Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजकेरल में 36 साल की इजरायली महिला की लाश मिली, रेता हुआ था गला:...

केरल में 36 साल की इजरायली महिला की लाश मिली, रेता हुआ था गला: 75 साल के मलयाली पति का दावा- उसके कहने पर की हत्या

अधिकारी के मुताबिक आरोपित कृष्णचंद्रन ने बताया है कि कुछ समय से वह और सतवा सेहत संबंधी दिक्कतों से जूझ रहे थे। इस वजह से दोनों ने आत्महत्या करने की योजना बनाई थे। बकौल आरोपित दोपहर के भोजन के बाद सतवा और उसने खुद को चाकू मार लिया था।

केरल के कोल्लम जिले में 36 साल की एक इजरायली महिला की लाश मिली है। उसका गला रेता हुआ था। महिला के 75 वर्षीय मलयाली पति पर ही उसकी हत्या का शक है। मृत महिला की पहचान राधा उर्फ सतवा के तौर पर हुई है।

उसके पति कृष्णचंद्रन उर्फ चंद्रशेखरन नायर को गंभीर चोटों की वजह से तिरुवनंतपुरम के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने संदेह के आधार पर कृष्णचंद्रन के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत एफआईआर दर्ज की है। रिपोर्ट के मुताबिक कृष्णचंद्रन का कहना है कि पत्नी के कहने पर ही उसने उसकी हत्या की और उसके बाद खुद की भी जान देने की कोशिश की।

पुलिस के मुताबिक वारदात गुरुवार (30 नवंबर, 2023) को दोपहर करीब 3.30 बजे की है। एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, “कृष्णचंद्रन और सतवा बीते 16 साल से एक साथ रह रहे हैं। कृष्णचंद्रन पहले ऋषिकेश में योग प्रशिक्षक था और सतवा उसकी छात्रा थी। बाद में दोनों ने शादी कर ली और यह दंपती एक साल से केरल में रह रहा था।”

अधिकारी के मुताबिक आरोपित कृष्णचंद्रन ने बताया है कि कुछ समय से वह और सतवा सेहत संबंधी दिक्कतों से जूझ रहे थे। इस वजह से दोनों ने आत्महत्या करने की योजना बनाई थे। बकौल आरोपित दोपहर के भोजन के बाद सतवा और उसने खुद को चाकू मार लिया था। कृष्णचंद्रन ने पुलिस को बताया है कि जब चाकू मारने के बाद भी सतवा नहीं मरी तो उसने पति से खुद को मारने के लिए कहा था। जानकारी के मुताबिक, कोट्टियम के जिस घर में कृष्णचंद्रन और सतवा रहते थे उसे रविकुमार और बिंदू ने किराए पर लिया था। बिंदू कृष्णचंद्रन की भतीजी हैं।

एक रिपोर्ट के अनुसार दोनों को घायल हालत में देख एक रिश्तेदार ने मदद के लिए चिल्लाना शुरू किया। इसके बाद कृष्णचंद्रन ने दरवाजा बंद कर दिया। रिश्तेदार ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुँचकर पुलिस ने गेट तोड़ा और घर के भीतर घुसी। लेकिन तब तक सतवा की मौत हो चुकी थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

परचून की दुकान से लेकर कई हजार करोड़ के कारोबार तक, 38 मुकदमों वाले हाजी इक़बाल ने सपा-बसपा सरकार में ऐसी जुटाई अकूत संपत्ति:...

सहारनपुर में मिर्जापुर का रहने वाला मोहम्मद इकबाल परचून की दुकान से काम शुरू कर आगे बढ़ता गया। कभी शहद बेचा, तो फिर राजनीति में आया और खनन माफिया भी बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -