Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजसपा नेता चौधरी बशीर को तीसरी बीवी ने पहुँचाया जेल, छठे निकाह से पहले...

सपा नेता चौधरी बशीर को तीसरी बीवी ने पहुँचाया जेल, छठे निकाह से पहले तलाक दे भगाया था

नगमा ने शिकायत में कहा था कि उनका शौहर बीवियाँ बदलने के लिए कोई भी रूप धारण कर लेता है। एक बार तो उसने हिंदू लड़की से शादी के लिए हिंदू का चोला पहना था। नगमा ने अपने इस दावे के प्रमाण भी दिए थे।

उत्तर प्रदेश के आगरा के थाना मंटोला में कुछ दिन पहले समाजवादी पार्टी नेता व पूर्व मंत्री चौधरी बशीर के ख़िलाफ़ तीन तालक के तहत केस दर्ज हुआ था। अब इसी मामले में ताजा जानकारी है कि पूर्व मंत्री को गुरुवार (अगस्त 19, 2021) को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। इससे पहले कोर्ट ने पूर्व मंत्री की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज किया था। इसके बाद कथिततौर पर उन्होंने खुद थाने आकर आत्मसमर्पण किया।

एसएसपी मुनिराज ने बताया कि तीन तलाक के केस में आरोपित पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को थाना मंटोला पुलिस ने गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया, जहाँ से उन्हें जेल भेजा गया है। विवेचना के बाद चार्जशीट लगाई जाएगी। अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, जिला जेल में चौधरी बशीर को बैरक नंबर 14 में रखा गया है। इसमें 50 से अधिक बंदी हैं। इस बैरक में आरोपित पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को बंदियों के साथ फर्श पर सोना होगा। उनके खिलाफ दिल्ली में पूर्व विधायक के परिवार की महिला ने धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था। मंटोला पुलिस अब इस मुकदमे की भी जानकारी ले रही है। इसमें भी उनका वारंट बनवाया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले समाजवादी पार्टी नेता की तीसरी पत्नी नगमा ने उनके विरुद्ध उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करवाया था। पीड़िता का कहना था कि 23 जुलाई को बशीर शाइस्ता नाम की महिला से छठा निकाह कर रहा था, जब उन्होंने ऐसा करने से उसे रोका तो बशीर ने सबके सामने उन्हें तीन तलाक बोलकर भगा दिया। दोनों के दो बेटे हैं।

नगमा ने शिकायत दर्ज करवाते हुए अपनी सेफ्टी के लिए पुलिस सुरक्षा की माँग की थी। उनका कहना था कि निकाह के बाद से ही शौहर और ननदों ने उनका शारीरिक व मानसिक शोषण शुरू कर दिया था। इसीलिए अब तंग आकर वह कार्रवाई चाहती हैं। पुलिस ने नगमा की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया था। मामले में जाँच की जा रही थी।

नगमा ने शिकायत में कहा था कि उनका शौहर बीवियाँ बदलने के लिए कोई भी रूप धारण कर लेता है। एक बार तो उन्होंने हिंदू लड़की से शादी के लिए हिंदू का चोला पहना था। नगमा ने अपने इस दावे के प्रमाण भी दिए। उन्होंने हिंदू महिला के साथ उनकी (बशीर) शादी की तस्वीरें दिखाईं, जिसमें नजर आ रहा था कि बशीर ने माथे पर टीका लगाया हुआ है। इसके अलावा एक तस्वीर ऐसी भी थी जिसमें उन्होंने ‘जय माता दी’ की पट्टी माथे पर बाँधी है।

नगमा ने अपने शौहर के लिए कहा था, “वह आदमी नहीं हैवान है, उसने मुझसे पहले भी कई औरतों की जिंदगी बर्बाद की है।” उनके मुताबिक, बशीर की मुस्लिम समाज में अच्छी पैठ है। इसी का फायदा उठा कर वह हर बार चुनाव लड़ता है। पूर्व में उसके ख़िलाफ़ लोगों को भड़काने का मुकदमा भी दर्ज हुआ था। पिछले साल उसने बकरीद पर दंगा करवाने की कोशिश की थी, मगर वीडियो वायरल होने पर दो केस दर्ज हुए थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,829FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe