Sunday, June 23, 2024
Homeदेश-समाज16 साल की नाबालिग से 54 साल के अब्दुल लतीफ ने किया निकाह, पुलिस...

16 साल की नाबालिग से 54 साल के अब्दुल लतीफ ने किया निकाह, पुलिस ने 7 को गिरफ्तार किया

निकाह लड़की के माता-पिता की रजामंदी से हुई थी। पुलिस को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने तत्काल छापेमारी की और सात लोगों को हिरासत में ले लिया।

54 साल के अब्दुल लतीफ ने चार दिन पहले 16 साल की एक नाबालिग से निकाह कर लिया। मूल रूप से केरल से ताल्लुक रखने वाला लतीफ फिलहाल हैदराबाद में रहता है। टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने इस मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें नाबालिग लड़की के माता-पिता भी हैं।

निकाह लड़की के माता-पिता की रजामंदी से हुई थी। पुलिस को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने तत्काल छापेमारी की और सात लोगों को हिरासत में ले लिया।

पुलिस के अनुसार मामले की जाँच जारी है। अभी यह साफ़ नहीं हो पाया है कि लड़की को बरामद किया जा चुका है या नहीं। रिपोर्ट्स के मुताबिक़ पुलिस प्रेस वार्ता करेगी और उसमें ही आरोपित को मीडिया के सामने लेकर आएगी। 

नाबालिगों की ज़्यादा उम्र के आदमियों की शादी के कई मामले 

ज़्यादा उम्र के व्यक्तियों का नाबालिगों से शादी करना असामान्य नहीं है। पिछले कुछ समय में इस ऐसी घटनाओं की तमाम ख़बरें सामने आई हैं। हाल ही में मदुरै स्थित कोट्टनथम्पट्टी गाँव के ओथापट्टी में 31 साल के टी बालामुर्गन को नाबालिग से शादी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। ऐसी ही एक घटना नवंबर में सामने आई थी, पेरुनगुड़ी स्थित कस्तूरीबाई कॉलोनी के 29 वर्षीय ए सक्तिवेल को 17 साल की नाबालिग से शादी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 

तेलंगाना में बाल विवाह शासन-प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती साबित हुआ है। 2019 में आई रिपोर्ट्स के मुताबिक़ शहर की पुलिस ने 14 महीने में 51 ऐसे बच्चों को बरामद किया था जिनकी शादी हो गई थी।    

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मोदी के दिए घरों में रहते हैं, 100% वोट कॉन्ग्रेस को देते हैं’: बोले असम CM सरमा – राज्य पर कब्ज़ा करना चाहते हैं...

सीएम हिमंता ने कहा कि बांग्लादेशी मूल के अल्पसंख्यकों ने कॉन्ग्रेस को इसलिए वोट दिया, क्योंकि अगले 10 सालों में वे राज्य को कब्जा चाहते हैं।

NEET पीपर लीक की जाँच अब CBI के हवाले, केंद्रीय जाँच एजेंसी ने दर्ज की FIR: PG की परीक्षा के लिए नई तारीखों का...

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से बताया गया कि विवाद की समीक्षा के बाद मंत्रालय ने मामले की व्यापक जाँच के लिए इसे सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -