Saturday, July 2, 2022
Homeदेश-समाजकश्मीर का यूट्यूबर फैसल वानी गिरफ्तार, कुल्हाड़ी से नुपूर शर्मा का सिर काटने वाला...

कश्मीर का यूट्यूबर फैसल वानी गिरफ्तार, कुल्हाड़ी से नुपूर शर्मा का सिर काटने वाला Video बनाया था

नूपुर शर्मा का सर कलम करने वाले वीडियो में उसने हाथों में कुल्हाड़ी ले रखी थी। वीडियो में वह कहता है, “नो ऐक्शन, नो वॉरंट… सिर्फ और सिर्फ गुस्ताख-ए-रसूल की एक सजा… सर कलम।”

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने यूट्यूबर फैसल वानी को गिरफ्तार कर लिया है। उसने नुपूर शर्मा का सिर कलम करने वाले वीडियो बनाया था। उसे शनिवार (11 जून 2022) को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया। वीडियो वायरल होने के बाद से उसके खिलाफ कार्रवाई की माँग हो रही थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फैसल पर श्रीनगर के सफा कदल पुलिस स्टेशन में IPC की धारा 505 और 506 के तहत केस दर्ज किया गया है। इससे पहले फैसल ने अपने पुराने ट्वीट और वीडियो डिलीट कर माफी माँगते हुए कहा था, “ये सच है कि मैंने एक आपत्तिजनक वीडियो बनाया था। लेकिन मेरा मकसद हिंसा को बढ़ावा देना नहीं था। अगर किसी को भी मेरी वजह से कोई भी तकलीफ पहुँची हो तो मैं तहेदिल से माफी माँगता हूँ।”

फैसल वानी यूट्यूबर होने के साथ-साथ जिम भी चलाता है। उसके यूट्यूब चैनल का नाम ‘डीप पेन फिटनेस’ है। नूपुर शर्मा का सर कलम करने वाले वीडियो में उसने हाथों में कुल्हाड़ी ले रखी थी। वीडियो में वह कहता है, “नो ऐक्शन, नो वॉरंट… सिर्फ और सिर्फ गुस्ताख-ए-रसूल की एक सजा… सर कलम।” इसके बाद वीडियो में ग्राफिक्स के जरिए बनाई गई नूपुर शर्मा की तस्वीर में वह कुल्हाड़ी से गर्दन काट देता है। इसके बाद घृणा के साथ उस कटे गर्दन को उठाता है और दूर फेंक देता है।

वीडियो में वानी तुर्की की इस्लामिक प्रोपेगेंडा सीरीज ‘एर्तुगरुल गाजी’ का म्यूजिक बैकग्राउंड में इस्तेमाल करता है। गाजी के बारे में सीरीज में कहा गया है कि उसने ईसाइयों और अन्य काफिरों को हराकर ऑटोमन साम्राज्य (इस्लामी उस्मानिया सल्तनत) की नींव रखी थी। यह सीरीज पाकिस्तान में खूब प्रचलित हुआ था।

अपने माफीनामा वीडियो में फैसल वानी ने कहा था, “कल रात को मैंने एक वीडियो अपलोड किया था, जो नूपुर शर्मा के बारे में था और VFX से बनाया था। वो वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो गया। इसकी वजह से मैं ‘बेगुनाह’ फँस गया। मेरा कोई भी इंटेंशन (इरादा) नहीं होता है कि मुझे किसी दूसरे धर्म को हर्ट (ठेस पहुँचाऊँ) करूँ, क्योंकि हमारा इस्लाम हमें सिखाता है कि दूसरे धर्म की रेस्पेक्ट (आदर) करो।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe