Thursday, June 20, 2024
Homeदेश-समाजसुकेश चंद्रशेखर के खिलाफ एक और चार्जशीट, करोड़ों की ठगी का है मामला: ED...

सुकेश चंद्रशेखर के खिलाफ एक और चार्जशीट, करोड़ों की ठगी का है मामला: ED ने बताया – जाँच को भटका रहा है महाठग, अधिकारियों को कर रहा गुमराह

ईडी की तरफ से कहा गया है कि पूछताछ में सुकेश की तरफ से सबूतों के बारे में जानकारी नहीं दी जा रही है। सुकेश जाँच को भटका रहे हैं और ऑफिसर्स को गुमराह भी कर रहे हैं।

महाठग सुकेश चंद्रशेखर के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शनिवार (15 अप्रैल, 2023) को मनी लॉन्ड्रिंग के एक अन्य मामले में चार्जशीट दाखिल की। यह मामला मलविंदर सिंह की पत्नी जपना सिंह द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत से जुड़ा है। जापना सिंह ने सुकेश पर धोखे से 3.5 करोड़ रुपए ठगने का आरोप लगाया है।

ईडी द्वारा चार्जशीट पटियाला हाउस कोर्ट में जज देवेंद्र सिंह जांगला के समक्ष दायर की गई है। मामला सुनवाई के लिए 18 अप्रैल, 2023 को सूचीबद्ध किया गया है। शिकायतकर्ता जापना सिंह के अनुसार सुकेश चंद्रशेखर ने खुद को एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी बताकर उनसे मुलाकात की थी। उन्होंने उनके पति मलविंदर सिंह को जेल से छुड़ाने के बदले पैसे वसूले थे।

ईडी ने चार्जशीट में सुकेश की रिमांड माँगी है। चार्जशीट में कहा गया है कि उनके पास सुकेश के खिलाफ भौतिक सबूत (Material Evidence) और दूसरे कारण हैं जिससे यह साबित हो सकता है कि आरोपित मनी लॉन्ड्रिंग के अपराध का दोषी है। सुकेश पर काली कमाई को सफेद करने के आरोप हैं।

ईडी की तरफ से कहा गया है कि पूछताछ में सुकेश की तरफ से सबूतों के बारे में जानकारी नहीं दी जा रही है। सुकेश जाँच को भटका रहा है और ऑफिसर्स को गुमराह भी कर रहा है। ईडी का कहना है कि सुकेश से सच उगलवाने के लिए हिरासत में लेकर पूछताछ जरूरी है।

जपना सिंह के पति मलविंदर सिंह दरअसल कारोबारी शिविंदर सिंह के भाई हैं। सुकेश जपना सिंह के साथ-साथ रेलिगेयर एंटरप्राइजेज के मालिक शिविंदर सिंह की पत्नी अदिति सिंह को भी ठग चुका है। अदिति सिंह से उसने 200 करोड़ रुपए की ठगी की है। शिविंदर और मलविंदर दोनों भाई जेल में बंद हैं। इसी बात का फायदा सुकेश ने उठाया और दोनों की पत्नियों से करोड़ों की ठगी की। इस मामले में दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने एफआईआर दर्ज की हुई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -