Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजमुख़्तार अंसारी की मौत: हार्ट अटैक के बाद अस्पताल ले जाया गया था माफिया,...

मुख़्तार अंसारी की मौत: हार्ट अटैक के बाद अस्पताल ले जाया गया था माफिया, पूर्वांचल के कई जिलों में बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था

बाँदा जिले के DM और SP उस अस्पताल में पहुँच गए हैं जहाँ मुख़्तार अंसारी को इलाज के लिए लाया गया है। इस बीच पूर्वांचल के कई जिलों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के निर्देश दिए गए हैं।

उत्तर प्रदेश के कुख्यात माफिया मुख़्तार अंसारी की बाँदा जेल में मौत की खबर है। मौत की वजह हार्ट अटैक आना बताया जा रहा है। गुरुवार (28 मई, 2024) को अचानक मुख़्तार की तबियत खराब हुई और वो जमीन में गिर पड़ा। जेल डॉक्टरों ने शुरुआती इलाज का प्रयास किया लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। आखिरकार मुख़्तार को कड़ी सुरक्षा के बीच बाँदा के मेडिकल कॉलेज में लाया गया। यहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाँदा जिले के DM और SP उस अस्पताल में पहुँच गए हैं जहाँ मुख़्तार अंसारी को इलाज के लिए लाया गया है। इस बीच पूर्वांचल के कई जिलों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के निर्देश दिए गए हैं। मुख़्तार अंसारी के परिजन बांदा के लिए निकल गए हैं। उनके आधी रात के आसपास बाँदा पहुँचने की संभावना जताई जा रही है। शुरुआत मेंकाफी देर तक मुख़्तार की मौत पर सस्पेंस बना रहा। जेल अधिकारी से ले कर अस्पताल और जिले के प्रशासनिक स्टाफ ने फोन उठाना बंद कर दिया था। आखिरकार देर रात 10 बजे के बाद मुख़्तार अंसारी की मौत की पुष्टि हुई।

मुख़्तार की मौत की पुष्टि होते ही पूर्वांचल के कई जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है। कई हिस्सों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है। ऑपइंडिया को मिली जानकारी के मुताबिक गाजीपुर में मुख़्तार अंसारी के गृह बाजार मुहम्मदाबाद में तमाम बड़े प्रशासनिक अधिकारी भेजे गए हैं। यहाँ मुख़्तार अंसारी के पैतृक कब्रिस्तान पर भी लोगों की हलचल देखी जा सकती है। आसपास के कुछ लोग भी मुख़्तार के घर पर जमा होना शुरू हो चुके हैं।

बताते चलें कि एक दिन पहले मुख़्तार अंसारी बांदा के मेडिकल कॉलेज में चेकअप के लिए गया था। तब वह लगभग 14 घंटों तक अस्पताल में रहा। यहाँ 3 डॉक्टरों के पैनल ने उसका इलाज किया था। खून और अन्य चीजों के सैम्पल ले कर जाँच के लिए भेजे गए थे। आखिरकार मेडिकल कॉलेज ने आधिकारिक तौर पर बताया था कि मुख़्तार अंसारी फिट है। रात में ही मुख़्तार को वापस जेल भेज दिया गया था। अगले ही दिन मुख़्तार अंसारी की मौत हो गई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -