Tuesday, August 3, 2021
Homeदेश-समाजकेरल: कब्र को लेकर चर्च के दो गुटों की बहस झड़प में बदली, पुलिसकर्मी...

केरल: कब्र को लेकर चर्च के दो गुटों की बहस झड़प में बदली, पुलिसकर्मी भी जख्मी

धार्मिक मामला होने की वजह से पुलिस ने तुरंत घटनास्थल पर फोर्स तैनात कर दिया। कोच्चि पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है और लोगों से शांति बरतने की अपील की है।

केरल के कोच्चि में चर्च के दो गुटों में झड़प हो गई। इस दौरान 11 लोग घायल हो गए। इनमें 3 पुलिसकर्मी हैं। घटना कोथमंगलम के मरथोमा चेरियापल्ली चर्च की है, जहाँ गुरुवार को 2 गुटों के बीच छोटी सी बहस मारपीट में बदल गई।

पुलिस ने बताया कि एक पादरी की कब्र को एक गुट दूसरी जगह ले जाना चाहता था। चर्च के कुछ कट्टरपंथी तत्वों ने इसका विरोध किया। विरोध करने वालों का नेतृत्व थॉमस पॉल रामबन कर रहे थे। जो लोग कब्र दूसरी जगह ले जाना चाहते थे वे जैकोबाइट्स समूह के थे।

थॉमस पॉल रामबन जैसे ही अपने समर्थकों के साथ मौके पर पहुँचे बहस झड़प में बदल गई। सूचना मिलते ही पुलिस भी भारी संख्या में मौके पर पहुँच गई।

तस्वीर साभार: न्यूज इंडियन एक्सप्रेस

धार्मिक मामला होने की वजह से पुलिस ने तुरंत घटनास्थल पर फोर्स तैनात कर दिया। कोच्चि पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है और लोगों से शांति बरतने की अपील की है।

यहाँ बता दें कि रुढ़िवादी गुट ने जैकोबाइट्स पर आरोप लगाया कि उन्होंने उनके पादरी और पुलिस पर हमला किया, जो वहाँ पर मौक़े पर मौजूद थे। इसके अलावा ये भी <a rel="noreferrer noopener" aria-label="बताया गया (opens in a new tab)" href="http://

Kochi. 7 persons, incl. Sub-Inspector injured in clashes between Jacobite & Orthodox sects. “I also suffered serious injuries & is presently at Govt Hospital, Kothamangalam,” said the SI. "The police hadnt registered a case till this report went to print"https://t.co/QRzPNuiS0g

— UniversalReligiousFreeDoom (@by2kaafi) September 20, 2019
https://platform.twitter.com/widgets.js” target=”_blank”>बताया गया कि आपसी झड़प के लगभग आधे घंटे बाद जैकोबाइट्स ने उस कार पर हमला किया जिसमें रामबन और अन्य पादरी आए थे। कार पर हुए इस हमले में गाड़ी के शीशे तोड़ दिए गए। जिससे रामबन और अन्य पादरी घायल हो गए। जब पुलिस ने इन्हें बचाना चाहा तो उनपर भी हमला हुआ।

एसआई दिलीश ने भी बताया है कि उन्हें भी इस दौरान गहरी चोटें आई। घायलों को कोथमंगलम के सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमित शाह ने बना दी असम-मिजोरम के बीच की बिगड़ी बात, अब विवाद के स्थायी समाधान की दरकार

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के प्रयासों के पश्चात दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने जिस तरह की सतर्कता और संयम दिखाया है उसका स्वागत होना चाहिए।

वे POK क्रिकेट लीग के चीयरलीडर्स, इधर कश्मीर पर भी बजाते हैं ‘अमन’ का झुनझुना: Pak वालों से ही सीख लो सेलेब्रिटियों

शाहिद अफरीदी, राहत फ़तेह अली खान और शोएब अख्तर कभी इस्लाम और पाकिस्तान के खिलाफ नहीं जा सकते, गलत या सही। भारतीय सेलेब्स इनसे क्या सीखे, जानिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,775FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe