Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजढाई साल की बच्ची को सेब देकर फुसलाया, फिर सुनसान जगह ले गया रज्जाक...

ढाई साल की बच्ची को सेब देकर फुसलाया, फिर सुनसान जगह ले गया रज्जाक और… हुआ गिरफ्तार

जब माँ ने अपनी बेटी के चिल्लाने की आवाज सुनी तो उस ओर दौड़ पड़ी। जाकर देखा तो नियाज रज्जाक उनकी बच्ची को नंगा करके अनुचित ढंग से छू रहा था और...

ग्रेटर नोएडा के जर्छा इलाके में एक फल बेचने वाले 54 वर्षीय व्यक्ति को पुलिस ने ढाई साल की बच्ची का यौन उत्पीड़न करने के इल्जाम में गुरुवार (सितंबर 20, 2019) को गिरफ्तार किया। बच्ची की माँ का आरोप है कि फल विक्रेता उनकी बच्ची को सेब का लालच देकर एक सुनसान जगह पर ले गया और उसके साथ बलात्कार करने का प्रयास किया।

जानकारी के मुताबिक पुलिस को बच्ची की माँ ने बताया कि गुरुवार को करीब 11 बजे, बच्ची घर के बाहर खेल रही थी, तभी नियाज रज्जाक नाम का शख्स वहाँ फल बेचने आया। उसने पहले बच्ची को सेब देकर फुसलाया और फिर उसे एक सुनसान जगह ले गया। जहाँ उसने बच्ची के साथ बलात्कार करने का प्रयास किया। इसी दौरान बच्ची की माँ को संदेह हुआ कि उनकी बच्ची आस-पास नहीं है और वह तुरंत अपने घर से बाहर आईं। उन्होंने बच्ची के चिल्लाने की आवाज सुनी और जब जाकर देखा तो नियाज उनकी बच्ची को नंगा करके अनुचित ढंग से छू रहा था।

महिला ने ये सब देखते ही शोर मचाया, जिसके बाद वहाँ आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। भीड़ ने रज्जाक को पकड़ा और पुलिस को पूरे मामले के बारे में सूचित किया। जिसके बाद रज्जाक की गिरफ्तारी हुई।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक जर्छा के एसएचओ अनिल कुमार ने बताया कि इस घटना की सूचना मिलते ही उनकी टीम मौक़े पर पहुँची और रज्जाक की गिरफ्तारी करके बच्ची को मेडिकल जाँच के लिए भेजा गया।

एसएचओ के मुताबिक मेडिकल जाँच में खुलासा हो चुका है कि बच्ची के गुप्तांगों पर चोट के निशान है, और ये रिपोर्ट पुष्टि करती है कि बच्ची के साथ बलात्कार की कोशिश हुई है। जिसके आधार पर रज्जाक के ख़िलाफ़ आईपीसी धारा 376 के साथ पॉक्सो एक्ट की धारा 5 और 6 के तहत मामला दर्ज किया गया है। और अब उसे न्यायायिक हिरासत में रखकर नगर अदालत में पेश किया जाएगा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe