Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजवकील प्रशांत भूषण समेत 3 के खिलाफ मुकदमा दर्ज: रामायण-महाभारत के प्रसारण पर की...

वकील प्रशांत भूषण समेत 3 के खिलाफ मुकदमा दर्ज: रामायण-महाभारत के प्रसारण पर की थी अपमानजनक टिप्पणी

गुजरात की राजकोट पुलिस ने वकील और सामाजिक कार्यकर्ता प्रशांत भूषण द्वारा रामायण-महाभारत को लेकर किए गए विवादास्पद ट्वीट मामले में मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही प्रशांत भूषण के ट्वीट का समर्थन करने और लोगों को भड़काने के आरोप में पुलिस ने एश्लीन मैथ्यू और कन्नन गोपीनाथन के खिलाफ में भी मामला दर्ज किया है।

पूरे देश में सभी सीरियल्स के रिकार्ड ध्वस्त कर दूरदर्शन पर नए किर्तिमान गढ़ने वाले रामायण-महाभारत को लेकर की गई अपमानजनक टिप्पणी एक जाने-माने वकील के लिए भारी पड़ गई। मामले में शिकायत मिलते ही गुजरात पुलिस ने वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण, कन्न गोपीनाथन सहित तीन लोगों के खिलाफ में मुकदमा दर्ज किया गया है। दरअसल वकील प्रशांत भूषण ने रामायण-महाभारत के प्रसारण की तुलना अफीम से की थी।

गुजरात की राजकोट पुलिस ने वकील और सामाजिक कार्यकर्ता प्रशांत भूषण द्वारा रामायण-महाभारत को लेकर किए गए विवादास्पद ट्वीट मामले में मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही प्रशांत भूषण के ट्वीट का समर्थन करने और लोगों को भड़काने के आरोप में पुलिस ने एश्लीन मैथ्यू और कन्नन गोपीनाथन के खिलाफ में भी मामला दर्ज किया है। 

भारतीय सेना में पूर्व सेनाधिकारी कैप्टन जयदेव जोशी ने शिकायत करने का साथ तर्क दिया था कि अदालतों में गवाही से पहले धार्मिक ग्रन्थों की शपथ दिलाई जाती है। मगर अगर इन ग्रन्थों को अफीम का नशा माना जाएगा तो इस गवाही का अर्थ ही खत्म हो जाएगा। शिकायत के आधार पर ही रविवार शाम को राजकोट शहर के भक्तिनगर पुलिस स्टेशन में यह रिपोर्ट दर्ज की गई। इसके बाद में मामले की  जांच विशेष संचालन समूह (एसओजी) को हस्तांतरित कर दी गई। 

पुलिस इंस्पेक्टर रोहित रावल ने बताया कि गुजरात के राजकोट के मूल निवासी जयदेव भाई जोशी के रूप में पहचाने जाने वाले सेना के एक सेवानिवृत्त कप्तान ने ये शिकायत दर्ज कराई थी। अपनी शिकायत में, जोशी ने भूषण पर 28 मार्च को किए गए एक ट्वीट में रामायण और महाभारत के साथ अफीम शब्द का उपयोग करने का आरोप लगाया, जिसने कई हिंदू लोगों की भावनाओं को आहत किया है।

हालाँकि, अपने ऊपर लगे आरोपों को वकील प्रशांत भूषण सिरे से खारिज कर दिया, जबकि कन्नन गोपीनाथ ने इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद भी आरोपित कन्नन गोपीनाथन ने कहा कि सरकार के कहने पर गुजरात पुलिस ने मेरे ऊपर यह रिपोर्ट दर्ज की है। साथ ही गृहमंत्री अमित शाह को टैग करते हुए कहा कि आप गिरफ्तार करा सकते हैं, लेकिन हम चुप्पी नहीं साधेंगे, क्योंकि हम डरते नहीं हैं।

दरअसल वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने 28 मार्च को अपने ट्विटर हेंडल से एक ट्वीट करते हुए लिखा था कि जबरन तालाबंदी के कारण करोड़ों लोग भूखे-प्यासे घर से चले जाते हैं, हमारे हृदयहीन मंत्री रामायण और महाभारत की अफीम का सेवन और भोजन करते हैं।

आपको बता दें कि देश में जारी लॉकडाउन के बीच केन्द्र सरकार द्वारा दूरदर्शन पर प्रसारित किए गए रामायण और महाभारत ने टीआरपी में टीवी के इतिहास में पिछले पाँच साल के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe