Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजजामिया का इंजीनियरिंग छात्र 3 देसी पिस्तौल के साथ गिरफ़्तार, व्यापारी को लूटने की...

जामिया का इंजीनियरिंग छात्र 3 देसी पिस्तौल के साथ गिरफ़्तार, व्यापारी को लूटने की थी योजना

ख़ान के दोस्त फ़िलहाल पुलिस की पकड़ से दूर हैं लेकिन उनकी पहचान कर ली गई है और पुलिस के पास पर्याप्त सुराग उपलब्ध हैं जिनकी बदौलत दोनों को जल्द ही ग़िरफ़्तार किया जाएगा

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के एक 20 वर्षीय मैकेनिकल इंजीनियरिंग छात्र को पुलिस टीम ने गिरफ़्तार किया और उसके पास से पुलिस ने तीन देसी पिस्तौल भी बरामद किए। यह घटना बीते मंगलवार (15 जनवरी 2019) की है। पुलिस के मुताबिक़ हिरासत में लिए गए अमन ख़ान ने अपने दो सहयोगी के साथ कथित तौर पर एक व्यापारी को लूटने की साज़िश रची थी।

पुलिस के अनुसार, एक पेट्रोलिंग टीम (गश्त करने वाली पुलिस टीम) मुख्य चाँदनी चौक रोड पर वाहनों की जाँच कर रही थी, तब उनकी नज़र उस आदमी पर पड़ी जब एक आदमी को नीले स्कूटर पर बैठाकर ले जाया जा रहा था। पुलिस उपायुक्त (उत्तरी क्षेत्र) नूपुर प्रसाद ने कहा कि जब गश्त करने वाले वैन के पुलिसकर्मियों ने उसे रुकने का इशारा किया, तो स्कूटर सवार भागने की कोशिश करने लगा और फिर यू-टर्न ले लिया।

इसके बाद पुलिसकर्मी उस आदमी का पीछा करने के लिए अपने वाहन से उतरे। भागने से पहले उन्होंने सड़क पार की और ख़ान को पकड़ लिया। जानकारी के मुताबिक ख़ान पूर्वी दिल्ली के मंडावली क्षेत्र का निवासी है।

गश्त कर रहे पुलिसकर्मियों ने जब ख़ान से पूछा कि वह भागने की कोशिश क्यों कर रहा था, तो वह पुलिस को संतोषजनक जवाब नहीं दे सका। इसके बाद उसे दोपहिया वाहन के दस्तावेज़ दिखाने को कहा गया, लेकिन उसके पास कुछ भी नहीं था। उसके बाद पुलिस ने ख़ान के बैग की जाँच की और इसी जाँच के दौरान तीन देसी पिस्तौल बरामद किए गए। जिसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया।

ख़ान से पूछताछ के बाद पुलिस को पता चला कि वो अपने दोस्तों के साथ मंडावली से एक व्यापारी को लूटने के लिए लाहौरी गेट आया था। इसके बाद ख़ान ने बताया कि उसे व्यापारी द्वारा भारी मात्रा में नकदी ले जाने की ख़बर मिली थी। जिसके बाद उसने उस व्यापारी को लूटने की योजना बनाई।

पुलिस के अनुसार, ख़ान का पिता एक ऑटो-रिक्शा चालक है और उसकी माँ एक गृहिणी है। इसके अलावा पुलिस ने यह भी जानकारी दी कि जिस दोपहिया स्कूटर पर सवारी की जा रही थी वो चोरी की नहीं थी बल्कि ख़ान के ही दोनों दोस्तों में से किसी एक की थी। लूट की इस वारदात को अंजाम देने के लिए इन्हीं तीनों में से किसी एक ने देसी पिस्तौल की व्यवस्था भी की थी। फ़िलहाल पुलिस हथियारों से जुड़ी अधिक जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।

इस घटना को अंजाम दे रहे ख़ान के दोस्त फ़िलहाल पुलिस की पकड़ से दूर हैं लेकिन पुलिस नें जानकारी दी है कि ख़ान के फ़रार दोस्तों की पहचान कर ली गई है। दोस्तों की धर-पकड़ के लिए पुलिस टीम का गठन भी किया जा चुका है। पुलिस ने इस ओर इशारा भी किया कि उनके पास ख़ान के दोस्तों को पकड़ने के लिए पर्याप्त सुराग उपलब्ध हैं जिनकी बदौलत उन्हें जल्द ही ग़िरफ़्तार किया जाएगा।

जामिया मिलिया इस्लामिया के जनसंपर्क अधिकारी अहमद अज़ीम ने कहा कि विश्वविद्यालय को इस वारदात के संबंध में पुलिस से कोई सूचना अब तक नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय अपने स्तर पर इस घटना का अवलोकन करेगा और पुलिस से शिक़ायत मिलने पर ही किसी तरह की कार्रवाई को अंजाम देगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एक गोल्ड मेडल अनवर सरदार को भी’: उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर अनु मलिक की धुनाई

उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के बड़े संगीतकारों में से एक अनु मलिक की लोगों ने धुनाई चालू कर दी।

इंडिया जीता… लेकिन सब गोल पंजाबी खिलाड़ियों ने किया: CM अमरिंदर सिंह के ट्वीट में भारत-पंजाब अलग-अलग क्यों?

पंजाब मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा, ”इस बात को जानकर खुश हूँ कि सभी 3 गोल पंजाब के खिलाड़ी दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने किए।”

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,620FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe