Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजबेंच पर लिखा 'जय श्रीराम' तो ईसाई टीचर ने छात्र का मुँह व्हाइटनर से...

बेंच पर लिखा ‘जय श्रीराम’ तो ईसाई टीचर ने छात्र का मुँह व्हाइटनर से पोता: मिशनरी स्कूल के बाहर हिन्दू संगठनों का हंगामा, मैडम बर्खास्त

गाजियाबाद के होली ट्रिनिटी स्कूल में बेंच के ऊपर 'जय श्रीराम' लिखने पर नाराज टीचर ने छात्र के चेहरे पर व्हाइटनर पोत दिया। हिन्दू संगठनों के विरोध के बाद इस हरकत को करने वाली टीचर मनीषा मसीह को बर्खास्त कर दिया गया।

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में एक प्राइवेट स्कूल के अंदर डेस्क पर ‘जय श्रीराम’ लिखने की वजह से छात्र को भरी क्लास में अपमानित करने का मामला सामने आया है। पीड़ित का नाम ईशांत चौहान है जिसके चेहरे पर व्हाइटनर लगा कर खड़ा कर दिया गया था। हिन्दू संगठनों ने इस घटना पर कड़ा विरोध जताया। आरोप, मनीषा मसीह (मनीषा मेसी) नाम की एक महिला टीचर पर लगा है जिन्हें अब बर्खास्त कर दिया गया है। घटना सोमवार (4 दिसंबर 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह मामला गाजियाबाद के थानाक्षेत्र मसूरी का है। पीड़ित छात्र इशांक चौहान यहाँ के होली ट्रिनिटी चर्च स्कूल में कक्षा 7 में पढ़ता है। सोमवार को इशांक ने अपनी डेस्क पर ‘जय श्रीराम’ लिख दिया। इस बात की जानकारी जब क्लास टीचर मनीषा मसीह को हुई तो वो भड़क गईं। आरोप है कि मनीषा ने इशांक के मुँह पर व्हाइटनर पोत दिया और इसी हालत में उसे अन्य छात्रों के बीच बिठा दिया। इशांक इस हालत में लगभग 1 घंटे तक बैठा रहा।

लगभग 1 घंटे बाद छुट्टी होने पर इशांक का चेहरा थिनर से साफ़ करवाया गया। थिनर के प्रयोग से पीड़ित के चेहरे पर जलन होने लगी। इसी दिन जब इशांक अपने घर लौटा तो उसने परिजनों को सारी बात बताई। कुछ ही देर में घटना की जानकारी हिन्दू संगठनों को हो गई। वो पीड़ित छात्र के परिवार वालों के साथ स्कूल पहुँचे और अरोपिता पर एक्शन की माँग करने लगे। मामले की सूचना पुलिस को मिली तो वो भी मौके पर पहुँच गई। हंगामा बढ़ता देख कर मनीषा मसीह ने अपनी करतूत को कबूल किया और इसे गलती बताते हुए माफ़ी माँगी।

हालाँकि, हिन्दू संगठन मनीषा मसीह पर कार्रवाई की माँग को लेकर अड़े रहे। आखिरकार होली ट्रिनिटी चर्च स्कूल की मैनेजर आशा डेनियल और प्रधानाध्यपिका मधुलिका जोसफ ने 4 दिसंबर को ही एक सामूहिक आदेश जारी करते हुए मनीषा मसीह को नौकरी से निकाले जाने की जानकारी साझा की। बर्खास्तगी की वजह टीचर के खिलाफ पीड़ित के परिजनों और शहर प्रशासन द्वारा गंभीर शिकायत मिलना बताया गया है। फिलहाल इस मामले में किसी पक्ष ने पुलिस में तहरीर नहीं दी है।

ऑपइंडिया से बात करते हुए पीड़ित छात्र के पिता राजेश चौहान ने बताया कि उनका बेटा होली ट्रिनिटी स्कूल में 2 साल से पढ़ाई कर रहा है। इससे पहले इशांक जिस भी स्कूल में पढ़ा है वहाँ ऐसी समस्या कभी नहीं आई। इस मामले में स्कूल प्रशासन को राजेश चौहान ने शिकायत भी दी है जिसकी कॉपी हमारे पास मौजूद है। शिकायत में राजेश ने स्कूल प्रशासन से माँग भी की है कि उनके बेटे के साथ भविष्य में ऐसी कोई द्वेषपूर्ण कार्रवाई दोबारा न की जाए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -