Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजबिग बॉस की पूर्व कंटेस्टेंट शहनाज गिल के पिता पर अज्ञात हमलावरों ने चलाई...

बिग बॉस की पूर्व कंटेस्टेंट शहनाज गिल के पिता पर अज्ञात हमलावरों ने चलाई गोलियाँ, दो दिन पहले ही भाजपा में हुए थे शामिल

संतोख सिंह सुख पर कई आपराधिक केस दर्ज हैं, जिसके चलते उनकी सिक्योरिटी को हटा लिया गया था। पुलिस ने संदेह जताया है कि सुख ने थाने में इसलिए शिकायत दर्ज कराई है, ताकि वह अपनी सिक्योरिटी वा

भाजपा का दामन थामने के दो दिन बाद ही बिग बॉस की एक्स कंटेस्टेंट और पंजाबी एक्ट्रेस शहनाज गिल (Shehnaaz Gill) के पिता संतोख सिंह सुख (Santokh Singh Sukh) पर दो लोगों ने फायरिंग की है। इस घटना को पंजाब के अमृतसर में रात करीब 8.30 बजे अंजाम दिया गया। इस घटना में संतोख सिंह की जान बाल-बाल बची है।

गिल के पिता संतोख सिंह ने दो दिन पहले ही भाजपा ज्वाइन की थी। शनिवार (25 दिसंबर 2021) को वह कुछ कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद अमृतसर से ब्यास के लिए रवाना हुए थे। उस समय संतोख सिंह जंडियाला गुरु के पास किसी ढाबे पर रुके हुए थे। गिल के पिता ने पुलिस को बताया है कि उन्होंने टॉयलेट जाने के लिए अपनी कार रोकी थी। तभी 2 बाइक सवार अज्ञात लोग उनकी कार के नजदीक आए और फायरिंग शुरू कर दी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुख की कार पर 4 गोलियाँ लगी थीं। इस बीच सुरक्षाकर्मी दौड़ कर आए। सुरक्षाकर्मियों को आता देखकर बाइक सवार हमलावर फरार हो गए। घटना के तुरंत बाद उन्होंने स्थानीय पुलिस को हमले की सूचना दी। पुलिस ने मौके से गोली के 4 खाली खोखे बरामद किए हैं और मामले की जाँच में जुट गई है।

बता दें कि संतोख सिंह सुख पर कई आपराधिक केस दर्ज हैं, जिसके चलते उनकी सिक्योरिटी को हटा लिया गया था। पुलिस ने संदेह जताया है कि सुख ने थाने में इसलिए शिकायत दर्ज कराई है, ताकि वह अपनी सिक्योरिटी वापस ले सकें। पुलिस अलग-अलग ऐंगल से मामले की जाँच कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-270 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -