Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजमुख्तार अंसारी के भाई व सपा नेता अफजल अंसारी की पत्नी फरहत पर FIR...

मुख्तार अंसारी के भाई व सपा नेता अफजल अंसारी की पत्नी फरहत पर FIR दर्ज: सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्जे का आरोप

फरहत सहित अन्य लोगों पर आरोप है कि उन्होंने लखनऊ में फर्जी दस्तावेज के आधार पर सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्जा किया। जिसके कारण उनपर सरकारी संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दायर हुआ।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार भू माफियों पर लगातार कड़ी कार्रवाई कर रही है। ऐसे में हाल में गाजीपुर से बसपा सांसद अफजल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी व अन्य के ख़िलाफ़ धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है

इन पर हजरतगंज थाने में आपराधिक षड्यंत्र समेत 6 धाराओं में एफआईआर हुई है। इस संबंध में तहरीर जियामऊ के लेखपाल ने दी है। पुलिस ने इस केस को आईपीसी की धारा 120बी, 420, 447, 448 और 427 के तहत दर्ज किया है

फरहत सहित अन्य लोगों पर आरोप है कि उन्होंने लखनऊ में फर्जी दस्तावेज के आधार पर सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्जा किया। जिसके कारण उनपर सरकारी संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दायर हुआ।

लेखपाल ने अपनी तहरीर में कहा है कि फरहत अंसारी द्वारा लखनऊ में अवैध रूप से अपने मकानों का निर्माण कराया गया है और वह लगातार अवैध रूप से मकान में रहकर सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुँचा रही हैं। लेखपाल की मानें तो इन सबसे राजस्व में भी नुकसान हो रहा है। इसके अलावा आपराधिक षड्यंत्र के तहत उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ करोड़ो रुपए की संपत्ति पर कब्जा किया हुआ है।

उल्लेखनीय है कि एक ओर जहाँ मुख्तार अंसारी के भाई व सपा नेता अफजल अंसारी की पत्नी पर केस दर्ज हुआ है। वहीं, प्रदेश में सियासत का चोला ओढ़े अपराधियों और उनकी अवैध सम्पत्तियों पर यूपी पुलिस का बुलडोजर चलना जारी है।

इससे पहले गाजीपुर में, विधायक मुख़्तार अंसारी के करीबी आजम कादरी के अस्पताल सहित अवैध सम्पत्तियों को ध्वस्त किया गया था। वहाँ स्थित उसकी ‘शम्म-ए-हुसैनी हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटर’ अस्पताल को बुलडोजर की मदद से धूल में मिला दिया गया, जो अवैध रूप से कब्ज़ा की गई ज़मीन पर बनी हुई थी।

इस दौरान एसडीएम सहित कई थानों की पुलिस सुबह से ही मौजूद थे और अंततः शनिवार (अक्टूबर 24, 2020) को दोपहर तक इसे ध्वस्त कर दिया गया। पूरा जिला प्रशासन इस दौरान इस कार्रवाई के लिए मुस्तैद रहा। मुख़्तार अंसारी के करीबी आजम ने हमीद सेतु के पास व गंगा के ठीक किनारे इस अस्पताल को बनवाया हुआ था। इस काम में एक पोकलेन और दो जेसीबी लगाए गए थे। 10 थानों की पुलिस की मौजूदगी में मुख़्तार अंसारी के करीबी के अस्पताल को बुलडोजर से ध्वस्त करने की कार्रवाई हुई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

आजादी के वक्त थे 3 मुस्लिम बहुल जिले, अब 9 हैं: बंगाल BJP प्रमुख ने कहा- असम और बंगाल में डेमोग्राफी बदलाव सोची-समझी रणनीति,...

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने असम के सीएम हिमंता के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने डोमोग्राफी बदलाव की बात कही थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -