Wednesday, June 12, 2024
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़ के पूर्व CM भूपेश बघेल पर FIR, आर्थिक अपराध शाखा करेगी महादेव बेटिंग...

छत्तीसगढ़ के पूर्व CM भूपेश बघेल पर FIR, आर्थिक अपराध शाखा करेगी महादेव बेटिंग एप धोखाधड़ी की जाँच: नामांकन पर भी लटक सकती है तलवार

यह केस सोमवार (4 मार्च 2024) को ED (प्रवर्तन निदेशालय) की जाँच रिपोर्ट के आधार पर दर्ज हुआ है। रायपुर की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने 4 मार्च को महादेव बेटिंग एप मामले में FIR दर्ज की है।

महादेव बेटिंग एप मामले में छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ बड़ी कार्रवाई हुई है। रायपुर की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने उनके खिलाफ FIR दर्ज की है। इस FIR में भूपेश बघेल के अलावा 20 अन्य आरोपित भी शामिल हैं। इन सभी पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम सहित कई अन्य धाराओं में कार्रवाई की गई है। यह केस सोमवार (4 मार्च 2024) को ED (प्रवर्तन निदेशालय) की जाँच रिपोर्ट के आधार पर दर्ज हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रायपुर की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने 4 मार्च को महादेव बेटिंग एप मामले में FIR दर्ज की है। इस FIR में पूर्व CM भूपेश बघेल सहित कुल 21 लोगों के नाम आरोपितों के तौर पर हैं। इन सभी पर जालसाजी, साजिश रचना, सम्पत्ति हड़पना, फर्जी कागजात लगाना जैसी धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। सभी पर IPC की धारा 467, 468, 471, 406, 120 बी, 34 और 420 के तहत कार्रवाई की गई है। EOW ने मामले की जाँच शुरू भी कर दी है।

साधना न्यूज़ के मुताबिक भूपेश बघेल के अलावा इस FIR में रवि उप्पल, शुभम सोनी, चंद्रभूषण वर्मा, असीम दास, सतीश चंद्राकर, नीतीश दीवान, सौरभ चंद्राकर, अनिल कुमार अग्रवाल, विकास छापरिया, रोहित गुलाटी, विशाल आहूजा, धीरज, अनिल कुमार दमबानी, भीम सिंह यादव, सुनील कुमार, हरिशंकर, सुरेंद्र बागड़ी और सुरेश चोखानी आदि के नाम हैं। वहीं आरोपितों की लिस्ट में 20वें नंबर पर संबंधित ब्यूरोक्रेट्स व पुलिस अधिकारी का जिक्र है। 21वें नंबर पर अज्ञात निजी व्यक्ति लिखा गया है। पूर्व CM भूपेश बघेल का नाम आरोपितों की लिस्ट में 6वे नंबर पर है।

बताते चलें कि भूपेश बघेल को कॉन्ग्रेस ने राजनादगांव से लोकसभा प्रत्याशी के तौर पर टिकट दिया है। कुछ रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि अब ED भूपेश बघेल को चुनाव में नामांकन करने से रोक सकती है। चुनाव आयोग की नियमावली के मुताबिक यदि किसी प्रत्याशी पर FIR दर्ज है तो उसे केस की जानकारी सार्वजानिक करनी होगी। साथ ही दागी प्रत्याशी को टिकट देने वाली पार्टी को भी ऐसे उम्मीदव्वार को चुनाव लड़ाने की वजह को स्पष्ट करना पड़ता है।

महादेव बेटिंग एप से हो रहे गैरकानूनी काम और उसमें पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कनेक्शन की पूरी क्रोनोलॉजी समझने के लिए हमारी इस रिपोर्ट पर क्लिक करें।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -