Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजISIS से मुर्तजा अब्बासी के लिंक, जिहादी वीडियो भी मिले: रिपोर्ट्स में दावा, उस...

ISIS से मुर्तजा अब्बासी के लिंक, जिहादी वीडियो भी मिले: रिपोर्ट्स में दावा, उस गेट पर किया था हमला जिसका CM योगी करते हैं इस्तेमाल

गोरखनाथ मंदिर पर हमले के खतरे को लेकर पहले ही खुफिया एजेंसियों ने राज्य पुलिस के साथ बैठक की थी। इस बैठक में मुर्तजा अब्बासी सहित 16 लोगों के नाम पुलिस को दिए गए थे। न्यूज 18 की रिपोर्ट बताती है कि ये अब्बासी इस्लामी स्टेट को सीरिया में पैसा भेजता था।

गोरखनाथ मंदिर में हुए हमले को लेकर एक बड़ी जानकारी सामने आई है। खबर है कि मंदिर पर हुए इस अटैक से पहले खुफिया एजेंसियों ने इस प्लॉनिंग का पता लगा लिया था। उन्होंने राज्य पुलिस के साथ बैठक में 16 नाम भी साझा किए थे जिनपर उन्हें शक था। इस लिस्ट में मुर्तजा अब्बासी भी एक नाम था। मुर्तजा के लिंक ISIS से जुड़े बताए जा रहे हैं। कोर्ट ने उसे फिलहाल 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

सीएनएन-न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार, 31 मार्च 2022 को खुफिया एजेंसियों ने उत्तर प्रदेश पुलिस के साथ 16 साजिशकर्ताओं के नाम साझा किए थे जिनका मकसद गोरखनाथ मंदिर को निशाना बनाना था। इस संबंध में खुफिया एजेंसी के अधिकारियों और राज्य पुलिस अधिकारियों के बीच बैठक भी हुई। 16 नामों में एक नाम अहमद मुर्तजा अब्बासी का था।

रविवार की शाम इस मुर्तजा ने दो PAC कॉन्सटेबल पर हमला किया और धारदार हथियार से उन्हें घायल कर दिया। उसने अल्लाह-हू-अकबर बोलते हुए मंदिर में घुसने की कोशिश भी की। हालाँकि सुरक्षाकर्मियों द्वारा उसे दबोच लिया गया। राज्य गृह विभाग ने प्राप्त सबूतों के आधार पर इसे आतंकी हमला बताया।

सीएनएन-न्यूज 18 की रिपोर्ट यह भी बताती है कि उन्हें सूत्रों ने जानकारी दी है कि ये अब्बासी ISIS के संपर्क में था और उन्हें भारत से फंड भेजता था। ऑनलाइन अपनी इन्हीं हरकतों के चलते वह डिजिटल रडार पर आया था। लेकिन 3 अप्रैल को हुए हमले ने साफ कर दिया कि वो वाकई कोई बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में था। पत्रकार प्रमोद कुमार सिंह ने ट्विटर पर जानकारी दी कि अब्बासी ने गोरखनाथ मंदिर के गेट नंबर 3 को चुना था, जिसका प्रयोग आने-जाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करते हैं।

उसकी ऑनलाइन एक्टिविटीज से ये बात सामने आई कि वो यूट्यूब पर जिहाद से जुड़ी वीडियो देखता था और अक्सर जिहादी साइटें सर्च करता था। उसकी सर्च हिस्ट्री में कई जिहादी विचारधारा वाले मजहबी उलेमाओं के वीडियो सर्च के सबूत भी मिले हैं। इसके अलावा वह लोन वोल्फ के वीडियोज भी देखता था। उसके लैपटॉप-मोबाइल की जाँच में भी कुछ ISIS से जुड़े वीडियो और उनका साहित्य बरामद हुआ है। इन सबके अलावा मुर्तजा अब्बासी के मोबाइल से कई फतवे और गोरखनाथ मंदिर का नक्शा मिला है। मुर्तजा अकेले हमला करने के तरीके नेट पर तलाशता था। उसका मकसद था कि वह छोटे हथियार से लोगों की जान लेकर दहशत फैलाए। अभी इस मामले की जाँच में एटीएस और एसटीएफ की टीमें जुटी हैं। अब्बासी पुलिस की गिरफ्त में है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -