Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजपीछे से दबोचा, मुँह में डाली ऊँगली, सब इंस्पेक्टर ने उगले घूस के पैसे:...

पीछे से दबोचा, मुँह में डाली ऊँगली, सब इंस्पेक्टर ने उगले घूस के पैसे: देखिए Video, विजिलेंस टीम को देखते ही निगल गया था

चोरी के मामले में सब इंस्पेक्टर ने रिश्वत की माँग की थी। जैसे ही उसने घूस का पैसा लिया उसे विजिलेंस की टीम ने दबोच लिया।

आपने रिश्वत लेने वाले कई देखे होंगे। पर शायद ही किसी को मुँह से घूस का पैसा उगलते देखा हो। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल है। हरियाणा के फरीदाबाद में विजिलेंस की टीम ने एक सब इंस्पेक्टर के मुँह से रिश्वत का पैसा निकालकर उसे गिरफ्तार किया।

आरोपित सब इंस्पेक्टर महेंद्र पाल सेक्टर-3 की पुलिस चौकी में तैनात है। वीडियो में देखा जा सकता है कि विजिलेंस की टीम को देखते हीं सब इंस्पेक्टर ने रुपए मुँह में ठूँस लिए। उसके बाद उससे उगलवाने की कोशिश हो रही है। इस बीच आरोपित पुलिसकर्मी खुद को विजिलेंस टीम से छुड़ाने की कोशिश करता हुआ भी दिख रहा है।

विजिलेंस टीम सब इंस्पेक्टर का मुँह जबरन खुलवाने की कोशिश करती है। उसे पीछे से एक सदस्य पकड़ता है। दूसरा उसके मुँह में ऊँगली डालता है। जब सब इंस्पेक्टर के मुँह से कुछ रुपए निकलते हैं, तो उसे गिरफ्तार कर लिया जाता है।

दरअसल भैंस चोरी के मामले में कार्रवाई करने की एवज में शिकायतकर्ता से सब इंस्पेक्टर ने रिश्वत माँगी थी। शिकायतकर्ता उसे 6 हजार रुपए पहले ही दे चुका था। सुब इंस्पेक्टर 4 हजार रुपए और माँग रहा था। इसके बाद शिकायतकर्ता ने विजिलेंस से उसकी शिकायत की।

जानकारी के मुताबिक, सेक्टर 3 निवासी शंभूनाथ यादव ने करीब एक साल पहले किसी को गाय 30 हजार रुपए में बेची थी। लेने वाले ने 10 हजार रुपए ही दिए थे। बाकी 20 हजार रुपए बकाया था। पैसे न देने पर शंभूनाथ अपनी गाय वापस ले आया। बताया जाता है कि शंभूनाथ ने जिसको गाय बेची थी, वह उसकी भैंस खोल ले गया और उल्टे शिकायतकर्ता के पोते के खिलाफ केस दर्ज करा दिया।

सोमवार (12 दिसंबर 2022) को आरोपित सब इंस्पेक्टर ने शिकायतकर्ता को सेक्टर-3 कम्युनिटी सेंटर में बुलाया था। सब इंस्पेक्टर वहाँ किसी शादी समारोह में शामिल था। विजिलेंस ने पहले से ही जाल बिछा रखा था। शिकायतकर्ता ने जैसे ही 4 हजार रुपए की रिश्वत दी, विजिलेंस टीम ने सब इंस्पेक्टर को पकड़ लिया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर के डोडा में 4 जवान बलिदान, जंगल में छिपे थे इस्लामी आतंकवादी: हिन्दू तीर्थयात्रियों पर हमला करने वाले आतंकी समूह ने ली जिम्मेदारी

जम्मू कश्मीर के डोडा में हुए आतंकी हमले में एक अफसर समेत 4 जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर्स ने ली है।

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -