैं। RTI के जवाब में कहा गया, “300 मामलों में, महाराष्ट्र और कर्नाटक फिर से 31 ऐसे मामलों के साथ टॉप पर हैं। इसके बाद ओडिशा में 24 मामले, राजस्थान में 22 मामले, उत्तर प्रदेश में 21 मामले, मध्य प्रदेश में 20 मामले, गुजरात और तेलंगाना में 18-18 मामले, पश्चिम बंगाल में 13, बिहार में 10 और आंध्र प्रदेश में 15 मामले सामने आए हैं।

घट रही है HIV संक्रमितों की संख्या

आँकड़ों के अनुसार, पिछले एक दशक में असुरक्षित सेक्स की वजह से एचआईवी संक्रमण फैलने के मामलों में कमी आई है। 2011-12 में यह संख्या 2.4 लाख थी, वहीं यह संख्या 2019-20 में घटकर 1.44 लाख रह गई। 2020-21 में संक्रमितों की संख्या और घटी और कुल 85,268 लोग HIV से संक्रमित हुए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,313FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe