Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाज'मैं जिसे कहूँगा उसे वोट देना पड़ेगा': घर में घुस कर BJP समर्थक के...

‘मैं जिसे कहूँगा उसे वोट देना पड़ेगा’: घर में घुस कर BJP समर्थक के पिता राधेश्याम पाठक को मार डाला, 4 सपा समर्थकों पर आरोप, यूपी पुलिस ने दर्ज की FIR

कुछ लोगों ने बीच-बचाव कर के मामले को शांत किया और दोनों पक्षों को अपने-अपने घर भेजा। आरोप है कि इसी रात शम्भू चौधरी अपने कुछ साथियों के साथ अमित पाठक के घर पहुँच गया।

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में चुनावी बहस के दौरान राधेश्याम पाठक नाम के बुजुर्ग की हत्या कर दी गई है। हत्या का आरोप शम्भू चौधरी और उसके 3 साथियों पर लगा है। मृतक को बचाने दौड़े उसके परिजनों को भी बेरहमी से पीटा गया है। पुलिस ने कुल 4 आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज कर के जाँच शुरू कर दी है। घटना शुक्रवार (10 मई, 2024) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना कुशीनगर के थाना क्षेत्र नेबुआ नौरंगिया की है। यहाँ के गाँव बघपरना में शुक्रवार को एक मंदिर के पास कुछ लोग पेड़ की छाया में बैठ कर चुनावी चर्चा कर रहे थे। मृतक के परिजनों का आरोप है कि इस दौरान शम्भू चौधरी और उसके साथ मौजूद लोगों ने समाजवादी पार्टी को वोट देने की बात की। मौके पर अमित पाठक नाम का युवक भी था। उसने भारतीय जनता पार्टी को वोट देने की वकालत की।

इसी बात पर दोनों पक्षों में गर्मागर्म बहस हो गई। आरोप है कि भाजपा को वोट देने की बात पर शम्भू भड़क उठा। उसने कहा, “मैं जिसे कहूँगा उसे वोट देना पड़ेगा।”

कुछ लोगों ने बीच-बचाव कर के मामले को शांत किया और दोनों पक्षों को अपने-अपने घर भेजा। आरोप है कि इसी रात शम्भू चौधरी अपने कुछ साथियों के साथ अमित पाठक के घर पहुँच गया। यहाँ पहुँच कर आरोपित ने पहले पीड़ितों को गालियाँ दीं और बाद में पूरे परिवार को बेरहमी से पीटने लगा। इस पिटाई की चपेट में अमित के अलावा उनके 55 वर्षीय पिता राधेश्याम पाठक और 21 साल की बहन रीतू भी आ गईं। शोरगुल सुन कर लोग जमा हुए।

पीड़ितों ने डायल 112 पर कॉल किया, जिसके बाद पुलिस के जवान आते दिखे तो हमलावर धमकी देते हुए भाग निकले। आरोपितो के नाम शम्भू, सीपू, टिंकल चौधरी बताए जा रहे हैं। सभी हमलावर शंभू के पारिवारिक सदस्य बताए जा रहे हैं।

रीतू और अमित के साथ उनके पिता राधेश्याम को अस्पताल ले जाया गया। भाई-बहन को मेडिकल कॉलेज रवींद्र नगर में भर्ती करवाया गया लेकिन राधेश्याम की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान राधेश्याम की मौत हो गई। उनके शव का पोस्टमार्टम करवाया गया। मृतकों के परिजनों ने कुछ स्थानीय निवासियों के साथ मिल कर थाने के आगे शव रख कर प्रदर्शन किया है। प्रदर्शन के दौरान शम्भू चौधरी और उसके साथियों पर कड़ी कार्रवाई की माँग उठाई गई है।

पुलिस ने लोगों को समझा कर शांत किया। पुलिस ने मामले को आपसी कहासुनी का बताते हुए घटना की FIR दर्ज कर ली है। कई संगठनों ने राधेश्याम पाठक की हत्या पर नाराजगी जताई है। घटना के बाद आरोपित फरार हो गए हैं जिनकी तलाश की जा रही है। तनाव को देखते हुए गाँव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -