Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजजुमे की नमाज पर भड़काऊ और देश विरोधी तकरीर: अंजुमन-ए-इस्लामिया के अध्यक्ष परवेज शेख...

जुमे की नमाज पर भड़काऊ और देश विरोधी तकरीर: अंजुमन-ए-इस्लामिया के अध्यक्ष परवेज शेख पर FIR

पिछले दिनों दक्षिण कश्मीर के पुलवामा मुठभेड़ स्थल पर सात प्रदर्शनकारियों की मौत के विरोध में अंजुमन-ए-इस्लामिया भद्रवाह ने चिनाब घाटी में हड़ताल का आह्वान किया था। शेख ने इन मौतों को घिनौना कृत्य करार देते हुए निहत्थे नागरिकों के खिलाफ एक खूनी युद्ध की शुरुआत बताया था।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शनिवार (जुलाई 25, 2020) को डोडा में अंजुमन-ए-इस्लामिया, भद्रवाह के अध्यक्ष परवेज अहमद शेख के खिलाफ FIR दर्ज की। परवेज पर शुक्रवार (जुलाई 24, 2020) को जुमे की नमाज के दौरान ‘भड़काऊ और देश विरोधी’ तकरीर का आरोप है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों की अवहेलना करने की वजह से भद्रवाह पुलिस स्टेशन में परवेज अहमद शेख के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। उसके भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 124 ए,153 ए, 505 बी और 188 के तहत मामला दर्ज किया गया है। साथ ही महामारी रोग अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज किया गया है।

डोडा पुलिस के जाँच अधिकारी ने कहा कि परवेज अहमद शेख ने जान-बूझकर भड़काऊ और देश विरोधी भाषण दिया था। इसका मकसद समाज में दरार, अशांति और असंतोष पैदा करना था। फिलहाल मामले की जाँच भद्रवाह पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा की जा रही है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों दक्षिण कश्मीर के पुलवामा मुठभेड़ स्थल पर सात प्रदर्शनकारियों की मौत के विरोध में अंजुमन-ए-इस्लामिया भद्रवाह ने चिनाब घाटी में हड़ताल का आह्वान किया था। शेख ने इन मौतों को घिनौना कृत्य करार देते हुए निहत्थे नागरिकों के खिलाफ एक खूनी युद्ध की शुरुआत बताया था। उसने अलगाववादी नेतृत्व के साथ एकजुटता दर्शाने के लिए हड़ताल की अपील की थी।

बता दें कि कि पुलवामा के सरनु गाँव में आतंकवादियों के साथ हो रही मुठभेड़ के दौरान आतंकवादियों को भागने में सहायता करने के लिए लोगों ने मुठभेड़स्थल के पास प्रदर्शन किया और सुरक्षाबलों पर पथराव किया। हिंसक भीड़ पर काबू पाने के लिए सुरक्षाबलों द्वारा की गई कार्रवाई में सात प्रदर्शनकारी मारे गए था। मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए और एक सैनिक भी इस दौरान वीरगति को प्राप्त हो गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूँ ही कटोरा लेकर नहीं घूम रहा है पाकिस्तान, भारत ने 200% इम्पोर्ट ड्यूटी लगा तोड़ी अर्थव्यवस्था की कमर: पुलवामा हमलों के बाद मोदी...

2019 में भारत ने पाकिस्तान के उत्पादों पर 200% इम्पोर्ट ड्यूटी लगा दी थी। भारत ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी छीन लिया था।

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का इंतकाल, सरकारी मीडिया ने की पुष्टि: हेलीकॉप्टर में सवार 8 अन्य लोगों की भी मौत, अजरबैजान की पहाड़ियों...

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहीम रईसी की एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत हो गई। यह दुर्घटना रविवार को ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत में हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -