Monday, November 29, 2021
Homeदेश-समाजनवाब मलिक के मंत्रालय पर ED का साया: महाराष्ट्र वक्फ बोर्ड के 7 ठिकानों...

नवाब मलिक के मंत्रालय पर ED का साया: महाराष्ट्र वक्फ बोर्ड के 7 ठिकानों पर छापेमारी, दामाद ने फडणवीस से माँगे ₹5 करोड़

वक्फ बोर्ड लैंड केस में ये कार्रवाई की गई। पुणे में वक्फ बोर्ड की जमीन को लेकर घोटाले का मामला सामने आया था, जिसकी जाँच अब ED ने अपने हाथों में ले ली है।

महाराष्ट्र वक्फ बोर्ड के 7 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) की छापेमारी हुई है। राज्य में वक्फ बोर्ड NCP नेता नवाब मलिक के मंत्रालय के अंतर्गत आता है। वक्फ बोर्ड लैंड केस में ये कार्रवाई की गई। पुणे में वक्फ बोर्ड की जमीन को लेकर घोटाले का मामला सामने आया था, जिसकी जाँच अब ED ने अपने हाथों में ले ली है। जाँच एजेंसी की कार्रवाई से नवाब मलिक की मुश्किलें बढ़ सकती हैं, क्योंकि इस मंत्रालय की जिम्मेदारी उद्धव ठाकरे की सरकार में वही संभाल रहे हैं।

इसी बीच ‘रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क’ ने अपने सूत्रों के हवाले से बताया है कि महाराष्ट्र कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले कुछ दिनों में ‘महत्वपूर्ण मुद्दे उठाने के लिए’ नवाब मलिक की पीठ थपथपाई। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन के ड्रग्स ममले में NCB द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद से ही नवाब मलिक एजेंसी के मुंबई जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के पीछे पड़े हैं। अब उनके और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के बीच जुबानी जंग चल रही है।

इसी बीच नवाब मलिक के दामाद समीर खान ने महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस को मानहानि का नोटिस भेजा है। उन्होंने झूठे आरोप लगाने की बात करते हुए मानसिक प्रताड़ना, पीड़ा और वित्तीय नुकसान के एवज में 5 करोड़ रुपए की माँग की है। इसमें कहा गया है कि ड्रग्स मामले की जाँच जारी है, इसके बावजूद फडणवीस ने आरोप लगाए। साथ ही दावा किया गया कि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है। समीर खान के अनुसार, उनके घर तलाशी ली गई थी लेकिन कुछ मिला ही नहीं।

नवाब मलिक ने देवेंद्र फडणवीस के खुलासे के बाद ‘हाड्रोजन बम’ फोड़ने की बात कही थी। उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री के रियाज भाटी से रिश्ते हैं, जो अंडरवर्ल्ड के सरगना दाऊद इब्राहिम का करीबी है। इसके कुछ ही देर बाद महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने ‘आज के विचार (Thought Of The Day)’ के नाम से ये उक्ति शेयर की। माना जा रहा है कि नवाब मलिक के आरोपों की प्रतिक्रिया स्वरूप उन्होंने ये शेयर किया है।

बता दें कि फडणवीस ने सॉलिडस नाम की एक कंपनी का जिक्र करते हुए कहा था कि नवाब मलिक पहले इसके सदस्य थे और अब उन्होंने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने दावा किया था कि NCP नेता नवाब मलिक का परिवार अब भी इस कंपनी से जुड़ा हुआ है। उनका आरोप है कि सॉलिडस कंपनी ने 2007 में 2053 रुपए प्रति वर्ग फुट में जमीन खरीदी थी। तीन एकड़ जमीन अंडरवर्ल्ड के लोगों से महज 30 लाख रुपए में खरीदी गई थी, जिसमें से 20 लाख रुपए दिए गए। उन्होंने दाऊद से जुड़े रहे सलीम पटेल और 1993 मुंबई धमाकों के आरोपित सरदार शाह वली खान से नवाब मलिक के रिश्तों को उजागर किया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

‘जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते’: केजरीवाल के चुनावी वादों पर बरसे सिद्धू, दागे कई सवाल

''अपने 2015 के घोषणापत्र में 'आप' ने दिल्ली में 8 लाख नई नौकरियों और 20 नए कॉलेजों का वादा किया था। नौकरियाँ और कॉलेज कहाँ हैं?"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe