Tuesday, September 21, 2021
Homeदेश-समाजनेताओं और IAS-IPS अफसरों को ब्लैकमेल करने वाले Honey Trap Racket का पर्दाफाश

नेताओं और IAS-IPS अफसरों को ब्लैकमेल करने वाले Honey Trap Racket का पर्दाफाश

अभी तक मध्य प्रदेश के हाई प्रोफाइल हनी ट्रैप मामले में एक पुरुष और 5 महिलाओं की गिरफ्तारी हो चुकी है। इंदौर के एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने इसकी पुष्टि की है। आरोपितों के पास से 14 लाख रुपए और एक कार बरामद हुई है।

मध्य प्रदेश पुलिस ने कई अधिकारियों और नेताओं को प्रेमजाल मे फँसाकर ब्लैकमेल करने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस कार्रवाई में राजधानी भोपाल से तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, एक वरिष्ठ सरकारी इंजिनियर की शिकायत पर इंदौर के पलासिया पुलिस थाने में ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज किया गया था।

रिपोर्ट के अनुसार, अभी तक मध्य प्रदेश के हाई प्रोफाइल हनी ट्रैप मामले में एक पुरुष और 5 महिलाओं की गिरफ्तारी हो चुकी है। इंदौर के एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने इसकी पुष्टि की है। आरोपितों के पास से 14 लाख रुपए और एक कार बरामद हुई है।

मध्य प्रदेश पुलिस के अनुसार, गिरोह की सरगना छतरपुर की रहने वाली युवती है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपित महिला से पुलिस की पूछताछ जारी है। रिपोर्ट्स के अनुसार, ऐसा कहा जा रहा है कि इसमें कई बड़े अफसरों और नेताओं के नाम सामने आ सकते हैं। आरोप है कि यह गिरोह आईएएस और आईपीएस अफसरों को हनी ट्रैप कर उन्हें ब्लैकमेल करता था। मीडिया रिपोर्ट में यह भी दावा है कि इसी हनी ट्रैप गिरोह ने एक मौजूदा मंत्री का भी वीडियो बनाया था। पुलिस अब इसकी जाँच कर रही है कि क्या उन्हें भी ये गिरोह ब्लैकमेल कर रहा था।

बता दें कि इस पूरे रैकेट का खुलासा इंदौर नगर निगम के एक इंजीनियर की शिकायत के बाद हुआ। रिपोर्ट के अनुसार, एसएसपी रुचिवर्धन मिश्रा के मुताबिक गिरोह नगर निगम इंजीनियर को ब्लैकमेल करने की धमकी देकर तीन करोड़ रुपए माँग रहा था। इंजीनियर ने इसकी शिकायत पुलिस दर्ज कराई, जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इस हनी ट्रैप रैकेट का पर्दाफाश किया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, यह भी कहा जा रहा है कि इंदौर पुलिस के मुताबिक इस मामले में अभी तक कोई और फरियादी नहीं उन्हें नहीं मिला है। शिकायत मिलने पर कार्रवाई और आगे बढ़ने के संकेत हैं। कहा जा रहा है कि अभी इस गिरोह के पूरे नेटवर्क का पता लगाया जा रहा है। उसके बाद कुछ और नामों का खुलासा और गिरफ्तारी हो सकती है।

एक अन्य रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि गिरफ्तार इन तीनों हाई प्रोफाइल महिलाओं के राजनीतिक संबंध है। एक महिला तो पन्ना जिले से विधायक के आवास में किराए पर रहती है। फिलहाल, भोपाल पुलिस ने तीन महिलाओं की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe