Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाज'यही मेन है, इसे सबक सिखाओ... निकालो सामान (हथियार)': फहीम ने हिंदू संगठन से...

‘यही मेन है, इसे सबक सिखाओ… निकालो सामान (हथियार)’: फहीम ने हिंदू संगठन से जुड़े युवक पर किया जानलेवा हमला, कत्लखानों की शिकायत से था नाराज

हिन्दू रक्षा दल ने कहा, "दीपक तेवतिया ने हमलावर फहीम को जेल भेजवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन पर हमले की वजह भी यही है। हमला पूरी फील्डिंग के साथ किया गया है।

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में हिन्दू रक्षा दल के महानगर अध्यक्ष दीपक तेवतिया पर 25 नवम्बर 2021 (गुरुवार) को जानलेवा हमला किया गया। घटना में शामिल फहीम को मौके पर ही पकड़ लिया गया, जबकि शाहरुख़, सद्दाम, जीशान, अरशद, साहिल नाम के आरोपित फरार हो गए। इस मामले में कुछ अज्ञात हमलावर भी शामिल हैं, जिनकी तलाश की जा रही है। इस हमले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिस की पुष्टि करते हुए गाज़ियाबाद पुलिस ने कार्रवाई की बात कही है। ऑपइंडिया के पास इस घटना की FIR मौजूद है।

तहरीर के बताया गया है कि घटना के दिन शाम करीब 4 बजे पीड़ित मार्केट में स्कूटी ठीक करवाने गया था। उसी दौरान लगभग 1 दर्जन लड़कों ने जान से मारने की नियत से उस पर अचानक हमला कर दिया। हमले के समय वह कह रहे थे कि ‘तू बहुत बड़ा नेता बनता है। तू ही मेन आदमी है। आज तुझे सबक सिखा देंगे।’ पीड़ित ने तहरीर में आगे बताया, “मुझे मारने के लिए लाठी-डंडों का इस्तेमाल किया गया। मेरी गर्दन को दबाया जा रहा था। शोर सुनकर मेरे पिताजी व अन्य लोग आए तो हमलावर भाग निकले। जाते-जाते उन्होंने चेतावनी दी कि आज बच गए हो, आगे नहीं छोड़ेंगे।” इस दौरान हमलावरों ने पीड़ित की स्कूटी को तोड़ डाला और रेडमी का उसका मोबाईल फोन भी छीन लिया। हमले में पीड़ित को गंभीर चोटें आई हैं।

इस घटना को लेकर ऑपइंडिया ने पीड़ित दीपक तेवतिया से बात की। तेवतिया ने बताया, “हिन्दू धर्म और गौ माता के लिए किए गए अपने कार्यों के चलते मैं हमलावरों के निशाने पर हूँ। मैंने पहले भी कत्लखानों के खिलाफ प्रशासन को शिकायत की थी। हमलावरों में फहीम ही मुख्य साजिशकर्ता है। उन सभी पर पहले से ही कई आपराधिक केस दर्ज हैं।” पीड़ित का कहना है कि हमले के दौरान फहीम अपने साथियों से बार-बार ‘सामान (तमंचा) निकाल’ बोल रहा था।

तेवतिया ने बताया कि हमलावरों का प्लान उनकी हत्या करने का था, लेकिन लोगों के आ जाने के कारण वे बच गए। पुलिस कार्रवाई के बारे में उन्होंने बताया कि दर्जनों हमलावरों में से अब तक सिर्फ एक आरोपित पकड़ा गया है, जिसका नाम फहीम है। फहीम को भी पुलिस के बजाय मुझे बचाने आए लोगों ने पकड़ा है।

वहीं, हिन्दू रक्षा दल ने इस पूरे घटनाक्रम के संबंध में एक वीडियो जारी कर कहा, “दीपक तेवतिया ने हमलावर फहीम को जेल भेजवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन पर हमले की वजह भी यही है। हमला पूरी फील्डिंग के साथ किया गया है। हम आरोपितों पर गैंगस्टर एक्ट लगवाने का प्रयास कर रहे। हिन्दू रक्षा दल यह सुनिश्चित करेगा कि ये हमारे विरुद्ध अंतिम घटना हो।”

ऑपइंडिया ने इस घटना के संबंध में विजय नगर थाना के प्रभारी से बात की। प्रभारी ने बताया कि एक आरोपित को गिरफ्तार किया है और बाकियों की तलाश की जा रही है। इसी के साथ हमलावरों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 147, 148, 323, 506, 427, 307 के तहत कार्रवाई की गई है। मामले की जाँच सब इंस्पेक्टर अंगद सिंह को सौंपी गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -