Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाज'प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ... 6 घंटे तक बंधक...

‘प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ… 6 घंटे तक बंधक बना कर रेप’: LGBTQ एक्टिविस्ट महिला पर आरोप

"उसने मेरे वजाइना में हाथ घुसा दिया। वो गहरी और गहरी घुसाती हुई चली गई। मुझे खासा दर्द हो रहा था लेकिन वो कह रही थी कि वो एक पेड़ रोप रही है।"

LGBTQ+ एक्टिविस्ट दिव्या दुरेजा पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं। एक योग शिक्षिका ने उनके ऊपर ये आरोप लगाए। साथ ही ‘LGBTQ एक्टिविस्ट ने मेरा रेप किया’ वाला प्लाकार्ड लेकर सोशल मीडिया पर अपना रोष भी प्रकट किया।

इंस्टाग्राम पर Elodie नामक महिला ने ये आरोप लगाया है। उन्होंने नॉर्थ गोवा के पर्नेम पुलिस थाने में FIR भी दर्ज कराई है। इंस्टाग्राम पर अपना दुःख बयाँ करते हुए उन्होंने लिखा:

“इसके बारे में लिखना काफी कठिन और दर्द भरा है। यहाँ तक कि ये शर्मिंदगी भरा भी है, इसके बावजूद भी कि मुझे पता है कि जो भी हुआ, उसके लिए मैं जिम्मेदार नहीं हूँ। मेरा शोषण करने वाली की लोकप्रियता को देखते हुए काफी समय तक हिचकिचाने के बाद मैं समुदाय के लिए इसे अच्छा समझती हूँ कि जो भी हो, उसके बारे में मैं बताऊँ। इसके लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन, मैं दोनों माध्यमों का इस्तेमाल करूँगी।”

उन्होंने लिखा कि पिछले सप्ताह एक ‘TEDx वक्ता, LGBTQ एक्टिविस्ट और मेन्टल हेल्थ एडवोकेट दिव्या दुरेजा द्वारा मेरा अपहरण किया गया, यौन शोषण किया गया और मारपीट की गई। उन्होंने बताया कि दिव्या को गिरफ्तार किया जा चुका है लेकिन उन्हें डर है कि बाहर निकल कर वो किसी और के साथ भी ऐसा ही करेगी। बकौल पीड़िता, दिव्या ने उनसे इंस्टाग्राम पर संपर्क कर के साथ में लंच की पेशकश की थी।

पीड़िता का कहना है कि मानसिक स्वास्थ्य और LGBTQ एक्टिविस्ट होने के कारण वो दिव्या से खासी प्रभावित थीं, इसलिए उन्होंने लंच के लिए हामी भर दी। वहाँ उनकी एक अन्य दोस्त भी थी, जो फेमिनिज्म पर पुस्तक लिख रही है।

Elodie का कहना है कि वो लंच के लिए दिव्या को लेने अश्वेम स्थित ‘होटल सी व्यू रिसोर्ट’ गईं, जहाँ दिव्या ने उन्हें अपने होटल के कमरे में बुलाया और बालों को ठीक करने को लेकर मदद माँगी। पीड़िता ने आगे लिखा है:

“उसने मुझे मेरे पीठ के दर्द को ठीक करने का झूठा वादा किया और इसी बहाने उसने मुझे ड्रग्स देकर अपने कमरे में 6 घंटों तक बंद रखा। साथ ही उसने भूत-प्रेतों से बात करने वाली एक तंत्र क्रिया करने का भी ढोंग रचाया। उसने दवा किया कि हम दोनों एक-दूसरे से पिछले जन्म से ही जुड़े हुए हैं और हमारा मिलना लिखा हुआ था। और इस तंत्र क्रिया के बाद दोनों हमेशा के लिए साथ हो जाएँगे। आप जितना सोच सकते हैं, मुझे उससे कहीं ज्यादा विक्षिप्तता महसूस हुई। उसने मुझे बिना रुके 1 लिटर पानी पिला डाला। वो कह रही थी कि मुझे नकारात्मक ऊर्जाओं से बचाने के लिए ये ज़रूरी है।”

Elodie का कहना है कि इसके बाद दिव्या उसे पीछे से खींचने लगी और ‘बेबी, तुम ये कर सकती हो’ – ऐसा ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी। पीड़िता ने आगे बताया कि दिव्या ने उन्हें दीवार से सटा कर आँखें बंद कर के खड़ा कर दिया और 4 घंटे तक ऐसे ही रखा। जब भी वो आँखें खोलतीं, दिव्या दुरेजा जोर-जोर से चिल्लाने लगतीं। वो दावा करती रहीं कि ये एक प्रकार की तंत्र क्रिया है, जिससे दोनों एक हो जाएँगे।

वहीं FIR कॉपी के भीतर लिखा है कि दिव्या ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट्स के भीतर अपनी उँगलियाँ घुसा डालीं और उसके शरीर पर जगह-जगह किस करने लगी। Elodie ने एक अंग्रेजी कविता भी पोस्ट की, जिसमें दिव्या ने लिखा कि दोनों हमेशा के लिए एक हो जाएँगे, यही भाग्य में लिखा है। पीड़िता ने लिखा कि काफी देर खड़े रखने के बाद दिव्या ने उन्हें बिस्तर पर भेजा। इसके आगे का हिस्सा और भी शॉकिंग है, जिसके अनुसार:

“उसने मेरे वजाइना में हाथ घुसा दिया। वो गहरी और गहरी घुसाती चली गई। मुझे खासा दर्द हो रहा था लेकिन वो कह रही थी कि वो एक पेड़ रोप रही है। जब मैं दर्द से चिल्ला कर वहाँ से जाने के लिए कहने लगी तो उसने कहा कि आओ प्यार करें। काफी देर बाद उसने कहा कि अब आत्मा ने आदेश दिया है कि वो जा सकती है। कई वेटरों ने भी ऐसा सुना और पुलिस के सामने बताया। दिव्या को फिर कस्टडी में लिया गया।”

पीड़िता ने इंस्टाग्राम पर बयाँ किया अपना दर्द

इंस्टाग्राम पर इतना सब कुछ सामने आने के बाद लोगों ने पीड़िता के साथ सहानुभूति जताई। लोगों ने ईश्वर से उन्हें शक्ति देने की प्रार्थना की। Elodie ने भी कई स्टोरीज डाल कर खुद के दर्द के बारे में लोगों को बताया और मदद के लिए उनका धन्यवाद किया। इस मामले में FIR में IPC की धारा-342 (किसी को गलत तरीके से बंधक बनाना) और धारा-354 (किसी स्त्री की लज्जा भंग करना और उसका उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक मंदिर जिसे कहते हैं तांत्रिकों की यूनिवर्सिटी, इसके जैसा ही है लुटियंस का बनाया संसद भवन: मुरैना का चौसठ योगिनी मंदिर

माना जाता है कि मुरैना के चौसठ योगिनी मंदिर से ही प्रेरित होकर भारत की संसद भवन का डिजाइन लुटियंस ने तैयार किया था।

5 करोड़ कोविड टीके लगाने वाला पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश, 1 दिन में लगे 25 लाख डोज: CM योगी ने लोगों को दी...

उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने पाँच करोड़ कोरोना वैक्सीनेशन का आँकड़ा पार कर लिया है। सीएम योगी ने बधाई दी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,864FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe