पूर्व बसपा सांसद शाहिद मलिक के भाई-भतीजे-बेटे ने सरे बाजार की फायरिंग, सलमान, समीर गिरफ्तार

एसएसपी साहनी का कहना है कि फिलहाल नामजद सलमान और समीर को गिरफ्तार कर लिया गया, बाकी आरोपित भी जल्द ही गिरफ्तार किए जाएँगे। फायरिंग के मद्देनज़र अखलाख परिवार के पास कितने लाइसेंस हैं, इसकी रिपोर्ट एसएसपी को भेजी गई हैं। इनके निरस्तीकरण पर कार्रवाई की जाएगी।

उत्तरप्रदेश के महानगर मेरठ में अतिसंवेदनशील इलाका कहे जाने वाले गुदड़ी बाजार में मंगलवार को अंधाधुँध फायरिंग हुई। हालाँकि, पुलिस ने अगले दिन बुधवार को वहाँ जाकर जब पूछताछ की तो वहाँ किसी ने अपना मुँह नहीं खोला, लेकिन अब पता चला है कि मंगलवार की रात पूर्व बसपा सांसद एवं पूर्व मेयर शाहिद अखलाक मलिक के बेटे साकिब अखलाक, भाई राशिद अखलाक और भतीजे यासिर अखलाक ने वहाँ फायरिंग की थी, जिसमें कई लोग घायल हो गए। पुलिस ने सभी नामजदों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज कर ली हैं। इलाके में फोर्स को तैनात कर दिया गया हैं। दो नामजदों की गिरफ्तारी हो चुकी हैं और साथ ही दोनों पक्षों के 25-25 लोगों को 5-5 लाख के रुपए के मुचलके पर पाबंद किया गया है।

नवभारत में प्रकाशित खबर

इस मामले में शाहिद अखलाख का कहना है कि हमारा परिवार हमेशा अमन के लिए काम करता है। FIR में नामजदगी गलत है। राशिद बीच-बचाव करने गया था। फायरिंग की बात झूठी है। जाँच में सब साफ हो जाएगा। जबकि बता दें कि शाहिद के बेटे राशिद पर आरोप है कि उसने गोलियाँ चलाईं थीं, जिसमें आशिक और अमान घायल हो गए थे।

इस मामले में पुलिस उपाधीक्षक दिनेश शुक्ला की मानें तो मंगलवार को सलाउद्दीन कुरैशी और आशिक इलाही पक्ष में बच्चों के विवाद से तनातनी हुई थी। हालाँकि, उस समय समझौता हो गया था, लेकिन रात 10 बजे (FIR के मुताबिक) पूर्व सांसद के भाई राशिद अखलाक, बेटा साकिब अखलाख, भतीजा यासीर अखलाक, सलाउद्दीन और नौशाद ने आशिक की दुकान पर जाकर मारपीट की और तोड़फोड़ करने लगे।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार सीओ दिनेश मिश्रा ने बताया कि बुधवार को जब सिटी मजिस्ट्रेट के साथ जाँच के लिए गए, तो वहाँ रहने वाले बयान देने के बचते रहे। अब अखलाख परिवार के पास कितने लाइसेंस हैं, इसकी रिपोर्ट एसएसपी को भेजी गई हैं। इनके निरस्तीकरण पर कार्रवाई की जाएगी। इलाके में पुलिस की गश्त जारी है।

इसके अलावा दूसरे पक्ष की ओर से सलमान ने तहरीर देकर अपने ऊपर हमले करने के आरोप में आशिक पर इल्जाम लगाया है। जाँच के आधार पर आगे कार्रवाई होगी। एसएसपी साहनी का कहना है कि फिलहाल नामजद सलमान और समीर को गिरफ्तार कर लिया गया, बाकी आरोपित भी जल्द ही गिरफ्तार किए जाएँगे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

श्री रवीश कुमार रसायन विज्ञान प्रयोगशाला में 'फेक न्यूज डिटेक्टर मॉलीकूल' बनाते हुए (सॉल्ट न्यूज द्वारा सत्यापित तस्वीर)
एनडीटीवी की टीआरपी पाताल में धँसते जा रही है और रवीश नाक में धँसने वाला मॉलिक्यूल बनाने की बात कर रहे हैं। उनका मीडिया संस्थान कंगाल होने की ओर अग्रसर है और वो युवाओं को बौद्धिक रूप से कंगाल बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,921फैंसलाइक करें
23,424फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: