Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजसुरलीन कौर के 'सब हरामी पोर्न वाले' वीडियो पर शेमारू की माफी कबूल, कंपनी...

सुरलीन कौर के ‘सब हरामी पोर्न वाले’ वीडियो पर शेमारू की माफी कबूल, कंपनी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई नहीं करेगी इस्कॉन: रिपोर्ट

इससे पहले खबर आई थी कि इस्कॉन ने शेमारू की माफी अस्वीकार कर दी है। स्टैंडअप कॉमेडियन सुरलीन कौर के विवादित वीडियो के लिए शेमारू ने बिना शर्त माफी मॉंगी थी और सुरलीन से असहमति जताई थी।

एक नाटकीय घटनाक्रम में इंटरनेशनल सोसायटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) ने सुरलीन कौर के विवादित वीडियो पर शेमारू प्राइवेट लिमिटेड की माफी स्वीकार कर ली है। स्वराज्य ने अपनी रिपोर्ट में यह दावा किया है। इसके मुताबिक इस्कॉन अब कंपनी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई को आगे नहीं बढ़ाएगी।

इससे पहले खबर आई थी कि इस्कॉन ने शेमारू की माफी अस्वीकार कर दी है। स्टैंडअप कॉमेडियन सुरलीन कौर के विवादित वीडियो के लिए शेमारू ने बिना शर्त माफी मॉंगी थी और सुरलीन से असहमति जताई थी। सुरलीन ने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर कंपनी द्वारा जारी किए गए एक वीडियो में कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी की थी।

इसे लेकर कंपनी ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा था कि हिंदू संगठनों का पोर्न से संबंध बताना न केवल गलत है, बल्कि इसकी प्रतिष्ठा को हानि पहुँचाता है और इनके द्वारा किए जा रहे अच्छे कामों को नजरअंदाज करता है। इस्कॉन ने बताया कि शेमारू के सीईओ ने वरिष्ठ प्रबंधन की ओर से खेद व्यक्त किया है और स्वीकार किया है कि इस तरह के मानहानि वाले वीडियो को अपनी जानकारी में रहते हुए कभी प्रकाशित नहीं किया जाएगा। स्वराज्य की पत्रकार स्वाति गोयल शर्मा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस्कॉन द्वारा जारी किए गए बयान को पोस्ट किया है।

आधिकारिक माफी के बाद इस्कॉन ने कहा कि वह टकराव में विश्वास नहीं करता है, बल्कि वह नैतिक और कानूनी मूल्यों के अनुसार कार्य करता है। इस प्रकार इस्कॉन ने उनके खिलाफ मामले को आगे नहीं बढ़ाने का फैसला किया है। संगठन ने एक बार फिर दोहराया है कि इस्कॉन के बारे में झूठ फैलाना न केवल उसकी प्रतिष्ठा के लिए हानिकारक है, बल्कि बड़े स्तर पर समाज के लिए किए गए अच्छे कार्यों को धूमिल करता है।

हालांकि इस्कॉन ने कहा है कि उन्होंने शेमारू के खिलाफ मामले से अपने हाथ पीछे नहीं किए हैं। लेकिन कॉमेडियन सुरलीन कौर के खिलाफ शिकायत के बारे में कुछ नहीं कहा है। सुरलीन कौर ने इस मुद्दे पर अब तक कोई टिप्पणी नहीं की है और न ही कोई माफी नहीं माँगी है। इसलिए भी माना जा रहा है कि इस्कॉन उनके खिलाफ मामले को आगे बढ़ा सकता है।

वहीं आपत्ति जताने के बाद ‘शेमारू’ ने पहले ही विभिन्न प्लेटफार्मों से यह वीडियो हटा दिया है। लेकिन कई लोगों ने पहले ही इसे डाउनलोड कर लिया था और बाद में विभिन्न सोशल मीडिया साइटों पर अपलोड कर दिया गया, जिसके कारण यह वायरल हुआ।

आपको बता दें कि धार्मिक संस्था ISKCON ने सुरलीन कौर ग्रोवर के एक विवादास्पद वीडियो को लेकर एंटरटेनमेंट कंपनी शेमारू के खिलाफ मुंबई में शिकायत दर्ज कराई थी। आरोपित कॉमेडियन सिमरन कौर पर उस वीडियो में इस्कॉन, ऋषि-मुनियों और हिंदू धर्म के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियाँ करते हुए उनका मजाक उड़ाने का आरोप था।

शिकायती पत्र में इस्कॉन प्रवक्ता राधारमन दास ने बताया था कि सुरलीन कौर इस वीडियो में कह रही हैं, “बेशक हम सब इस्कॉन वाले हैं, पर अंदर से सब ‘हरामी पोर्न वाले’ हैं।” इसके अलावा सिमरन कौर ने आस्था को ठेस पहुँचाते हुए यह भी कहा है कि धन्य है हमारे ऋषि-मुनि जिन्होंने थोड़ी सी संस्कृत के जरिए अपने बड़े-बड़े कांड छुपा लिए हैं। यही नहीं सिमरन कौर ने कामसूत्र और खुजराहो का भी उपहास उड़ाया।

सुरलीन कौर के विवादित वीडियो से शुरू हुआ मामला

सुरलीन कौर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद इस्कॉन ने शिकायत दर्ज करने का फैसला किया था। हालाँकि, यह वीडियो कुछ महीने पहले ही प्रकाशित किया गया था। लेकिन वीडियो को हाल ही में सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से शेयर किया गया, जिसके कारण यह हिंदू संगठन की नजरों में आया।

सुरलीन कौर ने इस वीडियो में यह भी कहा कि प्राचीन हिंदू संतों ने अपनी ख़ुफ़िया हरकतों को छिपाने के लिए संस्कृत के अपने छोटे से ज्ञान का उपयोग किया। कामसूत्र का उदाहरण देते हुए उसने कहा कि ऋषियों ने कामुक ग्रंथों को लिखने के लिए संस्कृत भाषा का उपयोग किया।

साथ ही कौर ने खजुराहो की मूर्तियों का मज़ाक बनाते हुए कहा कि हिंदू अश्लीलता (पोर्न) पसंद करते हैं। इस वीडियो में सुरलीन कहती हुई नजर आती है कि ‘बेशक हम सब इस्कॉन वाले हैं, पर अंदर से सब हरामी पोर्न वाले हैं।’

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,544FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe