Thursday, May 30, 2024
Homeदेश-समाजलॉकडाउन में असुरक्षित सेक्स से 85000 को हुआ HIV, 10000 संक्रमित सिर्फ महाराष्ट्र में:...

लॉकडाउन में असुरक्षित सेक्स से 85000 को हुआ HIV, 10000 संक्रमित सिर्फ महाराष्ट्र में: RTI से खुलासा

कोविड लॉकडाउन के दौरान असुरक्षित सेक्स करने के दौरान देश भर में 85 हज़ार से ज़्यादा लोग एचआईवी (HIV) से संक्रमित हुए। इनमें सबसे ज्यादा महाराष्ट्र के लोग हैं। इसके बाद आँध्रप्रदेश का नंबर आता है।

देश में साल 2020-21 में कोरोना (Corona virus) की महामारी के चलते लॉकडाउन लग गया था। जब पूरा देश अपने घरों में बंद था, उस दौरान देश भर में 85 हज़ार से ज़्यादा लोग एचआईवी (HIV) से संक्रमित हुए। एक आरटीआई के मुताबिक, ये लोग असुरक्षित सेक्स की वजह से इस गंभीर बीमारी की चपेट में आए।

RTI के जरिए सामने आई जानकारी से पता लगा है कि इसमें सबसे ज़्यादा लोग महाराष्ट्र के हैं। वहाँ कुल 10,498 लोग संक्रमित हुए हैं। इसके अलावा, आंध्र प्रदेश में 9521 और कर्नाटक में 8947 संक्रमित पाए गए। बड़ी जनसंख्या वाले राज्यों में से पश्चिम बंगाल में सबसे कम 2,757 और मध्य प्रदेश में 3037 लोग एचआईवी पॉजिटिव (HIV Positive) पाए गए।

एक साल में 85 हजार HIV पॉजिटिव

मध्य प्रदेश के नीमच के रहने वाले RTI कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ की याचिका पर जवाब देते हुए राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (NACO) ने बताया कि 2020-21 के दौरान असुरक्षित सेक्स की वजह से कुल 85,268 लोग HIV से संक्रमित हुए। NACO ने अपने जवाब में बताया कि संगठन ने यह जानकारी खुद एचआईवी पॉजिटिव लोगों की ओर से दिए गए जवाबों के आधार पर जुटाई है।

NACO के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि यह संख्या बढ़ भी सकती है यदि लॉकडाउन के दौरान संक्रमित हुए लोग खुद टेस्टिंग सेंटर पर जाकर इसकी रिपोर्टिंग करें। इसके अलावा, लॉकडाउन अवधि के दौरान 36 राज्यों में ‘माँ से बच्चे’ में संक्रमण के 300 मामले भी सामने आए हैं। RTI के जवाब में कहा गया, “300 मामलों में, महाराष्ट्र और कर्नाटक फिर से 31 ऐसे मामलों के साथ टॉप पर हैं। इसके बाद ओडिशा में 24 मामले, राजस्थान में 22 मामले, उत्तर प्रदेश में 21 मामले, मध्य प्रदेश में 20 मामले, गुजरात और तेलंगाना में 18-18 मामले, पश्चिम बंगाल में 13, बिहार में 10 और आंध्र प्रदेश में 15 मामले सामने आए हैं।

घट रही है HIV संक्रमितों की संख्या

आँकड़ों के अनुसार, पिछले एक दशक में असुरक्षित सेक्स की वजह से एचआईवी संक्रमण फैलने के मामलों में कमी आई है। 2011-12 में यह संख्या 2.4 लाख थी, वहीं यह संख्या 2019-20 में घटकर 1.44 लाख रह गई। 2020-21 में संक्रमितों की संख्या और घटी और कुल 85,268 लोग HIV से संक्रमित हुए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो पुराना फोन आप यूज नहीं करते उसके बारे में मुझे बताइए… कहीं अपनी ‘दुकानदारी’ में आपकी गर्दन न नपवा दे न्यूजलॉन्ड्री वाला ‘झबरा’

अभिनंदन सेखरी ने बताया है कि वह फोन यहाँ बेघर लोगों को देने जा रहा है। ऐसे में फोन देने वाले को नहीं पता होगा कि फोन किसके पास जा रहा है।

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -