रिक्शा खरीदने के लिए सास-ससुर ने नहीं दिए ₹40,000, बीवी को दिया तीन तलाक

तीन तलाक का यह मामला इस पर रोक से जुड़ा बिल लोकसभा में पास होने के अगले ही दिन सामने आया है।

गुजरात के सूरत में दहेज़ में 40,000 रुपए नहीं मिलने पर एक व्यक्ति ने अपनी बीवी को तीन तलाक़ दे दिया। पीड़ित मुस्लिम महिला के मुताबिक उसका पति रिक्शा खरीदने के लिए उसके मॉं-बाप से 40 हजार रुपए मॉंग रहा था। मॉं-बाप पैसे नहीं दे पाए तो पति ने उसे तीन तलाक दे दिया।

रिपोर्टों के मुताबिक पीड़िता को तलाक़ उस दिन दिया गया जिस दिन उसकी माँ को गुजरे 40 दिन पूरे हुए। महिला ने बताया कि परिवार के सामने ही पति ने उसे तीन तलाक दिया।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पीएल चौधरी ने बताया कि पीड़िता ने चौक बाजार थाने में शिकायत दर्ज कराई है।उन्होंने बताया, “महिला के मुताबिक ससुराल वाले उसे शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे। पति ने रिक्शा खरीदने के लिए 40 हजार रुपए दहेज में लाने को कहा था। पैसा नहीं मिलने पर पति ने जान से मारने की धमकी दी और तीन तलाक देकर उसे घर से निकाल दिया।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

तीन तलाक का यह मामला इस पर रोक से जुड़ा बिल लोकसभा में पास होने के अगले ही दिन सामने आया है। विपक्ष के विरोध के बावजूद गुरुवार (25 जुलाई) को लोकसभा में तीन तलाक़ बिल पास हुआ था। बिल के पक्ष में 303, जबकि विरोध में 82 वोट पड़े थे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शी जिनपिंग
शी जिनपिंग का मानना है कि इस्लामिक कट्टरता के आगोश में आते ही व्यक्ति होश खो बैठता है। चाहे वह स्त्री हो या पुरुष। ऐसे लोग पालक झपकते किसी की हत्या कर सकते हैं। शी के अनुसार विकास इस समस्या का समाधान नहीं है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,382फैंसलाइक करें
22,948फॉलोवर्सफॉलो करें
120,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: