Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजकानपुर में अंकित बनकर फैज मलिक ने हिंदू नाबालिग से की रेप, ब्लैकमेल कर...

कानपुर में अंकित बनकर फैज मलिक ने हिंदू नाबालिग से की रेप, ब्लैकमेल कर मुस्लिम बनने का डालता दबाव: MP में आशु बन जनजातीय महिला की आबरू लूटता रहा सुलेमान

कानपुर में फैज मलिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, तो सुलेमान किसी अन्य मामले में जेल में बंद है। पुलिस ने दोनों मामलों में केस दर्ज कर लिया है।

कानपुर में फैज मलिक नाम के मुस्लिम युवक ने एक नाबालिग हिंदू लड़की को गलत पहचान के साथ अपने जाल में फँसाया और फिर उसके धर्म परिवर्तन की कोशिश की। फैज मलिक ने लड़की के हाथों को कई जगह से काटा भी है। लड़की अनाथ है। उसके माता-पिता नहीं हैं। लव जिहाद का एक अन्य मामला एमपी से सामने आया है, जहाँ सीहोर की एक विधवा जनजातीय महिला के साथ सुलेमान ने आशु बनकर दोस्ती की और फिर अपनी जाल में फँसाकर शादी कर ली। उसने महिला का नाम भी परिवर्तित कर दिया और उसके बच्चे का भी इस्लामिक नाम रख दिया।

कानपुर में फैज बना अंकित, नाबालिग अनाथ हिंदू लड़की पर ढाए जुल्म

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कानपुर के काकादेव पुलिस थाना इलाके में फैज मलिक ने नाबालिग हिंदू लड़की को फाँसने के लिए इंस्टाग्राम का सहारा लिया। फैज मलिका ने अंकित ठाकुर नाम से फेक आईडी बनाई और नाबालिग हिंदू लड़की को अपनी जाल में फाँस लिया। लड़की के माता पिता की मौत हो चुकी है। उसने लड़की का कई बार रेप किया और उस पर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाने लगा। उसने विरोध किया, तो उसके हाथ को कई जगहों से काट दिया और उसे जान से मारने की कोशिश की। लड़की ने किसी तरह से पुलिस से संपर्क किया और एफआईआर दर्ज कराई। इस दौरान बजरंग दल से जुड़े कार्यकर्ताओं ने उनका साथ दिया।

पीड़ित लड़की नवीन नगर की रहने वाली है। उसने बताया कि अप्रैल 2023 में उसकी अंकित ठाकुर नाम के युवक से बातचीक शुरू हुई थी, लेकिन वो फैज मलिक निकला। पीड़ित लड़की के पिता की 2015 में मौत हो गई थी और उसकी माँ फरार हो गई। उसने बताया कि फैज ने उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाया और उसके आपत्तिजनक फोटो-वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करने लगा।

फैज मलिक ने उस पर इस्लाम कबूल करने का दबाव डाला और मना करने पर उसको जमकर पीटा और उसके हाथ को चाकुओं से कई जगह काट डाला। काकादेव पुलिस स्टेशन के इन्चार्ज केपी गौर ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने फैज मलिक को गिरफ्तार कर लिया है और उसके खिलाफ पॉक्सो एक्ट, आईटी एक्ट और अन्य सुसंगत धाराओं में केस दर्ज किया है।

एमपी में सुलेमान ने आशु बनकर आदिवासी महिला के साथ किया लव जिहाद

एमपी के सीहोर में लव जिहाद का मामला सामने आया है। सीहोर के बुधनी थाना इलाके के देवगाँव की रहने वाली एसटी महिला के साथ धर्म-परिवर्तन और रेप का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला ने बुधनी थाने में दुष्कर्म एवं धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम का मामला दर्ज कराया है। वो पहले से अन्य मामले में जेल में है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुलेमान नाम के व्यक्ति ने अपना हिंदू नाम आशु बताया और विधवा महिला से दोस्ती कर के उसे प्रेमजाल में फाँस लिया और उसे भोपाल ले जाकर उसके साथ रेप किया। इसके बाद उसने महिला का धर्म परिवर्तन करके उसका नाम जोया रख दिया और बच्चे का नाम भी बदल दिया। उसके नाम का पता भी उसे 7 दिन बाद पता चला, इसके बाद सुलेमान ने उसे बंधक बना लिया। एक दिन वो मौका पाकर भाग निकली, और अपनी माँ के साथ बुधनी थाने पर पहुँची और मामला दर्ज कराया।

एसडीओपी शशांक गुर्जर ने बताया कि 3 साल पहले सुलेमान ने अपनी पहचान छुपाकर शादी की थी। पीड़ित महिला को इस मामले में जब पता चला तो वहाँ से जाना चाहती थी, लेकिन सुलेमान ने इसे नजरबंद करके रखा। कुछ समय पहले वह अपने दोस्त की सहायता से भाग कर थाने पहुँची और मामला दर्ज कराया। पुलिस ने संबंधित धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया है। सुलेमान पहले ही अन्य किसी मामले में जेल में है। इस मामले में भी फॉर्मेलिटी कर उसे गिरफ्तार रखा जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -